50+ गुरु गोबिंद सिंह जी के अनमोल कथन Guru Gobind Singh Quotes in Hindi

इस आर्टिकल में हमने 50+ गुरु गोबिंद सिंह जी के अनमोल कथन Guru Gobind Singh Quotes in Hindi पब्लिश किया है। यह कोट्स हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषा में दिया गया है।

गुरु गोबिंद सिंह जी के 50 से ज्यादा बेहतरीन सुविचार व कथन जो हमें आगे बढ़ने की प्रेरणा देते हैं –

1) “The greatest comforts and lasting peace are obtained when one eradicates selfishness from within.“ -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” सबसे ज्यादा सुख और आंतरिक शांति उस व्यक्ति को प्राप्त होती है जो व्यक्ति अपने अंतर्मन से स्वार्थ की भावना को पूरी तरह निकाल देता है। “

2)” Day and night, meditate forever on the Lord.“
#” दिन और रात मे हमेशा गुरु का ध्यान करो। “

3) “Blessed, blessed is that Sikh of the Guru, who goes and falls at the Feet of the True Guru. Blessed, blessed is that Sikh of the Guru, who with his mouth, utters the Name of the Lord.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” वह सिख सौभाग्यशाली है जो जाकर सच्चे गुरु के चरणों मे नमन करता है। वह सिख सौभाग्यशाली है जो अपने मुँह से प्रभु का नाम लेता है। “

4) “I came into the world charged with the duty to uphold the right in every place, to destroy sin and evil… the only reason I took birth was to see that righteousness may flourish, that good may live, and tyrants be torn out by their roots.” 
#” मैं इस संसार मे इस कर्तव्य के साथ आया कि हर चीज को उसके सही जगह तक पहुँचा दूँ, और पाप तथा बुराई का अंत कर सकूं… सिर्फ़ एक कारण जिसके लिए मैंने जन्म लिया था वह यह कि अच्छाई का उत्थान हो और यह अधिक समय तक जिए, और अत्याचारियों को जड़ से उखाड़ कर नष्ट किया जाए। “

5)” I tell the truth; listen everyone. Only those who have Loved, will realise the Lord” 
#” मैं सच बता रहा हूँ, सभी लोग सुनिए। सिर्फ वही लोग जिन्होंने प्यार किया है, वे ईश्वर को महसूस कर सकते हैं।” 

6)” It is nearly impossible to be here now when you think there is somewhere else to be.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” जब आप कहीं और पर जाने की सोच रहे होते हो, तब आपका यहां होना असंभव है।” 

7) #The Lord Himself reveals the Path, He Himself is the Doer of deeds.“
#” ईश्वर खुद से ही रास्ता दिखाता है, वह खुद से ही सभी कार्यों का कर्ता है।” 

8) “Chirian te mein baaz tudaun,
Gidran to mein sher banaun
Sawa lakh se ek ladaun,
Tabe Gobind singh Naam kahaun.” 
#” चिड़ियां ते मैं बाज लड़ाऊ, 
गीदडाँ ते मैं शेर बनाऊं, 
सवा लाख ते एक लड़ाऊ, 
तबे गोबिंद सिंह नाम कहांऊ।” 

9)” Egotism is such a terrible disease, he dies, to be reincarnated he continues coming and going.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” घमंड एक ऐसी भयावह बीमारी है, जो मरता है, वह पुनर्जन्म लेकर वापस आता है और फिर वापस चला जाता है।” 

10) “Karta (The Creator) and Karim (The beneficient) are the names of the same God.
Razak (The provider) and Rahim (The merciful) are also the names given to Him.
Let no man in his error wrangle over differences in names.
Worship the One God who is the Lord of all. Know that his form is one and He is the One light diffused in all.“
#” कर्ता (बनाने वाला) औऱ करीम (प्राप्त करने वाला ) ये दोनों ईश्वर के ही दो नाम हैं। रजक (देने वाला) और रहीम (दया करने वाला) भी उसी के नाम हैं। किसी भी व्यक्ति को उसके नाम के फ़ेर मे उलझना नहीं चाहिए। सिर्फ एक ही ईश्वर की पूजा करें, जो कि सब से महान है। यह समझिए कि उसका एक ही स्वरूप है और वह एक ही प्रकाश है जो सबमें फैला हुआ है। “

11) “For this purpose was I born, let all virtuous people understand. I was born to advance righteousness, to emancipate the good, and to destroy all evil-doers root and branch.” 
#” मेरा जन्म इस कार्य के लिए हुआ था, यह सभी गुणी लोगों को पता होना चाहिए। मेरा जन्म अच्छाई के प्रचार के लिए हुआ था, अच्छे कर्मों को अपनाने और सभी बुराइयों का नाश करने के लिए। “

