भारत में ऋतु के प्रकार निबंध Essay on 6 Different Types of Seasons in India (Hindi)

इस लेख में हमने भारत में ऋतु के प्रकार निबंध Essay on 6 Different Types of Seasons in India (Hindi) के बारे में बताया है‌। इसे विद्यार्थी essay के रूप में भी परीक्षा के लिए मदद ले सकते हैं। साथ ही इस अनुच्छेद में इन भारतीय ऋतुओं के विषय में विस्तार से भी बताया है।

आईये आपको बताते हैं – भारत में ऋतु के विभिन्न प्रकार Essay onTypes of Seasons in India (Hindi)

प्रस्तावना Introduction (भारत की ऋतुएँ निबंध – 1000 Words)

भारत का मौसम अन्य देशों से बहुत अलग है। इसका मौसम हमेशा बदलता रहता है और मुख्य रूप से 6 प्रकार के मौसम को यहाँ देखा गया है जिनके नाम हैं – वसंत, ग्रीष्म, वर्षा, शरद, हेमंत, और शीत ऋतु। in सभी ऋतुओं का अपना ही एक अलग अनुभव और महत्व होता है।

कई देशों में या तो साल भर बहुत सर्दी होती है या तो बहुत गर्मी परन्तु भारत में हर दो-तीन महीने में मौसम बदलते रहते हैं जिसका एक अलग ही मज़ा है। इससे किसानों को भी मदद मिलती है और वातावरण भी शांत और सुखद बना रहता है। इन्हीं विभिन्न प्रकार के ऋतुओं के कारण ही भारत में कई प्रकार के अनमोल जिव-जंतु पाए जाते हैं जो दुनिया में और कहीं भी पाए नहीं जाते हैं।

इसे भी पढ़ें -  भारतीय वाद्य यंत्रों की जानकारी Indian musical instruments in Hindi

भारतीय ऋतुओं के साहित्यिक और पौराणिक नाम Traditional Name of Seasons in India (Hindi)

  1. बसंत ऋतु = चैत, वैशाख
  2. ग्रीष्म ऋतु = ज्येष्ठ, आषाढ़
  3. वर्षा ऋतु = श्रावण, भादों
  4. शरद ऋतु = क्वार, कार्तिक
  5. हेमंत ऋतु = अगहन, पूस
  6. शीत ऋतु = माघ, फाल्गुन

भारत की ऋतुओं के नाम और जानकारी हिन्दी में Indian 6 Types of Seasons Name in Hindi

1. बसंत ऋतु (चैत, वैशाख) Spring Season in Hindi

बसंत ऋतु को अंग्रेजी में Spring Season कहा जाता है। इस ऋतु को ‘मौसम का राजा’ माना जाता है।सर्दियों के तेज़ ठंड जब चली जाती है तब इस मौसम का अनमन होता है। यह मौसम न तो बहुत गर्म होता है और न ही बहुत ठंडा होता है।

इस मौसम के दौरान प्रकृति मनुष्य को सुन्दरता का भरपूर उपहार प्रदान करता है। बसंत के इस आगमन पर सुखद हवा की ध्वनि शुरू हो जाती है। यह हमारे शरीर और मन को तानो ताज़ा अहसास कराती है। इस मौसन के दौरान कुछ मुख्य त्यौहार भी आते है जैसे- मकर संक्रांति, वसंत पंचमी, पोंगल, होली, रामनवमी, आदि।

2. ग्रीष्म ऋतु (ज्येष्ठ, आषाढ़) Summer Season in Hindi

ग्रीष्म ऋतु को अंग्रेजी में Summer Season कहते हैं। यह गर्मियों का महिना होता है इस समय जलती हुई ज़ोरदार धुप होती है। ग्रीष्म ऋतु में नदियाँ, तालाब और कुऐ आदि सभी सूख जाते है। ज्यतारत लोगों को गर्मी का मौसम पसंद नहीं होता है परन्तु इस माह का भी एक अलग ही महत्व है।

हालांकि, इस मौसम में विभिन्न प्रकार के फल खाने को मिलते हैं। इस समय पके हुए आम और कटहल की खूब पैदावार होती है, जिसे हम सभी इस मौसम में ख़ुशी के साथ खाते है। ग्रीष्म ऋतु के मुख्य त्यौहार हैं – महावीर जयंती, बैसाखी, बुद्ध पूर्णिमा, आदि।

