कौशल विकास पर निबंध Essay on Skill Development in Hindi

इस लेख में आप कौशल विकास पर निबंध Essay on Skill Development in Hindi हिन्दी में पढ़ेंगे। साथ ही आप जानेंगे इसकी परिभाषा, इसके लाभ और सरकार द्वारा शुरू किए गए कौशल विकास योजना के विषय में।

आशा है आप सभी सकुशल होंगे और अपने लक्ष्य के तरफ नियमित अग्रसर हो रहे होंगे। दोस्तों स्किल डेवलपमेंट विषय यह बीते कुछ सालों में बड़ी तेजी से भारत के ज्यादातर युवाओं के पाठ्यक्रम में देखने को मिला है और कौशल विकास पर निबंध यह कक्षा 6 से लेकर कक्षा 12 तक के विद्यार्थियों को किसी न किसी परीक्षा में जरुर ही पुछा जा रहा है।

इस लेख में आप सबसे बेहतरीन निबंध विषय स्किल डेवलपमेंट पर पायेंगे जिसे आप पीडीऍफ़ फाइल में डाउनलोड भी कर सकते हैं।

कौशल विकास पर निबंध Essay on Skill Development in Hindi

मानव को अपने जीवन में सभी प्रकार से उन्नत रहने के लिए बहुत परिश्रम करना पड़ता हैं अर्थात आर्थिक उपार्जन के लिए श्रम, विद्या ग्रहण करने में श्रम और शरीर को निरोगी रखने में श्रम यानी जीवन के हर पहलुओं में श्रम करना पड़ता है और श्रम करने के पीछे सिर्फ एक ही मूल कारण होता है वह है स्वयं में परिवर्तन।

हेतु चाहे कुछ भी हो लेकिन ध्येय परिवर्तन ही होता है। कुछ इसी प्रकार शाश्त्रों में कहा गया है जो मानव अपनी कुशलताओं में वृद्धि करता जाता है वह हर प्रकार से सुखी होता जाता है और जो मानव आलस और दरिद्रता के कारण कुशलता का विकास नहीं करता, वह अंततः कष्ट सहता है और तिरस्कृत होता रहा है।

इसे भी पढ़ें -  व्यक्तित्व विकास पर निबंध Essay on Personality Development in Hindi

यह किसी भी युवा के लिए तो इतना ज्यादा जरुरी होता है जैसे किसी हंस के लिए पानी। आज के समय में स्किल डेवलपमेंट करना बेहद ही सरल है जहाँ एक तरफ इन्टरनेट पर लगभग सबकुछ मुफ्त में उपलब्ध है वही दूसरी तरफ मौजूदा सरकार के द्वारा हो रहे प्रयासों के माध्यम से कुशलता के विकास का अवसर हर घर के द्वार पर मौजूद है।

कौशल विकास क्या है? What is Skill Developemnt in Hindi?

स्किल का हिंदी में अर्थ होता है कौशल और डेवलपमेंट का अर्थ विकास होता है। सही स्त्रोत के माध्यम से अपने गुणों और कुशलताओं में श्रम के द्वारा किये जाने वाले विकास को “स्किल डेवलपमेंट” कहते हैं। स्किल डेवलपमेंट करने के कई तरीके हैं लेकिन सबसे ज्यादा कारगर और प्रचलित तरीके निम्नलिखित है।

किसी नामी संस्था को एक निश्चित रकम अदा कर उनकी सहायता से खुद की स्किल्स को डेवलप करना उदा. कम्प्यूटर कोर्स, सिलाई कोर्स, ब्यूटीपार्लर कोर्स इत्यादि।

मुफ्त के संस्थान जैसे यूट्यूब और अन्य निशुल्क स्थान जहाँ से कौशल विकास की शिक्षा मिलती हो।

सरकारी संस्थानों द्वारा चलाये गए अभियानों के द्वारा शिक्षा प्राप्त कर स्वयं के स्किल्स को सुधारना।

बिना किसी की सहायता से स्वयं प्रयोग कर तथा सफलता या असफलता से हताहत हुए बिना निरंतर सीखते रहना तथापने कुशलताओं का विकास करना।

स्किल डेवलपमेंट के लिए सरकार के द्वारा चलाये जा रहे अभियान Govt. Yojana for Skill Development

पूरा पढ़ें: प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

वर्तमान प्रधानमन्त्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने 15 जुलाई 2015 को स्किल इंडिया मुहीम की घोषणा की जिसमें उन्होंने सन 2022 तक पुरे भारत के चालीस करोड़ लोगों को इस मुहीम के तहत कुशल बनाने का प्रण लिया है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य ऐसे लोगों को सक्षम बनाना है जो वास्तव में खुद के जीवन में परिवर्तन चाहते हैं लेकिन उनके पास ज़रियों का अभाव है और उस अभाव के कारण वे हेय स्तर का जीवन व्यतीत कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें -  प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (स्किल इंडिया मिशन) PMKVY Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana Hindi

