डॉ. बी. आर. अम्बेडकर के अनमोल कथन Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi

इस आर्टिकल में हमने डॉ. बी. आर. अम्बेडकर जी के सबसे बेहतरीन 51 अनमोल कथन (Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi) बताये हैं।

डॉ. बी. आर. अम्बेडकर के सुविचार

1)”The reason why Broken Men only became Untouchables was because in addition to being Buddhists, they retained their habit of beef-eating, which gave additional ground for offense to the Brahmins to carry their new-found love and reverence to the cow to its logical conclusion.”
#” सबसे ज्यादा संख्या मे सताए हुए लोग अछूत क्यों कहे गए क्योंकि बौद्ध धर्म के अनुयायी होने के अलावा, उन्होने अपनी गाय के मांस को खाने की आदत को बनाये रखा, जिसकी वजह से ब्राह्मण अपने चहेते जानवर की रक्षा करने के बहाने उनका और अधिक विरोध करने लगे। “

2)” Why is it that a large majority of Hindus do not inter-dine and do not inter-marry? Why is it that your cause is not popular? There can be only one answer to this question, and it is that inter-dining and inter-marriage are repugnant to the beliefs and dogmas which the Hindus regard as sacred.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” ऐसा क्यों है कि हिन्दुओ की एक बड़ी जनसंख्या आपस मे बैठ कर खाना नहीं खाते या फिर एक दूसरे के परिवार मे शादी नहीं कर सकते? ऐसा क्यों है कि आपके नियम इतने पसंद नहीं किए जाते? इस प्रश्न का सिर्फ एक ही उत्तर हो सकता है और वह यह है कि साथ बैठकर खाना खाना और आपस मे विवाह करना, यह हिन्दुओं के उन विश्वासों और नीतियों के खिलाफ है जिन्हें वे पवित्र कहते हैं। “

3)” An ideal society should be mobile, should be full of channels for conveying a change taking place in one part to other parts. In an ideal society, there should be many interests consciously communicated and shared.”
#”इक आदर्श समाज गतिशील होता है, यह ऐसे माध्यमों से भरा होना चाहिए, जिसकी सहायता से उस समाज के किसी एक कोने मे हो रहे बदलावों को अन्य कोनों तक पहुंचने मे आसानी हो। एक आदर्श समाज मे बहुत सारी ऐसी रुचियाँ होनी चाहिए जो चेतना से भरी हुई हो और जो दूसरों के साथ साझा भी की जाएँ। “

4)” Every man who repeats the dogma of Mill that one country is no fit to rule another country must admit that one class is not fit to rule another class.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#”हर वो व्यक्ति जो मिल के इस सिद्धांत को दोहराता है जो कहता है कि एक देश के ऊपर किसी दूसरे देश का शासन नहीं होना चाहिए, ठीक वैसे ही उसे यह भी स्वीकार करना चाहिए कि एक वर्ग का दूसरे वर्ग के ऊपर शासन करना भी सर्वथा अनुचित है। “

5)” Religion and slavery are incompatible.”
#” धर्म और दासता दोनों ही असंगत हैं। “

6)” Some men say that they should be satisfied with the abolition of untouchability only, leaving the caste system alone. The aim of abolition of untouchability alone without trying to abolish the inequalities inherent in the caste system is a rather low aim.”
#”कुछ लोग कहते हैं कि उन्हें छुआ छूत की समाप्ति तक ही रुक जाना चाहिए और जाति प्रथा को बने रहने देना चाहिए। समाज मे व्याप्त असमानताओं के खात्मे के प्रयास के बिना सिर्फ छुआ छूत को समाप्त करने की सोच को एक बहुत ही निम्न लक्ष्य कहा जाएगा। “

7)” Caste may be bad. Caste may lead to conduct so gross as to be called man’s inhumanity to man. All the same, it must be recognized that the Hindus observe Caste not because they are inhuman or wrong-headed. They observe Caste because they are deeply religious.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” जाति बुरी हो सकती है। जाति एक ऐसे आचरण की तरफ ले जा सकती है जिसे एक मानव का दूसरे मानव पर अमानवीय व्यवहार कहा जाएगा। हमे यह जानने की जरूरत है कि हिंदू जाति मे विश्वास रखते हैं इसलिए नहीं कि वे अमानवीय है या गलत सोच रखते है बल्कि इसलिए क्योंकि उन्हें अपने धर्म पर अटूट विश्वास है। “

