विविधता में एकता पर निबंध Essay on Unity is diversity in Hindi

विविधता में एकता पर निबंध Essay on Unity is diversity in Hindi

विविधता में एकता एक प्रसिद्ध अवधारणा है, अतः हम यह भी कह सकते है, कि अनेकता में एकता “विखंडन के बिना एकरूपता” की एक अवधारणा है। हमारे देश में अनेकता में एकता देखने को मिलती है क्योंकि यहाँ अपने धर्म के साथ लोग एक-दूसरे की भावनाओं के मान और भरोसे को बिना नुकसान पहुचाये कई धर्मों, नस्लों, संस्कृतियों, और परंपराओं के लोगों के साथ मिलकर रहते हैं

जबसाथ ही यहाँ मनोवैज्ञानिक, वैचारिक, राजनीतिक, धार्मिक, बहु-भाषी, शारीरिक, सामाजिक, सांस्कृतिक आदि ढ़ेर सारी भिन्नताओं के बावजूद भी हमारे भारत में लोग एकता के अस्तित्व पर “अनेकता में एकता” के सम्बन्ध में बंधे है।

विविधता में एकता पर निबंध Essay on Unity is diversity in Hindi

एकता में बल है Unity is strength

इसमें पारिस्थितिकी, ब्रह्मांड विज्ञान, दर्शन, धर्म और राजनीति सहित कई क्षेत्र शामिल हैं। ये विचार उस समय के है, जब पौराणिक काल हुआ करता था। हिंदी हमारे भारत की मातृभाषा है,  हालांकि सभी को महान भारत के नागरिक होने पर गर्व महसूस होता है और यहाँ विभिन्न धर्मों और क्षेत्रों (जैसे अंग्रेजी, उर्दू, संस्कृत, भोजपुरी, बिहारी, पंजाबी, मराठी, बंगाली, उडिया, गुज़रती, कश्मीरी आदि) के लोगों द्वारा कई अन्य भाषाएं बोली जाती हैं फिर भी यहाँ सब मिलजुलकर रहते है।

विविधता में एकता की अवधारणा का उपयोग 400-500 बी सी में उत्तर अमेरिका और अन्य समाजों के स्वदेशी लोगों दोनों द्वारा किया गया था। आधुनिक पश्चिमी संस्कृति में यह प्राचीन ग्रीस और रोम की सभ्यताओं में विकसित ब्रह्मांड की कुछ जैविक अवधारणाओं में एक अंतर्निहित रूप में अस्तित्व में थी।

विविधता में एकता “को अलग-अलग व्यक्तियों या समूहों के बीच प्यार और एकता की अभिव्यक्ति के रूप में विभिन्न धार्मिक और राजनीतिक समूहों द्वारा लोकप्रिय नारे या आदर्श वाक्य के रूप में उपयोग किया जाता है। विविधता में एकता का मतलब अलग- अलग धर्म जाति के बाबजूत भी एकरूपता में रहना है।

भारत कई वर्षों से इस अवधारणा को साबित करने वाला एक सर्वश्रेष्ठ देश है। भारत एक ऐसा देश है जहां विविधता में एकता को देखना बहुत ही आम बात है, क्योंकि कई धर्म, जाति, संस्कृति और परंपरा के लोग एक-दूसरे की भावनाओं की कद्र करते हुए सब एक साथ मिलकर रहते हैं और साथ-साथ अपने धर्म पर भी  विश्वास करते हैं।

विविधता में एकता विशेष रूप से जिसके लिए भारत पूरी दुनिया में जाना जाता है इस कारण यह भारत में एक महान स्तर पर पर्यटन को भी आकर्षित करता है। एक भारतीय होने के नाते, हम सभी को हमारी ज़िम्मेदारी समझनी चाहिए और किसी भी कीमत पर अपनी अनूठी विशेषता को बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए। यहां विविधता में एकता वास्तविक समृद्धि, वर्तमान और भविष्य में प्रगति का तरीका है।

