फैशन पर निबंध Essay on Fashion in Hindi

फैशन पर निबंध Essay on Fashion in Hindi

फैशन एक बदलाव है जो हमेशा हमें नए पन का एहसास दिलाता है। यह हर दौर में अपने साथ एक चलन लेकर चलता है जिसे फैशन कहते हैं जैसा कि- कपड़े, हेयर स्टाइल, मेकअप आदि यह सब पुराने नहीं होते बल्कि बदलाव के साथ-साथ इसमें भी कुछ नए प्रयोग किये जाते हैं|

फैशन पर निबंध Essay on Fashion in Hindi

आज की दुनिया में फैशन बहुत तेजी से अपना रुप बदल रहा है- इसलिए फैशन की दुनिया में बने रहना है तो हमेशा सजग रहना होगा। अपने आप को बदलने के लिए भी हमेशा तैयार रहना होगा क्योंकि अगर आप अपने काम को लेकर सजग नहीं रहेंगे, आने वाले फैशन की नए चीजों के बारे में जल्दी नहीं जान पाएँगे तो आप फैशन की दुनिया से बाहर हो जाएँगे।

इसलिए अपने क्षेत्र में होने वाले तकनीकी बदलाव को भी अच्छी तरह जाने और समझे। फैशन की इस दुनिया में आज जो छाया हुआ है जरूरी नहीं वह कल भी टिका रहे क्योंकि फैशन के इस बाजार में धीरे-धीरे बदलाव नहीं आता। वह तो अचानक आता है और एकाएक गायब हो जाता है।

उदाहरण

फैशन में हो सकता है कि आज कॉटन का पैन्ट है, कुछ ही समय में लेदर पैन्ट की माँग शुरू हो जाए। इसलिए हर समय अपने आप को प्रकृति के बदलते रूप को देखते हुए हमेशा अपडेट रखने की कोशिश होनी चाहिए।

कड़ी मेहनत और लगन

फैशन की दुनिया में कभी किसी का नकल नहीं करना चाहिए। किसी के कहने पर कोई काम नहीं करना चाहिए, क्योंकि अगर आप अपना काम किसी दूसरे को देखकर करेंगे तो उस समय आप अपने काम करने के तरीके को भूल जाएँगें। ऐसा कहे कि आप सोचना बंद कर देंगे तो आपके काम दूसरे फैशन कलाकारों से अलग नहीं हो सकता।

आप भी सभी की तरह दिखेंगे क्योंकि आपने तो दूसरे का देख कर अपना फैशन बदला है। एक अच्छा कलाकार तो वही है, जो पहले से बनाये नियम को छोड़कर आगे बढ़कर कुछ नया करने की कोशिश करें।

जोखिम लेने से पीछे ना रहे

फैशन के बाजार में आप कितनी कठिनाइयों का सामना कर सकते हैं यह आप पर निर्भर करता है। किसी भी चीज को बदलने से पहले आपके इरादे मजबूत होने चाहिए। फैशन की दुनिया में आगे आ रहे आज की युवा डिजाइनरों को पहले रैंप वॉक के लिए बहुत ही मेहनत और लग्न की जरूरत होती है।

कभी हिम्मत नहीं हारना चाहिए क्योंकि पहली बार में मुश्किल लग सकता है। कभी-कभी अपनी सीमा से आगे बढ़कर कुछ काम करना चाहिए, अपने आत्मविश्वास को भी मजबूत रखना चाहिए।

नई चीजों की खोज

हर कलाकार के लिए यह जरूरी है कि फैशन की दुनिया में चल रहे बदलाव, उसकी अर्थव्यवस्था तथा राजनैतिक परिदृश्य से अच्छी तरह वाकिफ रहे। अगर आप सोचते हैं कि एक कलाकार इस फैशन की दुनिया में सिमटकर सफल हो सकता है तो आप गलत सोचते हैं क्योंकि हर डिजाइनर को हर दिन अपनी जानकारी को अपडेट करते रहना चाहिए। उन्हें हर रोज अखबार पढ़ना चाहिए तथा टेलीविजन से भी जानकारी लेनी चाहिए।

