गर्भावस्था में सही आहार Best Pregnancy Diet Tips Hindi

गर्भावस्था में सही आहार Best Pregnancy Diet Tips Hindi

भले ही आप गर्भावस्था Pregnancy के समय कई प्रकार के Vitamin खा रहें हों लेकिन आपके प्रतिदिन के भोजन में Vitamin की मात्रा सही रूप में होना आवश्यक है। Experts का मानना है की एक गर्भवती महिला को ज्यादा-से-ज्यादा Variety में आहार खाना चाहिए इससे अलग-अलग प्रकार के Vitamin और Minerals बच्चे को माँ के गर्भ में बढ़ने के लिए मदद करते हैं।

गर्भावस्था में सही आहार Best Pregnancy Diet Tips Hindi

गर्भावस्था में किस प्रकार के खाद्य पोषण(Nutrition) की आवश्यता होती है?

एक गर्भवती महिला को ज्यादा से ज्यादा कैल्शियम, फोलिक एसिड, आयरन और प्रोटीन की आवश्यकता होती है।

Folic Acid(फोलिक एसिड)

फोलिक एसिड खाने में पाया जाता है जो होने वाले बच्चे के मस्तिस्क और रीड की हड्डी के विकास में बहुत मदद करता है। वैसे तो फोलिक एसिड की सही मात्र खाद्य पदार्थों से मिलना उतना आसान नहीं है।

इसीलिए डॉक्टर 400 माइक्रो ग्राम फोलिक एसिड टेबलेट प्रतिदिन गर्ववती होने से पहले खाने के लिए कहते हैं।

फोलिक एसिड के लिए खाद्य स्रोत – हरी पत्तियों वाली सब्जियाँ, अनाज, ब्रेड और पास्ता।

Calcium(कैल्शियम)

कैल्शियम एक मिनरल है जो बच्चे की हड्डियों और दांतों के विकास के लिए बहुत आवश्यक होता है। अगर एक गर्भवती महिला सही रूप से कैल्शियम का सेवन नहीं करती है उनके बच्चे के विकास के लिए शारीर माँ के कैल्शियम को बच्चे के शारीर में ट्रान्सफर करता है जो की माँ के लिए सही नहीं होता है।

इसे भी पढ़ें -  नाखूनों को सुंदर रखने के 10 बेहतरीन टिप्स Best Tips for Beautiful Nails in Hindi

19 वर्ष और उससे ज्यादा उम्र की गर्भवती महिलाओं को Pregnancy के दौरान 1000मिलीग्राम कैल्शियम खाना चाहिए।
14-18 वर्ष की गर्भवती महिलाओं को 1300 मिलीग्राम कैल्शियम प्रतिदिन खाना चाहिए।

कैल्शियम की कमी पूरी करने के लिए खाद्य स्रोत –  दूध, दही, पनीर, गोभी

Iron(आयरन)

एक Pregnant Women को गर्भवस्ता के सौरान प्रतिदिन 27 मिलीग्राम Iron की आवश्यकता होती है। ज्यादा से ज्यादा Iron युक्त भोजन या Iron Tonic से बच्चे के शारीर में खून की मदद से ज्यादा से ज्यादा Oxygen मिलता है जिससे बच्चे का विकास सही प्रकार से हो सकता है।

गर्भावस्ता में आयरन की कमी से Anemia, थकान और संक्रमण का ख़तरा बढ़ जाता है।

Loading...

Pregnancy में आयरन की कमी को पूरा करने के लिए खाद्य स्रोत – मांस, अंडा, मछली, सूखी सेमी और मटर।

Protein(प्रोटीन)

Pregnancy के समय गर्भवती महिलाओं और गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए Protein की बहुत आवश्यकता होती है। बच्चे के सभी अंगों के निर्माण और विकास में प्रोटीन की जरूरत होती है।

Pregnancy में प्रोटीन की कमी को पूरा करने के लिए खाद्य स्रोत –मांस, अंडा, मछली, सूखी सेम और मटर, बादाम, टोफू, घी।

Best Pregnancy Nutrition Guide Books Online on Amazon.In (Buy Now by Clicking on Image)

गर्भावस्था में सही आहार Best Pregnancy Diet Tips Hindi
गर्भावस्था में सही आहार Best Pregnancy Diet Tips Hindi
गर्भावस्था में सही आहार Best Pregnancy Diet Tips Hindi
गर्भावस्था में सही आहार Best Pregnancy Diet Tips Hindi

गर्भावस्था में सही आहार Best Pregnancy Diet Tips Hindi

 गर्भावस्था में क्या खायें ? What to eat During Pregnancy Hindi?

