अनिल कपूर का जीवन परिचय Anil Kapoor Age Family Son Brother Daughter Career in Hindi

अभिनेता अनिल कपूर का जीवन परिचय Anil Kapoor Age Family Son Brother Daughter Career in Hindi, Anil Kapoor Biography in Hindi

अनिल कपूर हमारे भारत देश के प्रसिद्ध अभिनेता और निर्माता है। अपने बोलने के अलग अंदाज के कारण वे भारतीयों के दिलों में राज़ करते है। उन्होंने कई बॉलीवुड फिल्मों के साथ- साथ ही अंतर्राष्ट्रीय फिल्मों में भी काम किया है। इसके आलावा अनिल कपूर जी ने कई टेलीविजन धारावाहिक में भी काम किया हैं।

उनके करियर के लगभग 46 साल तक वह एक अभिनेता के रूप में काम करते रहे पर 2005 के बाद से उन्होंने एक निर्माता के रूप में भी काम शुरू किया। 1979 में उनकी पहली फ़िल्म ‘हमारे तुम्हारे’ आई फिर 1980 में ‘हम पांच’ और 1982 में फ़िल्म ‘शक्ति’ में उन्होंने काम किया।

अनिल कपूर का जीवन परिचय Anil Kapoor Age Family Son Brother Daughter Career in Hindi, Anil Kapoor Biography in Hindi

प्रारम्भिक जीवन, परिवार और शिक्षा Early life, Family, Education

अनिल कपूर का जन्म 24 दिसंबर 1956 में मुंबई के उपनगर चेम्बूर में हुआ था। उन्होंने अपनी प्रारभिक शिक्षा लेडी सुक्कौर हाई स्कूल से की और स्नातक सेंट ज़ेवियर कॉलेज से पूरा किया। फिल्म निर्माताओं के परिवार में जन्मे, अनिल ने पुणे में ‘फिल्म एंड टीवी इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया’ (एफ टी आई आई) से भी स्नातक की डिग्री प्राप्त की।

परिवार Family

उनके पिता का नाम सुरिंदर कपूर है, जो कि एक फिल्म निर्माता थे और माँ का नाम निर्मल कपूर था। भाई बोनी कपूर भी फिल्म निर्माता है। उनके एक छोटे भाई है जिनका नाम संजय कपूर है वह भी एक अभिनेता है। उनकी भाभी श्रीदेवी एक बॉलीवुड अभिनेत्री थी, जो अब इस दुनिया में नहीं रही।

वह भी 1980 और 1990 के दौरान बॉलीवुड सुपर स्टार रह चुकी हैं। अनिल कपूर की शादी सुनीता कपूर से हुई थी। वह एक गहने की कलाकार है और उनके तीन बच्चे भी है। उनकी बड़ी बेटी सोनम कपूर भी एक अभिनेत्री है और उनकी दूसरी बेटी रिहा कपूर और बेटा हर्षवर्धन है।

कैरियर Career

उन्होंने अपने कैरियर की शुरुआत 1979 में एक छोटे से किरदार में फ़िल्म ‘हमारे तुम्हारे’ से की थी। फ़िल्म ‘वो सात दिन’ में वे पहली बार प्रमुख किरदार में सबके सामने आये और उसमें उनका कार्य बहुत ही सराहनीय रहा।

1985 की फ़िल्म ‘मेरी जंग’ उनके कैरियर का एक नया रूप लेकर आई और तब जावेद अख्तर ने उनके हुनर को पहचाना और निर्माता रमेश सिप्पी की फ़िल्म ‘सतरंज’ के लिए अनिल कपूर का नाम बताया। इस किरदार को पहले जावेद जाफ़री करने वाले थे, फिर इस फ़िल्म का शीर्षक बदलकर ‘मेरी जंग’ रखा गया और इसमें मुख्य किरदार के रूप में अनिल कपूर को लिया गया।