इस स्किल इंडिया मुहीम के तहत गावों या जिलों में ऐसे संस्थान स्थापत किये जाते हैं जहाँ पर निःशुल्क या मामूली शुल्क लेकर उनके स्किल्स को विकासीत का काम किया जाता है।

भारत को युवाओं का देश कहा जाता है ऐसे में यह बेहद जरुरी हो जाता है की वे अपने स्किल्स का विकास करें ताकि उसके माध्यम से वे  खुद के जीवन में बदलाव लाने के साथ देश को भी आर्थिक रूप से मजबूती ला सकें।

कौशल भारत अभियान का उद्देश्य स्वयं सफल बनाने के साथ साथ भारत से बहु-आयामी समस्याओं का निराकरण करना भी है। पिछली सरकारों ने योजनायें तो कई निकाली पर उन पर कार्य उतनी रफ़्तार से नहीं हुआ लेकिन वर्तमान प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के शब्दों ने करोड़ों लोगों में उम्मीद की किरण जगाई है वे कहते हैं की  “मैं भारत को विश्व की कौशल राजधानी बनाने के लिये पूरे राष्ट्र को प्रतिज्ञा करने के लिये आह्वान करता हूँ।”

कौशल विकास के लाभ? Benefits of Skill Development in Hindi

कौशल भारत के अंतर्गत लाखों लोगों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आये हैं वर्तमान सरकार ने गरीब व अकुशल युवाओं प्रशिक्षित कर बेरोजगारी के स्तर को कम  करने का लक्ष्य रखा है।

इस मिशन का उद्देश्य जरुरी ट्रेनिंग के माध्यम से युवाओं में आत्मविश्वास को जगाना है जिससे की उनके उत्पादकता में वृद्धि हो सके। इस योजना के माध्यम से सरकारी और प्राइवेट संस्थानों के साथ साथ शिक्षण संस्थाएँ भी सम्मलित होकर कार्य करेंगी। स्किल डेवलपमेंट के कुछ मुख्य लाभ निम्नलिखित है।

स्किल डेवलपमेंट के माध्यम से अपने अन्दर कुशलताओं का विकास करके अपने खुद के व्यवसाय को शुरू किया जा सकता है।

स्किल डेवलपमेंट के माध्यम से उत्पादकता में वृद्धि होती है।

एक इंसान के स्किल डेवलपमेंट से उस व्यक्ति की आय के साथ राष्ट्रीय आय में वृद्धि होती है।

स्किल डेवलपमेंट के माध्यम से किसी भी इंसान में सोई हुई प्रतिभा को जगाने के साथ आत्मविश्वास में भी वृद्धि होती है।

इसे भी पढ़ें -  प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम 2019 Prime Minister Employment Generation Programme - PMEGP Loan Scheme in Hindi

स्किल डेवलपमेंट के समय बरती जानेवाली सावधानियाँ Precautions during Skill Development

जहाँ एक और स्किल डेवलपमेंट के लाभ ही लाभ है तो वही कुछ सावधानियाँ भी जरूरी हैं जिसका ख़ास ख़याल रखने को कहा जाता है।

क्योंकि जिस प्रकार हर सिक्के के दो पहलु होते हैं उसी प्रकार तमाम ठग और घुसखोर भोलेभाले लोगो को चुना लगाने के फ़िराक में बैठे रहते हैं, अगर इनसे न बचा जाए तो न सिर्फ बड़ी हानि होने की संभावना रहती है बल्कि भविष्य में अच्छी योजनाओं पर भी शक होने लगता है। स्किल डेवलपमेंट के समय बरती जानेवाली सावधानियाँ निम्न हैं।

स्किल डेवलपमेंट के लिए आवेदन सरकारी कार्यालय या ऑफिसियल वेबसाइट पर ही देंना चाहिए क्योंकि इन योजनाओं के नाम पर कुछ लोग ठगी के फ़िराक में बैठे रहते हैं।

निष्कर्ष Conclusion

अपने लिए स्किल्स के चुनाव में सावधानी बरतनी चाहिए और समझ-बुझ कर अपने क्षेत्र का चुनाव करना चाहिए यानी अक्सर लोग जाने अनजाने में ज्यादा स्पर्धात्मक उद्योगों को चुन लेते हैं और प्लान न होने के कारण उनका श्रम, समय और संपत्ति का नुकसान होता है।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.