12) “Without the Name, there is no peace.“-Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” उसके नाम के बिना कहीं भी राहत और चैन नहीं है। “

इसे भी पढ़ें -  मध्यकालीन भारत का इतिहास History of Medieval India in Hindi

13) “Fruitful is the entire life of those, who feel hunger for the Name of the Lord in their minds.” 
#” उन लोगों की पूरी जिंदगी लाभकारी होती है, जो ईश्वर के नाम की भूख अपने मन में महसूस करते हैं।” 

14) “Sach kahon sun leho sabai jin prem kio tin hee prabh paio.” 
#” सच कहूं सुन लेहो सबई जिन प्रेम कियो तिन ही प्रभ पाईओ।” 

15) “These friends are united, and will not be separated again, they have been united by the Creator Lord Himself.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” ये सारे दोस्त अब एक साथ मिल गए हैं और अब ये कभी दोबारा अलग नहीं होंगे, क्योंकि इन्हें स्वयं सृजनकर्ता ईश्वर के हाथों ही मिलवाया गया है।” 

16)” By perfect good karma, you shall meet the True Guru, and then the Dear Lord, by His Sweet Will, shall bless you with His Mercy.“
#” अपने अच्छे सद्कर्मों से आप अपने सच्चे गुरु से मिल पाओगे और फिर प्यारे ईश्वर की मर्जी से ही वे तुम पर अपनी कृपा करेंगे और आशीर्वाद देंगे।” 

17) “You created the Universe, You are the Giver of pleasure and pain.” 
#” आपने ही ब्रह्मांड का निर्माण किया है। सुख और दुख के दाता आप ही हो।” 

18) “In egotism, one is assailed by fear, he passes his life totally troubled by fear.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” घमंड के कारण एक व्यक्ति डरता है और वह अपनी पूरी जिन्दगी डर मे बिताता है।” 

19)” Egotism is such a terrible disease, in the love of duality, they do their deeds.” 
#” घमण्ड एक ऐसी खतरनाक बीमारी है, दो लोगों के प्यार मे यह अपना काम कर देता है।” 

20) “I fall at the feet of those who meditate on the Truest of the True.” 
#” मैं उनके चरणों पर नमन करता हूं जो सच्चाई के भी सच का ध्यान लगाते हैं।” 

21) “Blessed, blessed is the True Guru, who has given the supreme gift of the Name of the Lord.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” वह सच्चा गुरु सुखी है, जिसने ईश्वर के नाम का सबसे महान उपकार दिया है।” 

22) “Meeting the True Guru, hunger departs, hunger does not depart by wearing the robes of a beggar.” 
#” सच्चे गुरु को प्राप्त करके भूख गायब हो जाती है, जबकि भिखारियों के जैसा रूप धारण करने से भूख नहीं जाती है।” 

23) “Blessed, blessed is the Knower of the Lord, my True Guru, He has taught me to look upon friend and foe alike.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” ईश्वर, सच्चे गुरु को जानने वाला ही वास्तव मे सुखी है। उसने मुझे अपने मित्र और शत्रु को एक जैसे नजर से देखना सिखाया है।” 

24) “Blessed, blessed is their Guru, whose mouth tastes the Ambrosial Fruit of the Lord.” 
#” वह गुरु आशीर्वाद देता है, जिसके मुख ने ईश्वर के दिव्य फल का स्वाद चखा है।” 

25) “He alone is a man who keeps his word:
Not that he has one thing in the heart, and another on the tongue.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
सिर्फ एक वहीं व्यक्ति ही है जो अपना वचन पूरा करता है : ऐसा नहीं होता कि उसके मन मे कुछ और बात हो और ज़बान पर कोई दूसरी बात। “

26) “If you are strong, torture not the weak,
And thus lay not the axe to thy empire.” 
#” अगर तुम ताकत वर हो तो कमजोर को मत सताओ और ऐसा करके अपने ही साम्राज्य पर कुल्हाड़ी मत चलाओ।” 

27) “Shed not recklessly the blood of another with thy sword,
Lest the Sword on High falls upon thy neck.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” अपनी तलवार से अन्धाधुन्ध रूप से किसी का खून मत बहाओ, जब तक कि उनकी तलवार तुम्हारी गर्दन पर ना हो।” 

28) “He who trusts, however, in an oath on God,
His Protection also in He; in need, He shows the Path.” 
#” वह व्यक्ति जो विश्वास रखता है ईश्वर की शपथ पर, उसकी सुरक्षा वहीं करता है और जब भी उसे मदद की जरूरत होती है वह उसे रास्ता दिखाता है।” 