सबसे पहले तो Pregnancy के समय यह ध्यान देने का है की क्या खाएं जिससे की सही रूप से ऊपर दिए गए Vitamins और Minerals शारीर में मौजूद रह सकें –

फल और सब्जियाँ Fruit and Vegetables

अपने खाने का पाँचवा भाग फल और सब्जियों के रूप में आहार के रूप में सेवन करें। चाहें वह सुखा हो, जूस हो, फ्रिज में जमाया हुआ हो या पूरी तरीके से फ्रेश हो। गर्भवती महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियों और फल अपने प्रेगनेंसी के दुसरे और तीसरे तिमाही में सेवन करना चाहिए। ऐसी कुछ हरी सब्जियां हैं- पालक, गोभी, गाजर, मटर इत्यादि। 

कम प्रोटीन वाले खाद्य Lean Protein

इसे भी पढ़ें -  इन्फ्रारेड लैंप क्या है? What is Infrared Lamp in Hindi? Use, Benefits & Warnings

एक गर्भवती महिला को सही और अच्छा प्रोटीन स्रोत मिलना बहुत ही जरूरी है। जैसे भेड़ का मांस, मुर्गी का मांस, मछली, अंडे, सेम, टोफू, पनीर, दूध और मेवा, क्रीगर इत्यादि।

अनाज Whole grains

अनाज से शारीर को शक्ति या ताकत मिलती है। यह शारीर में फाइबर, आयरन और विटामिन-बी की कमी को पूरा करता है। किसी भी गर्भवती महिला को आधा से ज्यादा कार्बोहायड्रेट की कमी अनाज से पूरी हो सकती है। कुछ अच्छे अनाज से बने खाद्य सामग्री हैं -दलिया, गहुँ से बना हुआ पास्ता या ब्रेड, ब्राउन राइस इत्यादि।

दुग्ध उत्पाद Dairy Products

दिन में 3-4 बार डेयरी उत्पादों या दुग्ध उत्पादों का सेवन गर्भावस्था में बहुत आवश्यक है। डेयरी उत्पादों से शरीर को कैल्शियम, प्रोटीन और विटामिन-डी मिलता हैडेयरी उत्पादों। कुछ अच्छे दुग्ध उत्पाद हैं – दूध, कम फैट वाला दही, पनीर इत्यादि।

गर्भावस्था में क्या न खायें? What not to eat During Pregnancy?

गर्भावस्था महीला के प्रतिरक्षा प्रणाली को प्रभावित करता है जिसके कारण माँ और बच्चे दोनों को बैक्टीरिया, वायरस या किसी भी अन्य प्रकार के इन्फेक्शन का खतरा बना रहता है। इन्फेक्शन होने का सबसे बड़ा कारण गलत खाना या आहार भी हो सकता है इसलिए हर गर्भवती महिला को यह भी जानना चाहिए की उन्हें किस प्रकार का खाना नहीं खाना चाहिए।

ना उबाले हुए दूध से बने उत्पाद Unpasteurized milk Products

Unpasteurized milk Products में कई प्रकार के बैक्टीरिया जैसे E. coli या Listeria हो सकते हैं। अगर पनीर Pasteurized हो तो आप खा सकते हैं।

कुछ मछलियां जैसे शार्क, स्वोर्डफ़िश इत्यादि

इन मछलियों के शारीर में अधिक पैमंने में मरकरी या पारा पाया जाता है जो बहुत ही हानिकारक होता है।

बहार का खाना Road Side Food

यह काम तो कभी भी करने का ना सोचें। बाहर का खाना कभी भी ना खाएं यह आपके बच्चे और आपके लिए बहुत ही हानिकारक है। Pregnancy के समय में बहार का खाना आपके लिए बैक्टीरियल और वायरल इन्फेक्शन का कारण भी बन सकता है।

इसे भी पढ़ें -  धूम्रपान के हानिकारक स्वास्थ्य प्रभाव Harmful Health Effects of Smoking in Hindi

आपको हमारा यह पोस्ट कैसा लगा ! Comment के माध्यम से हमें जरूर बताएं !

Loading...

12 thoughts on “गर्भावस्था में सही आहार Best Pregnancy Diet Tips Hindi”

  1. MAI 1 MONTH PREGNENT HU KYA BANANA KHA SAKTI HU KYA ?
    MAINE SUNNA HAI BANANA STARTING KE 3 MONTH NAHI KHANA HAI
    YE SAHI HAI YA GALAT

    • yah bil kul galat hai, banana mein calcium aur potassium ke sath sath folic acid ki bharpur matra hoti hai, jiski pregnancy mein bahut jaroorat hoti hai, sath hi pehle trimester mein kuch logon ko motion sikness ki problem hoti hai wo bhi solve hoti hai banana khaane se,

  2. Dear Sir,

    Please share the proper diet plan chart of whole day for first 3 months of pregnant women,which we can take in beakfast, lunch and dinner.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.