गुलज़ार साहब की शायरी हिन्दी में Best Gulzar Sahab Shayri in Hindi

आज के इस लेख में हमने गुलज़ार साहब की शायरी (Gulzar Sahab Shayri in Hindi). यह लेख उन महान हस्ती के द्वारा लिखे गए हजारों शायरियों में से कुछ बेस्ट गुलज़ार साहब का संग्रह किया गया है जो आज भी अप्रतिम हैं।

गुलज़ार साहब के व्यक्तित्व के बारे में बताना शब्दों के जरिये बहुत मुश्किल होगा। वे हमेशा कहते थे की मेरी शायरियों में “Gulzariyat” बसती है आप मुझमें उतना मुझे नहीं पाओगे जितना मेरे कविताओं और शायरियों में पाओगे। गुलज़ार साहब की इन शायरियों में आप शब्दों में बिलकुल न उलझे बस उनके Shayri के भावनाओं को पढ़ें।

गुलज़ार साहब की मशहूर शायरी Gulzar Sahab Best Shayari in Hindi

1. अच्छी किताबें और अच्छे लोग तुरंत समझ में नहीं आते उन्हें पढना पड़ता हैं। – Gulzar Sahab One line Quote in Hindi

गुलज़ार साहब की मशहूर शायरियों में से आज तक उनकी ये कृति जीवित और प्रथम रही है जिसमे वे इतने विशाल प्रश्न का उत्तर एक पंक्ति में लिख चुकें हैं।

2. किसी पर मर जाने से होती हैं मोहब्बत,
इश्क जिंदा लोगों के बस का नहीं। – Gulzar Sahab Two Line Shayari

3. बहुत अंदर तक जला देती हैं, वो शिकायते जो बया नहीं होती। -Gulzar Sahab One line Shayari

4. कुछ अलग करना हो तो
भीड़ से हट के चलिए,
भीड़ साहस तो देती हैं,
मगर पहचान छिन लेती हैं -Gulzar Sahab Ki Shayari

गुलजार साहब की ये पंक्ति जब लिखी गई थी तब भारत और पाकिस्तान के उनके चाहने वाले हज़ारों युवाओं के ज़बान की आदत बन गई थी काफी सालों तक महफ़िलों में ये पंक्तियाँ सुनाने की फरमाइश होती रही थी।

5. शोर की तो उम्र होती हैं,
ख़ामोशी तो सदाबहार होती हैं। -Gulzar Sahab Two Line Shayari

6. एक सपने के टूटकर चकनाचूर हो जाने के बाद..दूसरा सपना देखने के हौसले को ‘ज़िंदगी’ कहते हैं। -Gulzar Sahab One line Shayari

इसे भी पढ़ें -  प्रमुख भारतीय समाज सुधारक Social Reformers of India in Hindi

7. ज़ख़्म कहते हैं दिल का गहना है,
दर्द दिल का लिबास होता है गुलज़ार लव शायरी इन हिंदी

8. तकलीफ़ ख़ुद की कम हो गयी, जब अपनों से उम्मीद कम हो गईं। -Gulzar Sahab One line Shayari

9. मैं दिया हूँ,
मेरी दुश्मनी तो सिर्फ अँधेरे से हैं,
हवा तो बेवजह ही मेरे खिलाफ हैं, -Gulzar Sahab

10. सीने में धड़कता जो हिस्सा हैं…. उसी का तो ये सारा किस्सा हैं। -Gulzar Sahab One line Shayari

11. बहुत अंदर तक जला देती हैं,
वो शिकायते जो बया नहीं होती, -Gulzar Sahab Two Line Shayari

12. कौन कहता हैं कि हम झूठ नहीं बोलते,
एक बार खैरियत तो पूछ के देखियें। -Gulzar Sahab Two Line Shayari

13. तकलीफ़ ख़ुद की कम हो गयी,
जब अपनों से उम्मीद कम हो गईं। -Gulzar Sahab Two Line Shayari