29) “When there is incest, adultery, atheism, hatred of religion, no more dharma, and sin everywhere, the impossible Iron Age has come; in what way the world will be saved? For the helpless, the Lord Himself will manifest as the Supreme Purusha. He will be called the Kalki incarnation and will be glorious like a lion coming down from heaven.“
#” जब कभी कुटुंब व्याभिचार, व्याभिचार, नास्तिकता, धर्म से नफरत, अधर्म और पाप बढ़ जाएगा, तब बुरे वक़्त को शुरुआत हो जाएगी, क्या तब यह संसार खुद को सुरक्षित रख पाएगा? तब असहायों की मदद के लिए, महान पुरुष स्वयं धरती पर अवतार लेकर आएंगे। उनके इस अवतार को कल्कि अवतार कहा जाएगा। और उनका तेज इतना ज्यादा होगा कि ऐसा लगेगा स्वर्ग से कोई सिंह उतर कर आ रहा है।”

इसे भी पढ़ें -  सुशांत सिंह राजपूत की जीवनी Sushant Singh Rajput Biography in Hindi

30) “The ignorant person is totally blind he does not appreciate the value of the jewel.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#”उसके प्रभाव से अनजान व्यक्ति अंधा ही होता है कि वह इस रत्न की कीमत नहीं समझ पाता है।” 

31) “The greatest comforts and lasting peace are obtained when one eradicates selfishness from within.” 
#” सबसे ज्यादा आराम और लंबी शांति तब प्राप्त होती है जब व्यक्ति अपने अंदर से स्वार्थ को बाहर निकाल देता है।” 

32) “Those who call me God, will fall into the deep pit of hell. Regard me as one of his slaves and have no doubt whatever about it. I am a servant of the Supreme Being, and have come to behold the wonderful drama of life.“
#” जो मुझे भगवान कहते हैं, वह नर्क के एक गहरे गड्ढे मे गिर जाएंगे। मुझे उसके एक सेवक के रूप मे देखो और कोई संदेह मन में मत रखो। मैं सबसे श्रेष्ठ का नौकर हूं और जीवन के इस बेहतरीन नाटक को देखने आया हूं।” 

33) “In the City of Death, there is pitch darkness and huge clouds of dust, neither sister nor brother is there. This body is frail, old age is overtaking it.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” मृत्यु के शहर मे वहां बिल्कुल अंधेरा है और धूल के बड़े बड़े बादल हैं, वहाँ कोई भाई कोई बहन नहीं है। यह शरीर कमजोर है और बुढ़ापा इसे अपने मे समेट कर ले जा रहा है।”

34) “Meeting the True Guru, hunger departs, hunger does not depart by wearing the robes of a beggar.” 
#” सच्चे गुरु से मिलने पर भूख प्यास सब मिट जाती है, लेकिन भूख एक गरीब के वस्त्र पहनने से नहीं मिट सकती है।” 

35) “Those who worship and adore the Lord through the Guru’s Word forget all their pain and suffering.” 
#” जो लोग गुरु के शब्दों को मानकर उनकी पूजा करते हैं और उन्हें प्यार करते हैं, वे अपने सारे दुख और पीड़ा को भूल जाते हैं।” 

36) “Blessed, blessed is that Sikh of the Guru, who goes and falls at the Feet of the True Guru. Blessed, blessed is that Sikh of the Guru, who with his mouth, utters the Name of the Lord.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” गुरु द्वारा उस सिख को आशीर्वाद दिया जाता है जो जाकर उनके चरणों पर नमन करता है। उस सिख को गुरु का आशीर्वाद प्राप्त होता है जो अपने मुख से गुरु का नाम लेता है। “

37) “Whosoever assumes a religious garb pleases not God even a bit. O ye men, understand this clearly in your minds, that God is attained not through showmanship. They who practice deceit, attain not Deliverance in the Hereafter. They do so only to accomplish the affairs of the world and even the kings worship them for their appearance! But through showmanship, God is attained not, howsoever one searches. He who subdues his mind alone recognizes the Transcendent God.“
#” जो भी व्यक्ति धार्मिक परिधान पहनता है, वह ईश्वर को जरा भी खुश नहीं करता। हे मानव, अपने मन में इस बात को साफ़ साफ़ समझ लो कि ईश्वर को सिर्फ दिखावे से प्राप्त नहीं किया जा सकता है। जो लोग छल का प्रयोग करते हैं, उन्हें अंत मे मुक्ति नहीं प्राप्त होती है। वे ऐसा इसलिए करते हैं जिससे कि वे दुनिया मे तमाम चीजों को प्राप्त कर पाएं, यहां तक कि राजा भी उन्हें उनके परिधान के लिए पूजते हैं। लेकिन सिर्फ दिखावे के दम पर, ईश्वर को प्राप्त नहीं किया जा सकता है, जब तक कि कोई उन्हें ढूंढे ना। जो व्यक्ति अपने मन को अकेले मे वश मे कर लेता है, वह उस महान ईश्वर को पहचान लेता है। “