मजबूत आत्मविश्वास

सभी कलाकारों को अपने काम तथा बदलते स्वरूप को लेकर अपने हिम्मत और आत्मविश्वास को हमेशा मजबूत रखना चाहिए। एक युवा डिजाइनर को हमेशा अपने अंदर के कला को उभार कर दुनिया के सामने दिखाने का साहस रखना चाहिए, जो किसी स्कूल में नहीं सिखाया जा सकता है। आत्मविश्वास जैसी चीज अपने अंदर खुद बनानी पड़ती है।

काम में रुचि

किसी भी काम को करने के लिए व्यक्ति की उसमें रुचि होना बहुत ही जरूरी है। आपको अपने काम में कुछ तो नया और दूसरों से अलग करना चाहिए। आपका परिधान भी नया, दूसरों से अलग तथा आकर्षक होना चाहिए। जिससे लोगों का ध्यान आपकी तरफ आकर्षित हो सके।

अपनी शासन या काम की गुणवत्ता को पूरे दिल से तैयार करें, काम के साथ बिल्कुल भी समझौता नहीं करना चाहिए। एक कलाकार को अपने काम को पूरी इमानदारी के साथ करना चाहिए। फैशन जैसी चीज को स्कूल से पढ़ाई कर लेने का यह मतलब नहीं है कि आप सब कुछ सीख गए क्योंकि फैशन की दुनिया में कोई भी चीज स्थिर नहीं है यहां तो हर दिन कुछ नया देखने को मिलता है ।

सही सामग्री वस्तु का चुनाव

फैशन से संबंधित जरूरी चीजों को ही जानना काफी नहीं है बल्कि एक डिजाइनर को यह भी पता होना चाहिए कि उसे बनाने का तरीका क्या है, यह बनता कैसे हैं। उनको यह भी पता होना चाहिए कि किस तरह का कपड़ा अपने काम में प्रयोग करना है। डिजाइनर को अपने काम को पूरा करने के लिए सही सामग्री को पहचानने में कभी गलती नहीं करनी चाहिए। उसे काम को स्टार्ट करने से पहले पर्याप्त सामग्री जांच लेनी चाहिए।

समय के साथ फैशन में बदलाव

मौसम के साथ-साथ हमारा फैशन भी बदलता रहता है जैसा कि गर्मियों में कपड़ों की गुणवत्ता के साथ-साथ हम कपड़े के रंग पर भी ध्यान देते हैं कि हमें गर्मी के मौसम में किस रंग के कपड़ों का ज्यादा प्रयोग करना चाहिए। खादी से बने वस्त्रों को पहनने से गर्मी के मौसम में काफी आरामदायक महसूस होता है। यह पसीने को भी सोख लेता है इसलिए खादी वस्त्र गर्मी के मौसम के लिए अच्छा माना जाता है।

कॉटन, शिफॉन के वस्त्र फॉर्मल लुक के लिए पहने जाते हैं जो अच्छे भी लगते हैं। गर्मी के मौसम में फैशन हमेशा कूल होना चाहिए। शासन की इस दुनिया में बहुत सारी चीजों का समावेश होता है जैसा कि- कला, पोशाक, भोजन लोगों के रहने का तरीका, साहित्य और फैशन का रुझान। सोशल मीडिया फैशन को बढ़ावा देने में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। फैशन हमारे पसंद नापसंद को भी काफी निर्णय करता है।

निष्कर्ष

फैशन बहुत ही अल्पकालिक और गतिशील होता है। वर्ष के दौरान मौसम परिवर्तन होने पर फैशन भी बदलते रहते हैं। इसलिए अगर फैशन की इस दुनिया में बने रहना है तो पूरी सजगता के साथ दुनिया के दस्तूर को समझना होगा।

1 thought on “फैशन पर निबंध Essay on Fashion in Hindi”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.