दीना,पाकिस्तान में जन्म लेने वाले गुलज़ार साहब शुरुवात से ही बड़े विशाल मानसिकता के धनी रहें हैं उन्हें उनके लेखन के लिए 5 बार राष्ट्रीय पुरस्कार के साथ ऑस्कर, ग्रैमी, पद्म भूषण और 20 फिल्मफेयर अवॉर्ड भी उन्हें प्राप्त  हैं जिसे उन्होंने कभी भी तवज़्ज़ो नहीं दी और एक साधारण कलाकार बने रहे। फिल्मों के लिए गाने ही नहीं गुलजार ने 7 किताबें भी लिखी हैं जो shayari के क्षेत्र में अद्वितीय हैं , उनके किताबों के नाम  रात पश्मीने की और खराशें, चौरस रात, एक बूंद चांद, रावी पार, रात, चांद और मैं,जानम  हैं।

गुलजार की दो लाइन शायरी Best Gulzar Sahab two line shayari in Hindi

14. एक सपने के टूटकर चकनाचूर हो जाने के बाद,
दूसरा सपना देखने के हौसले का नाम जिंदगी हैं। -Gulzar Sahab two line shayari

15. कुछ बातें तब तक समझ में नहीं आती जब तक ख़ुद पर ना गुजरे। -Gulzar Sahab One line Shayari

16. शायर बनना बहुत आसान हैं… बस एक अधूरी मोहब्बत की मुकम्मल डिग्री चाहिए। -Gulzar Sahab One line Shayari

इसे भी पढ़ें -  13 प्रेरणादायक चाणक्य नीति Inspirational Chanakya Neeti Quotes in Hindi

17. घर में अपनों से उतना ही रूठो,
कि आपकी बात और दूसरों की इज्जत,
दोनों बरक़रार रह सके, -Gulzar Sahab

18. वक्त रहता नहीं कही भी टिक कर, आदत इस की भी इंसान जैसी हैं। -Gulzar Sahab One line Shayari

19. मैं चुप कराता हूं हर शब उमड़ती बारिश को,
मगर ये रोज़ गई बात छेड़ देती है -Gulzar Sahab Two Line Shayari

20. हाथ छुटे भी तो रिश्ते नहीं नहीं छोड़ा करते, वक्त की शाख से लम्हें नहीं तोडा करते। -Gulzar Sahab One line Shayari

21. एक ही ख़्वाब ने सारी रात जगाया है,
मैं ने हर करवट सोने की कोशिश की। -Gulzar Sahab Two Line Shayari

22. कौन कहता हैं कि हम झूठ नहीं बोलते,
एक बार खैरियत तो पूछ के देखियें।

23. ख़ुशबू जैसे लोग मिले अफ़्साने में,
एक पुराना ख़त खोला अनजाने में।

24. कुछ बातें तब तक समझ में नहीं आती
जब तक ख़ुद पर ना गुजरे। -Gulzar Sahab Two Line Shayari

26. शायर बनना बहुत आसान हैं
बस एक अधूरी मोहब्बत की मुकम्मल डिग्री चाहिए।

27. वो चीज़ जिसे दिल कहते हैं,
हम भूल गए हैं रख के कहीं

28. तेरे जाने से तो कुछ बदला नहीं,
रात भी आयी और चाँद भी था, मगर नींद नहीं।

29. कभी तो चौक के देखे वो हमारी तरफ़,
किसी की आँखों में हमको भी वो इंतजार दिखे। -Gulzar Sahab Two Line Shayari

30. किसी पर मर जाने से होती हैं मोहब्बत,
इश्क जिंदा लोगों के बस का नहीं। -Gulzar Sahab Two Line Shayari

31. शोर की तो उम्र होती हैं,
ख़ामोशी तो सदाबहार होती हैं। -Gulzar Sahab Two Line Shayari

गुलज़ार साहब की शायरी (Best Gulzar Sahab Shayri in Hindi) सच में दिल छु लेने वाली होती है। आशा करते हैं आपको यह लेख अच्छा लगा होगा।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.