3. वर्षा ऋतु (श्रावण, भादों) Rainy Season in Hindi

वर्षा ऋतु को अंग्रेजी में Rainy Season कहते है। यह बारिश का महिना होता है। बरसात के मौसम में हर जगह पानी ही पानी होता है। इस मौसम में भारी बारिश के कारण सभी नदी, नाले और तालाब पानी से भर जाते हैं। वर्षा की संभावना के कारण आकाश में घने बादल हमेशा रहते हैं।

इसे भी पढ़ें -  शिवालिक रेंज Shivalik Range features in Hindi

बारिश का महिना किसानों के जीवन में ढेरों खुशियाँ लाता है क्योंकि ज्यादातर किसान अपने फसल के लिए वर्षा के पानी पर निर्भर करते हैं। परन्तु कभी-कभी यह वर्षा ज्यादा होने पर सभी के लिए बाढ़ और कम होने पर सुखा जैसे प्राकृतिक आपदा का रूप भी ले लेता है। वर्षा ऋतु के कुछ मुख्य त्यौहार हैं – रक्षाबंधन, गुरु पूर्णिमा, जन्माष्टमी, आदि।

4. शरद ऋतु (क्वार, कार्तिक) Autumn Season in Hindi

शरद ऋतु को अंग्रेजी में Autumn Season कहते हैं। यह ऋतु वर्षा ऋतु के बाद आता है। इस मौसम में वर्षा के कारण होने वाले आद्रता और गर्मी में कमी आती है। शरद ऋतु के दौरान आने वाले कुछ मुख्य त्यौहार हैं – दशहरा, नवरात्री, आदि। जाती हुई शरद ऋतु में चावल की पैदावार शुरू हो जाती है और किसानों के पास कुछ धन इकठ्ठा हो पता है। यह उनके लिए सबसे ज्यादा ख़ुशी का दिन होता है।

5. हेमंत ऋतु (अगहन, पूस) Pre-winter Season in Hindi

हेमंत ऋतु को अंग्रेजी में Pre-winter Season कहते हैं। इस मौसम में आकाश सुखद धूप से मुस्कुराता हुआ दीखता है। आसमान स्पष्ट और नीला दिखाई देता है। यह खिलते हुए फूलों और ‘मधुर फल’ का मौसम है। रात के दौरान घास पर हल्की ओंस की बुँदे इकट्ठा हो जाती है, जो सुबह मोतियों की तरह दिखाई देती है

यह महिना शीत ऋतु से पहले आता है इसलिए इसकी रातों में थोड़ी-थोड़ी ठंड लगनी शुरू हो जाती है। सर्दी के महीने के कुछ मुख्य त्यौहार हैं – दिवाली, गोवर्धन पूजा, छठ पूजा, भैया दूज, गुरु नानक जयंती, आदि।

6. शीत ऋतु (माघ, फाल्गुन) Winter Season in Hindi

शीत ऋतु को अंग्रेजी में Winter Season कहते हैं। यह ठंड का मौसम होता है। भारत के कुछ उत्तरी राज्य जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड में शीत ऋतु के दौरान ज़ोरदार बर्फ की बारिश होती है। इन क्षेत्रों में तापमान सर्दी के महीने में शुन्य डिग्री से भी बहुत नीचे चले जाता है।

इसे भी पढ़ें -  भारत की लाल मिट्टी Red Soil in India - Hindi

सर्दी के महीने में रातें लम्बी और दिन छोटे होते हैं। अत्यधिक सर्दी बढ़ने के कारण, लोगों को अपने घरों से बाहर निकलने में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। शीत ऋतु के दौरान ही क्रिसमस और नव वर्ष का उत्सव आता है।

निष्कर्ष Conclusion

भारत के सभी ऋतुओं का अपना-अपना एक सुन्दर उत्सव है। कभी भी कोई नहीं कह सकता है की कोई मौसम अच्छा है और कोई बुरा। सभी भारतीय ख़ुशी के साथ सभी भारतीय मौसम का लुफ्त उठाते हैं। मुझे खुद पर गर्व है की मैं ऐसे महान देश भारत में जन्म हुआ हूँ जिसमे ऋतुओं का इतना सुन्दर रंग-रूप देखने को मिलता है। आशा करते हैं आपको भारत में ऋतु के प्रकार निबंध 6 Types of Seasons in India (Hindi) लेख पसंद आया होगा।

1 thought on “भारत में ऋतु के प्रकार निबंध Essay on 6 Different Types of Seasons in India (Hindi)”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.