8)” Religion must mainly be a matter of principles only. It cannot be a matter of rules. The moment it degenerates into rules, it ceases to be a religion, as it kills responsibility which is an essence of the true religious act.”
#” धर्म प्रमुख रूप से सिर्फ सिद्धांतों का ही मसला है। यह नियमों पर नहीं चलता। जिस क्षण यह नियमों पर चलने लगेगा, उसी वक़्त धर्म के रूप मे इसका महत्व कम हो जाएगा, क्योंकि यह हमेशा जिम्मेदारी को नकारता है, जो कि किसी भी सच्चे धार्मिक कार्य के लिए अनिवार्य होता है। “

9)” Some people think that religion is not essential to society. I do not hold this view. I consider the foundation of religion to be essential to the life and practices of a society.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” कुछ लोगों को लगता है कि समाज में धर्म की अधिक आवश्यकता नहीं है। मेरा ऐसा मानना नहीं है। मैं समझता हूं कि किसी धर्म की स्थापना जीवन के लिए और समाज के कार्यों के लिए अत्यधिक आवश्यक है। “

10)” Indeed, the Muslims have all the social evils of the Hindus and something more. That something more is the compulsory system of purdah for Muslim women. These burka women walking in the streets is one of the most hideous sights one can witness in India.” 
#” निस्संदेह, मुस्लिम धर्म मे हिन्दू धर्म की सामाजिक बुराईयों के अलावा और भी अन्य बुराइयाँ हैं। इन अन्य बुराईयों मे जैसे कि मुस्लिम महिलाओं के लिए अनिवार्य पर्दा प्रथा है। ये बुर्का से छुपी हुई महिलाएँ सड़कों पर चलती हुई, भारत के सबसे छुपे हुए रहस्यों मे से एक है। “

इसे भी पढ़ें -  सुकन्या समृद्धि योजना Sukanya Samriddhi Yojana Account details in hindi

11)” So long as you do not achieve social liberty, whatever freedom is provided by the law is of no avail to you.”
” जब तक कि आप सामजिक स्वतंत्रता हासिल नहीं कर लेते हैं, तब तक किसी भी कानून द्वारा आपको दिलाई गई आजादी का कोई अर्थ नहीं है। “

12)” In Hinduism, conscience, reason and independent thinking have no scope for development.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” हिन्दू धर्म मे, चेतना, कारण और स्वतंत्र सोच के विकास का कोई भविष्य नहीं है। “

13)” What are we having this liberty for? We are having this liberty in order to reform our social system, which is full of inequality, discrimination and other things, which conflict with our fundamental rights.”
#” हमे यह आजादी किस लिए मिली है? हमे यह आजादी मिली है जिससे कि हम अपनी सामजिक प्रणाली मे कुछ सुधार ला सके, जो कि अभी पूरी तरह से असमानता, भेद भाव और अन्य ऐसी कुरीतियों से ग्रस्त है जो हमारे मूल नागरिक अधिकारों के बिल्कुल विपरीत हैं। “

14)” To my mind, there is no doubt that this Gandhi age is the dark age of India. It is an age in which people, instead of looking for their ideals in the future, are returning to antiquity.”
#” मेरे मन मे इस बात को लेकर जरा भी संदेह नहीं है कि यह गांधी युग भारत का एक सबसे अंधकारमय युग है। यह एक ऐसा समय है जिसमें कि अपने भविष्य के आदर्शो की ओर देखने की बजाय, लोग पुरातन समय की ओर जा रहे हैं। “