विविधता में एकता सांस्कृतिक, सामाजिक, शारीरिक, भाषाई, धार्मिक, राजनीतिक, वैचारिक, मनोवैज्ञानिक आदि के बहुत से मतभेदों के बाद भी एकता के अस्तित्व पर केंद्रित है। अनेकता की अधिक संख्या अधिक जटिल एकता बनाती है।

धर्म, जाति, उप-जाति, समुदायों, भाषाओं और बोलियों की विविधता के बावजूद भी आज भारत में लोग एकजुट हैं। भारत में लोग बहुत आध्यात्मिक हैं और भगवान पर आस्था रखते हैं, इसीलिए वे हर किसी के धर्म का सम्मान करते है।

हमारा भारत दुनिया में सबसे पुरानी सभ्यता का एक प्रसिद्ध देश है, जहां कई जातीय समूहों के लोग वर्षों से एक साथ रह रहे हैं। भारत विविध सभ्यता का देश है, यहां लोग अपने धर्म और भाषा के अनुसार लगभग 1650 बोली जाने वाली भाषाओं और बोलियों का उपयोग करते थे।

विभिन्न संस्कृतियों, परंपराओं, धर्मों और भाषाओं से संबंधित होने के बावजूद; यहां लोग एक-दूसरे के धर्म और जाति का सम्मान करते हैं और भाईचारे की भावना के साथ रहते हैं। विविधता में एकता हमारे देश की महान विशेषता में से एक रही है जिसने सभी धर्मों के लोगों को मानवता के एक बंधन में एक साथ बांध दिया है।

हम यहां बहुत स्पष्ट रूप से देख सकते हैं कि अलग-अलग धर्मों, पंथों, जातियों, भाषाओं, संस्कृतियों, जीवनशैली, अलग भावना के लोग एक छत के नीचे प्यार की भावना के साथ रहते हैं, जिसका मतलब है हम सब भारत की भूमि पर है। भारत में रहने वाले लोग एक मां के बच्चे हैं इसलिए हम इसे मदर इंडिया कहते हैं।

भारत दुनिया का एक विशाल और सबसे अधिक आबादी वाला देश है, जहां विभिन्न धर्मों के लोग हिंदू धर्म, बौद्ध धर्म,  इस्लाम, सिख धर्म, जैन धर्म, ईसाई धर्म और पारसी एक साथ रहते हैं, लेकिन हर कोई धर्म और कर्म के एक सिद्धांत में विश्वास करते है।

विविधता में एकता सामान्य नीति है। जिसके लिये हमारा देश सबसे उपयुक्त उदाहरण है। लोग प्रकृति में भगवान पर विश्वास अटल करते है और इसीकारण आत्मा, पुनर्जन्म, मोक्ष, स्वर्ग और नरक और दंड के शुद्धिकरण में विश्वास करते हैं। यहां लोग अन्य धार्मिक लोगों को नुकसान पहुंचाए बिना बहुत शांतिपूर्वक अपने त्यौहार भी मनाते हैं- जैसे होली, दिवाली, ईद,  क्रिसमस, गुड फ्राइडे, महावीर जयंती, बुद्ध जयंती इत्याद।

भारत को एक स्वतंत्र देश बनाने के लिए हम भारत के सभी धर्मों के लोगों द्वारा संचालित स्वतंत्रता आंदोलनों को कभी नहीं भूल सकते हैं। स्वतंत्रता के लिए संघर्ष भारत में विविधता में एकता का महान उदाहरण है।

भारत में विविधता अवधारणा में एकता सभी को एक मजबूत संदेश देता है कि कुछ भी एकता के बिना नहीं हो सकता है। प्यार के साथ मिलकर रहना जीवन का वास्तविक सार है। भारत में विविधता में एकता हमें यह दर्शाती है कि हम सभी एक सर्वोच्च भगवान के आशीर्वाद द्वारा पैदा हुए है और उनकी देखभाल में जीवित हैं।