इसे भी पढ़ें -  जेफ बेजोस का जीवन परिचय Jeff Bezos Biography in Hindi

1986 में आई फ़िल्म ‘चमेली की शादी’ में उन्होंने एक गीत भी गाया। 1989 में उन्होंने ‘चांदनी’ में काम किया। कर्म (1986), जनबाज़ (1986), आप के साथ (1986), 1987 में उन्होंने श्री भारत जैसी कई फ़िल्में की और बाद में ‘मिस्टर इंडिया’ आई जिसमें पहले अमिताभ बच्चन को लिया गया था पर बाद में अनिल कपूर ने उसमें काम किया और देश भर के लोग उन्हें मिस्टर इंडिया के नाम से बुलाने लगे।

1988 में उनकी फ़िल्म ‘तेज़ाब’ आई और उसी वर्ष उनकी एक और सफल फ़िल्म ‘बेटा’ आई जिसमें उन्होंने माधुरी दीक्षित के साथ काम किया। 1991 में ‘लम्हे’, ‘घर हो ते ऐसा’ (1990) , अभय (1990), बनाम बादशाह (1991), और विरासत (1997)। जिसके लिए उन्होंने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए फिल्मफेयर क्रिटिक्स अवार्ड जीता। 1998 में ‘झूट बोले कौवा काटे’, फिर  ‘ताला’ (1999), जिसके लिए उन्होंने अपना दूसरा फिल्म फेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता पुरस्कार जीता।

पुकार (2000), जिसके लिए उन्होंने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए एक राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता; नो एंट्री (2005) और दिल धडकने दो (2015) जिसके लिए उन्होंने अपना तीसरा फिल्म फेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता पुरस्कार जीता। 2007 में सलाम ऐ इश्क़ जैसी फिल्मों में काम किया।

फ़िल्म नायक में उन्होंने जो मुख्यमंत्री का किरदार निभाया वह लोगों के दिलों को छू गया, इसतरह उन्होंने अपने कैरियर में कई पुरस्कार जीते हैं, जिसमें दो राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और विभिन्न अभिनय श्रेणियों में छह फिल्म फेयर पुरस्कार शामिल हैं। इस तरह अनिल कपूर ने खुद को भारतीय सिनेमा के सबसे लोकप्रिय अभिनेताओं में से एक के रूप में स्थापित कर लिया।

अनिल कपूर का सम्मान  Honor to Anil Kapoor

  • 1997 में उन्हें आन्द्रप्रदेश सरकार द्वारा नाता कलारत्न के पुरूस्कार द्वारा सम्मानित किया गया।
  • 2002 में उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा अवध सम्मान दिया गया।

निर्माता के रूप में अनिल कपूर Anil Kapoor’s as a Producer

2002 में, अनिल कपूर ने अपनी पहली कॉमेडी फिल्म ‘बधाई हो बधाई’ का निर्माण किया, जिसमें उन्होंने भी अभिनय किया। इसके बाद ‘माई वाइफ्स मर्डर’ (2005), और गांधी, माई फादर (2007) का निर्माण किया उनकी यह फ़िल्म महात्मा गांधी और उनके बेटे हरिलाल गांधी के बीच संबंधों पर केंद्रित थी और उन्हें इसके लिये राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

उन्होंने फिल्म शॉर्टकट को बनाया। उन्होंने 2010 में आयसा का निर्माण किया, जिसमें उनकी बेटी सोनम कपूर और अभय देओल ने प्रमुख भूमिकाओं में अभिनय किया। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर मामूली प्रदर्शन किया।  

अनिल कपूर की कुछ निजी बातें Personal Life

अनिल कपूर धर्म से हिन्दू है। उनके बाल और आँखों का रंग काला है। उनको खाने में मूली पसंद है। वे अल्कोहल का सेवन नहीं करते है। वे चित्रकारी के शौक़ीन है। उनकी पसंदीदा अभिनेत्री श्री देवी है। उनको कला, सफ़ेद रंग पसंद है। वह अपने परिवार से वेहद प्यार करते है।    

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.