15)” No Hindu community, however low, will touch cow’s flesh. On the other hand, there is no community which is really an Untouchable community which has not something to do with the dead cow. Some eat her flesh, some remove the skin, some manufacture articles out of her skin and bones.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” कोई भी हिन्दू सम्प्रदाय, भले ही वह कितना भी निचला हो, कभी भी वह गाय के मांस को छुएगा भी नहीं। वहीं दूसरी ओर, ऐसा कोई भी सम्प्रदाय नहीं है, जो अछूत  हो और उसका मृत गाय के शरीर से कोई लेना देना ना हो। कुछ उसका मांस खाते हैं, कुछ उसकी चर्बी निकाल लेते है और उनमे से कुछ उसकी खाल और हड्डियों से अलग अलग सजावट की चीज़े बनाते हैं। “

16)” However good a Constitution may be, if those who are implementing it are not good, it will prove to be bad. However bad a Constitution may be, if those implementing it are good, it will prove to be good.”
#” कोई संविधान भले ही कितना अच्छा क्यूँ ना हो, अगर जो लोग इसका पालन करते हैं वे अच्छे नहीं हैं, तो यह संविधान भी गलत ही सिद्ध हो जाता है। और कोई संविधान भले ही कितना बुरा क्यूँ ना हो, अगर उसका पालन करने वाले लोग अच्छे हैं तो यह संविधान भी अच्छा ही साबित होगा। “

17)” A people and their religion must be judged by social standards based on social ethics. No other standard would have any meaning if religion is held to be necessary good for the well-being of the people.”
#” किसी व्यक्ति तथा उसके धर्म को हमेशा उसके सामजिक आचरण पर आधारित सामाजिक पैमाने से ही मापना चाहिए। किसी अन्य पैमाने का कोई अर्थ ही नहीं रह जाएगा अगर उसका धर्म लोगों की भलाई के लिए अच्छा बना रहना सिखाता है। “

18)” Political tyranny is nothing compared to the social tyranny and a reformer who defies society is a more courageous man than a politician who defies Government.”
#” सामाजिक अत्याचार के समक्ष राजनीतिक अत्याचार कुछ भी नहीं है और एक सुधारक जो समाज को चुनौती देता है, वह उस एक राजनीतिज्ञ से कहीं अधिक साहसी है जो कि सिर्फ एक सरकार को ही चुनौती देता है। “

19)” Law and order are the medicine of the body politic and when the body politic gets sick, medicine must be administered.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” क़ानून और व्यवस्था राजनीतिक शरीर की दवा होते हैं और यह शरीर बीमार पड़ता है, तो उसे दवा लेनी ही पड़ती है। “

20)” Caste is not a physical object like a wall of bricks or a line of barbed wire which prevents the Hindus from co-mingling and which has, therefore, to be pulled down. Caste is a notion; it is a state of the mind.”
#” जाति ईंटों की दीवार या फिर काँटेदार तारों की लाइन की तरह भौतिक नहीं है, जो कि हिंदुओं को आपस से मिलने से बचाती है और इसीलिए जिसे समाप्त करना जरूरी है। जाति एक धारणा है ; यह मस्तिष्क की एक स्थिति है। “

21)” The sovereignty of scriptures of all religions must come to an end if we want to have a united integrated modern India.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” अगर हम एक अखंड आधुनिक भारत की स्थापना चाहते हैं तो सभी धर्मों के शास्त्रों की संप्रभुता को पूर्णतः खत्म करना होगा। “

22)” Men are mortal. So are ideas. An idea needs propagation as much as a plant needs watering. Otherwise both will wither and die.”
#”मानव की मृत्यु हो सकती है और विचारों की भी। एक विचार को आगे बढ़ाने की उतनी ही जरूरत होती है जितनी कि एक पौधे को पानी देने की होती है। अन्यथा दोनों ही सूख जाएंगे और मर जाएंगे। “

23)” Cultivation of mind should be the ultimate aim of human existence.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” मस्तिष्क को विकसित करना मानव अस्तित्व का एकमात्र लक्ष्य होना चाहिए।” 

24)” I measure the progress of a community by the degree of progress which women have achieved.”
#” मैं किसी समाज की प्रगति को उसके महिलाओं द्वारा अर्जित प्रगति की डिग्री से मापता हूं। “