विविधता में एकता का महत्व Importance of Unity is diversity

विविधता में एकता कार्यस्थल, संगठन और समुदाय में लोगों के मनोबल को बढ़ावा देती है। यह लोगों के बीच रिश्तों और सामंजस्य को बढ़ाने में मदद करती है जिससे प्रदर्शन, गुणवत्ता, उत्पादकता और जीवनशैली में सुधार होता है।

यह बुरी स्थिति में भी संचार प्रभावी बनाता है। लोगों को सामाजिक समस्याओं से दूर रखता है और संघर्षों को आसानी से प्रबंधित करने में मदद करता है। स्वस्थ मानव संबंधों में सुधार करता है और सभी के लिए समान मानवाधिकारों की रक्षा करता है।

भारत में विविधता में एकता, पर्यटन का एक स्रोत प्रदान करती है। विविध संस्कृतियों, परंपराओं, व्यंजनों, धर्मों के लोग दुनिया भर के आगंतुकों और पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। यह विभिन्न तरीकों से विविध होने के बावजूद देश के लोगों के बीच राष्ट्रीय एकीकरण की आदत को जन्म देता है।

यह देश के समृद्ध विरासतों के साथ-साथ भारत की सांस्कृतिक विरासत को मजबूत और समृद्ध बनाता है। यह विभिन्न फसलों और अर्थव्यवस्था विकास के माध्यम से कृषि क्षेत्र में समृद्ध होने में मदद करता है। देश के विभिन्न क्षेत्रों में कुशल और अग्रिम व्यवसायियों का स्रोत है।

इसके कुछ नुकसान Some Disadvantages of Unity is Diversity

यह विभिन्न राज्यों और भाषाई मूल के लोगों के बीच विभिन्न सामाजिक तनावों को जन्म दे सकता है। यह देश के कई क्षेत्रों में भ्रष्टाचार और निरक्षरता के विकास को जन्म देता है। यह अविकसित बुनियादी ढांचे, बिजली की कमी, सड़कों, आदि के कारण विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में खराब जीवनशैली का कारण भी हो भी हो सकता है।

विविधता में एकता पर विचार Unity is diversity Quotes in Hindi

  • विविधता में एकता सभी को एक साथ खड़े होने में मदद करती है।
  • विविधता में एकता सभी को शांतिपूर्वक रहने में मदद करती है।
  • विविधता में एकता देश की ताकत है।
  • संभावनाएं अनंत हैं, जहां विविधता में एकता मौजूद है।
  • विविधता में एकता बेहतर समाज बनाती है।
  • विविधता में एकता, समानता में एकता से बेहतर होती है।
  • जीवन विविधता के बिना उबाऊ हो जाता है।
  • विविधता खुशियाँ लाती है, जिससे हर कोई उत्साहित हो जाता है।
  • समाज में खुशी की कुंजी विविधता है।
  • विविधता में एकता ‘सभी के लिए एकता’  दिखाता है।
  • प्रेरित होने के लिए विविधता में एकता का जश्न मनाएं।
  • विविधता सौंदर्य और विशाल शक्ति बनाता है।
  • विविधता का सम्मान करें और एकता बनाये।
  • ‘विविधता में एकता’ में शांति मौजूद है।
  • विविधता में एकता की ताकत कभी खत्म नहीं होती है।
  • विविधता में एकता, शक्ति का स्रोत है।
  • विविधता पूर्णता और शांति लाती है।
  • विविधता में एकता हमारा लक्ष्य होना चाहिए।
  • विविधता में एकता एक सांस्कृतिक विरासत है।
  • हम सभी मानव जाति से संबंधित हैं।
  • भारत में लोग भारतीय हैं, कोई भी विभाजित नहीं हो सकता है।
  • विविधता में एकता का मतलब मतभेदों का अंत है।
  • हमें भारत का नागरिक होने पर गर्व होना चाहिये।

1 thought on “विविधता में एकता पर निबंध Essay on Unity is diversity in Hindi”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.