इसे भी पढ़ें -  प्रेरणादायक सकारात्मक सुविचार Best Inspirational Positive Thoughts in Hindi

38)” For this purpose was I born, let all virtuous people understand. I was born to advance righteousness, to emancipate the good, and to destroy all evil-doers root and branch.” 
#” इस उद्देश्य के लिए मेरा जन्म हुआ था, सभी गुणी लोगों को यह पता होना चाहिए। मेरा जन्म सत्यता को बढ़ाने, अच्छाई को स्वतंत्र करना और बुराई की सभी जड़ों और शाखाओं का विनाश करने के लिए हुआ था। “

39) “I am a sacrifice to the Guru, who has totally cured me of the fatal disease of egotism. Glorious and great are the virtues of the Guru, who has eradicated evil, and instructed me in virtue.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” मैं गुरु के लिए एक बलिदान हूं, जिन्होने मुझे एक जानलेवा बीमारी घमंड से पूरी तरह से संरक्षित किया हैं। गुरु की महिमा गौरवशाली और महान है, जिन्होने मेरे अन्दर से बुराईयों को निकालकर अब मुझे अच्छे गुणों से भर दिया है।”

40) “Without the Name, there is no peace.” 
#” उसके (ईश्वर के) नाम के बिना कहीं पर भी शांति नहीं है।” 

41) “Serving the True Guru, one finds a lasting peace, the pains of birth and death are removed.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” एक सच्चे गुरु की सेवा करते हुए, व्यक्ति को चरम शांति की प्राप्ति होती है, उसके जीवन से जीवन या मृत्यु की पीड़ाएं और दुख दूर हो जाते हैं।” 

42) “O Nanak, as the Lord Himself engages him, so is he engaged, no one has any say in this matter.”
#” हे नानक, जैसे ईश्वर स्वयं को व्यस्त रखता है, औऱ इसमे किसी और का कोई लेना देना नहीं है।” 

43) “These friends are united, and will not be separated again, they have been united by the Creator Lord Himself.” 
#” ये दोस्त एक बार मिलेंगे तो फिर कभी जुदा नहीं होंगे, उन्हें सृजनकर्ता ईश्वर द्वारा स्वयं मिलवाया गया है।” 

44) “The Lord’s Name is my most beloved society, the Lord s Name is my ancestry, and the Lord’s Name is my family.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” ईश्वर का नाम मेरा सबसे प्यारा समाज़ है, ईश्वर का नाम मेरी जड़ें हैं और ईश्वर का नाम ही मेरा परिवार है।” 

45) “Night and day, he is engrossed in worldly affairs, and even in his dreams, he finds no peace.” 
#” वह दिन मे और रात मे, इस दुनिया के मामलों मे फंसा रहता है, इसी वजह से उसे सपने में भी शांति नहीं मिल सकती है।” 

46) “What face will they show, when they go there? They will regret and repent for their sins their actions will bring them only pain and suffering.” 
#” वो अपना कौन सा चेहरा दिखाएंगे, जब वहां जाएंगे? वे अपने पाप कर्मों के लिए पछताएंगे और रोयेंगे, जिनके कारण अब उन्हें सिर्फ दर्द और पीड़ा ही सहनी पड़ेगी।

47) “Beg from the One Lord, the Great Giver, and you shall obtain your heart s desires.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” मांगना है तो सिर्फ उसी एक ईश्वर से माँगो, वह एक महान दाता है और आपके मन की सारी कामनाएँ आपको प्राप्त हो जाएंगी।” 

48) “They are always pure and immaculate filth does not touch them, they are blessed with the Grace of the Creator Lord.” 
#”वे हमेशा पवित्र और निष्कलंक होते हैं, गंदगी उन्हें छू भी नहीं सकती, उन्हें स्वयं सृजनकर्ता ईश्वर की कृपा आशीर्वाद रूप में प्राप्त होती है। “

49) “He has no rival, no attacker, no enemy. His rule is unchanging and eternal, He does not come or go.” -Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
#” उस व्यक्ति के लिए कोई प्रतिद्वंदी, कोई हमलावर, कोई आक्रमणकारी नहीं होता है। उसका राज्य कभी बदलता नहीं है और वह शाश्वत है, वह कभी आता या जाता नहीं है।” 

50) “He enjoys the hearts of all, and yet He remains detached, He is unseen, He cannot be described.”
#” वही सबके दिलों पर राज करता है और फिर भी वह सबसे अलग रहता है। उसे देखा नहीं जा सकता है। उसका वर्णन भी नहीं किया जा सकता।” 

51) ” Meeting them, the mind is satisfied, and one’s hunger and thirst all depart.” – Guru Gobind Singh Quotes in Hindi
“उनके मिलने से मन को संतुष्टि मिलती है और व्यक्ति की भूख और प्यास सब कुछ मिट जाती है।” 

Source-

Goodreads

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.