इसे भी पढ़ें -  गुलज़ार साहब की शायरी हिन्दी में Best Gulzar Sahab Shayri in Hindi

25)” People are not wrong in observing Caste. In my view, what is wrong is their religion, which has inculcated this notion of Caste. If this is correct, then obviously the enemy, you must grapple with is not the people who observe Caste, but the Shastras which teach them this religion of Caste.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” लोग जाति का गलत निरीक्षण नहीं कर रहें। मेरे विचार में, उनके धर्म मे कमी है जिस कारण उसमे जाति की धारणा का विकास हुआ। अगर आपको दुश्मन का पता करना है, तों यह वे लोग नहीं जो जाति को मानते हैं, बल्कि वे शास्त्र हैं जो उन्हें जाति वाले धर्म का पाठ सिखाते हैं। “

26)” History shows that where ethics and economics come in conflict, victory is always with economics. Vested interests have never been known to have willingly divested themselves unless there was sufficient force to compel them.”
#” इतिहास गवाह है कि जब भी नीति और अर्थ मे जंग हुई है, जीत हमेशा अर्थ को ही मिली है। किसी चीज मे निहित हितों को कभी भी अपनी इच्छा से अलग होते नहीं देखा गया है, जब तक कि उस किसी तरह का अत्यधिक बल ना लग रहा हो। “

27)” My social philosophy may be said to be enshrined in three words: liberty, equality and fraternity. Let no one, however, say that I have borrowed by philosophy from the French Revolution. I have not. My philosophy has roots in religion and not in political science. I have derived them from the teachings of my Master, the Buddha.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” मेरी सामाजिक समझ तीन शब्दों मे समझी जा सकती है : स्वतंत्रता, समानता, एवं भाई चारा। भले ही कोई ये कहे कि मेरा ये दर्शन फ्रांसीसी क्रांति से लिया गया है, परन्तु ऐसा नहीं है। मेरे दर्शन की जड़ें धर्म मे है राजनीति विज्ञान मे नहीं। मैंने उन्हें अपने प्रभु की शिक्षा मे से लिया है, मेरे प्रभु हैं महात्मा बुद्ध। “

28)” A great man is different from an eminent one in that he is ready to be the servant of the society.”
#” एक महान व्यक्ति किसी प्रख्यात व्यक्ति से अलग होता है क्योंकि वह समाज की सेवा करने के लिये हमेशा तैयार रहता है। “

29)” Political democracy cannot last unless there lies at the base of it social democracy. What does social democracy mean? It means a way of life which recognizes liberty, equality and fraternity as the principles of life.”
#” राजनीतिक लोकतंत्र तब तक टिक नहीं सकता जब तक कि इसके नीव मे सामाजिक लोकतंत्र ना हो। सामाजिक लोकतंत्र का अर्थ क्या होता है? यह जिंदगी जीने का एक तरीका है जो स्वतंत्रता, समानता और भाई चारे को जीवन के सिद्धांतों के रूप में पहचान प्रदान करता है। “

30)” Democracy is not merely a form of government. It is primarily a mode of associated living, of conjoint communicated experience. It is essentially an attitude of respect and reverence towards fellow men.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#”लोकतंत्र सिर्फ प्रशासन का एक स्वरूप ही नहीं है। यह साथ रहने की एक प्रमुख पद्दति है, जो कि समान संचार को शामिल करता है। यह अनिवार्य रूप से साथी लोगों के प्रति सम्मान और श्रद्धा का एक भाव दर्शाता है। “

31)” Unlike a drop of water which loses its identity when it joins the ocean, man does not lose his being in the society in which he lives. Man’s life is independent. He is born not for the development of the society alone, but for the development of his self.”
#” उस पानी की बूंद की तरह, जो समुद्र से मिलने पर अपनी पहचान खो देती है, मनुष्य ऐसा नहीं होता है, जिस समाज में वह रहता है उससे मिलने पर वह अपनी पहचान नहीं खोता। मनुष्य का जीवन स्वतंत्र है। वह सिर्फ इस समाज के विकास के लिए पैदा नहीं हुआ है, बल्कि अपने स्वयं के विकास के लिए। “

32)” If I find the constitution being misused, I shall be the first to burn it.”
#” अगर कहीं पर संविधान का दुरूपयोग किया जा रहा है, तो मैं इसे जलाने वाला पहला व्यक्ति होगा।” 

33)” The relationship between husband and wife should be one of closest friends” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” पति और पत्नी के बीच का रिश्ता घनिष्ठ मित्रों के रिश्ते जैसा ही होना चाहिए।” 

34)”Equality may be a fiction but nonetheless one must accept it as a governing principle.” 
#” समानता भले ही एक कपोल – कल्पना लगे, मगर फिर भी व्यक्ति को इसे एक प्रशासनिक सिद्धांत के रूप मे स्वीकार करना चाहिए।” 

35)”A bitter thing cannot be made sweet. The taste of anything can be changed. But poison cannot be changed into nectar.” 
#” एक कड़वी वस्तु को मीठा नहीं बनाया जा सकता। किसी भी चीज का स्वाद तो बदला जा सकता है लेकिन कभी भी जहर को मधु रस नहीं बनाया जा सकता है।” 

36)”Humans are mortal. So are ideas. An idea needs propagation as much as a plant needs watering. Otherwise both will wither and die.”  – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” मनुष्य की मृत्यु हो सकती है ठीक उसी तरह विचार भी खत्म हो जाते हैं। एक विचार को जीवित रखने के लिए उसे आगे बढ़ाना जरूरी है ठीक उसी तरह जैसे किसी पौधे के जीवन के लिए उसे पानी देना जरूरी है। अन्यथा दोनों ही मुरझाने के कारण मर जाएंगे। “

37)”So long as you do not achieve social liberty, whatever freedom is provided by the law is of no avail to you.” 
#”  जब तक कि आपको सामाजिक आजादी प्राप्त नहीं हो जाती है तब तक कानून द्वारा दी गई आजादी का कोई औचित्य नहीं है।” 

38)”Lost rights are never regained by appeals to the conscience of the usurpers, but by relentless struggle…. Goats are used for sacrificial offerings and not lions.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” खोए हुए अधिकार कभी भी चेतना के लुटेरों से अपील करने से नहीं मिलेंगे, बल्कि सतत संघर्ष से ही ऐसा मुमकिन है… बलि देने के लिए हमेशा बकरी को ही पकड़ा जाता है, शेरों की कभी बलि नहीं दी जाती। “

इसे भी पढ़ें -  प्रेरणादायक सकारात्मक सुविचार Best Inspirational Positive Thoughts in Hindi

39)”Constitution is not a mere lawyers document, it is a vehicle of Life, and its spirit is always the spirit of Age.” 
#” संविधान सिर्फ वकीलों का ही एक पत्र नहीं है, यह जीवन का पहिया है और इसकी आत्मा हमेशा से ही युग की आत्मा है।” 

40)”It is not enough to be electors only. It is necessary to be law-makers; otherwise those who can be law-makers will be the masters of those who can only be electors.”
#” सिर्फ वोटर होना ही काफी नहीं है। कानून का खुद से निर्माण करना भी आवश्यक है ; अन्यथा जो लोग कानून बनाने वो स्वयं को वोटरों का मालिक बना कर शासन करेंगे। “

41)” Democracy is not merely a form of Government. It is primarily a mode of associated living, of conjoint communicated experience. It is essentially an attitude of respect and reverence towards our fellow men.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” प्रजातंत्र सिर्फ सरकार का एक रूप ही नहीं है। यह संयुक्त रूप से रहने की एक विधि है, जिसमें सभी के अनुभव एक जैसे होते हैं। यह निश्चित रूप से बाकी लोगों के प्रति हमारे अच्छे बर्ताव और सम्मान को प्रदर्शित करने का एक तरीका है। “

42)” Slavery does not merely mean a legalized form of subjection. It means a state of society in which some men are forced to accept from others the purposes which control their conduct.”
#” दासता सिर्फ गुलाम बनाने का एक कानूनी रूप नहीं है। इसका मतलब एक ऐसे समाज से है जिसमें कुछ लोग दूसरों पर अपने हित में होने वाले कार्य करने का लक्ष्य थोप देते हैं। “

43)” I refuse to join with them in performing the miracle—I will not say trick—of liberating the oppressed with the gold of the tyrant, and raising the poor with the cash of the rich.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” मैं उनके साथ चामत्कारिक गतिविधियों मे शामिल होने से मना करता हूं – मैं कोई चतुराई भरे शब्द कहकर – दबे हुए लोगों को अत्याचारी के सोने से मुक्ति नहीं दिलाऊंगा और गरीब को अमीर के धन से पोषित नहीं करूंगा। “

44)” If you ask me, my ideal would be the society based on liberty, equality and fraternity. An ideal society should be mobile and full of channels of conveying a change taking place in one part to other parts.”
#” अगर आप मुझसे पूछेंगे, तो मैं कहूँगा कि मेरे आदर्श स्वतंत्रता, समानता और भाई चारा हैं। एक आदर्श समाज को गतिशील होना चाहिए और ऐसे साधनो से भरा होना चाहिए जिसमें समाज के एक हिस्से मे हो रहे बदलाव से उसी समाज को कोई दूसरा हिस्सा अछूता ना रह जाए। “

45)” For a successful revolution, it is not enough that there is discontent. What is required is a profound and thorough conviction of the justice, necessity, and importance of political and social rights.”
#” एक सफल क्रांति करने के लिए सिर्फ असंतुष्टि और आक्रोश का होना ही काफी नहीं है। न्याय, आवश्यकता और राजनीतिक तथा सामाजिक अधिकारों के एक गहन और गंभीर अध्ययन होना भी जरूरी है। “

46)” Law and order are the medicine of the politic body and when the politic body gets sick, medicine must be administered” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” एक समाज की औषधि हैं कानून और व्यवस्था और जब यही समाज बीमारियो से ग्रस्त हो जाता है तो औषधि से उसका इलाज करना जरूरी हो जाता है।” 

47)” The outcaste is a bye-product of the caste system. There will be outcastes as long as there are castes. Nothing can emancipate the outcaste except the destruction of the caste system.” 
#”  जाति से निष्कासित करना जाति व्यवस्था का ही एक परिणाम है। जब तक समाज मे जातियां रहेंगी तब तक कुछ जातियां हमेशा निष्कासित करी जाती रहेंगी। इस निष्कासित जाति की स्वतंत्रता का एकमात्र तरीका जाति व्यवस्था को ही खत्म करना है। “

48)” Every man must have a philosophy of life, for everyone must have a standard by which to measure his conduct. And philosophy is nothing but a standard by which to measure.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” हर व्यक्ति के पास एक जीवन दर्शन होना ही चाहिए, औऱ हर व्यक्ति के आचरण का एक पैमाना होना चाहिए। और दर्शनशास्त्र और कुछ नहीं इसे मापने का एक पैमाना ही है। “

49)”One cannot have any respect or regard for men who take the position of the reformer and then refuse to see the logical consequences of that position, let alone following them out in action.” 
#” उस व्यक्ति का कोई सम्मान नहीं कर सकता जो कि एक सुधारक के पद पर विराजित है और फिर वह उस पद के तार्किक परिणामों को नजर अंदाज करे, ऐसे लोगों को तुरंत ही हटा देना चाहिए। “

50)”The basic idea underlying religion is to create an atmosphere for the spiritual development of the individual.” – Dr. B. R. Ambedkar Quotes in Hindi
#” धर्म के अंतर्गत मुख्य विचार एक ऐसे माहौल का निर्माण करना है जिसमें किसी व्यक्ति का आध्यात्मिक विकास हो सके।” 

51)”A just society is that society in which ascending sense of reverence and descending sense of contempt is dissolved into the creation of a compaspsionate society” 
#” एक समाज वह है जिसमें श्रद्धा का बढ़ता हुआ भाव और निंदा का कम होता हुआ भाव, ये दोनों ही एक करुणा से भरे समाज के निर्माण मे शामिल हो जाते हैं।” 

Image Source – Wikimedia

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.