स्मार्ट कैसे बनें? 10 आसान तरीके How to be Smart Tips in Hindi?

इस लेख में आप जानें स्मार्ट कैसे बनें? 10 आसान तरीके How to be Smart Tips in Hindi? साथ में हमने स्मार्ट होने का सही अर्थ भी बताया है?

स्मार्ट कैसे बनें? How to Be Smart Tips in Hindi?

Contents

सामान्य तौर पर, बहुत से लोग सोचते हैं कि बुद्धि एक निश्चित मूल्य है जो युवा होने पर निर्धारित होता है, और यह कि जैसे-जैसे वे बड़े होते जाते हैं, यह नहीं बदल सकता। यह सच नहीं है।

शोध से पता चलता है कि हम किसी भी उम्र में अपनी बुद्धि में सुधार कर सकते हैं, चाहे हम कितने भी बड़े क्यों न हों। हम जो चीजें करते हैं और जिस तरह से हम जीवन के बारे में सोचते हैं, जैसे कि एक निश्चित मानसिकता के बजाय एक विकसित मानसिकता होना, हमारे सोचने के तरीके पर बड़ा प्रभाव डाल सकता है।

ऐसी आदतें जो आप रोज कर सकते हैं, वह आपको होशियार बना सकती हैं। आज के लेख में, हम आपको 10 आदतें और तरीके बताएंगे जो निश्चित रूप से आपको स्मार्ट बनाने में मदद करेंगे।

आईए उससे पहले जानते हैं – स्मार्ट होना किसे कहते हैं? (What is Smartness in Hindi?)

स्मार्ट होना किसे कहते हैं? What is Smartness in Hindi?

कैंब्रिज डिक्शनेरी के अनुसार स्मार्ट होने (Smartness) का अर्थ: बुद्धिमान होने का गुण, या कठिन परिस्थितियों में जल्दी या समझदारी से सोचने में सक्षम। उदाहरण के तौर पर:

  • स्मार्ट व्यक्ति में हमेशा बड़ी परिपक्वता और चतुरता होती है।
  • हस्तियाँ आमतौर पर स्मार्ट होने से जुड़ी नहीं होती हैं।

ऑक्सफोर्ड डिक्शनेरी के अनुसार स्मार्ट होने का अर्थ: साफ दिखने की गुणवत्ता; फैशनेबल और/या औपचारिक कपड़ों में अच्छी तरह से तैयार होने का तथ्य

  • उन्हें अपने चतुराई के लिए खुद पर गर्व है।

पर यह तो सिर्फ डिक्शनेरी के अर्थ हैं। सही मायने में स्मार्ट होने के कुछ अलग उदाहरण हैं। जैसे:

  • खुद का व्यवसाय करना स्मार्ट है। दूसरों के निजी जीवन में झाँकना नहीं है।
  • हमेशा महान लोगों के आस-पास रहना उनसे सीखना स्मार्ट होना है।
  • कुछ पैसे निवेश करना स्मार्ट है। उन्हें दोस्तों के लिए पार्टियों पर बर्बाद करना नहीं है।
  • “मेरी गलती, मुझे क्षमा करें” यह स्मार्ट है। “आप जानते हैं कि मैं कौन हूं” नहीं है।
  • अकेले रहना स्मार्ट है। स्वार्थी और नकारात्मक लोगों के साथ रहना ठीक नहीं है।
  • छुट्टियों में नई सकारात्मक चीजें व कौशल सीखना स्मार्ट है। सारा दिन सोना नहीं है।
  • हर किसी से कुछ न कुछ सीखना स्मार्ट है। लोगों के अंकों और असफलताओं का मजाक बनाना नहीं।
  • महत्वपूर्ण चीजों के नोट्स लिखना स्मार्ट है। कुछ भूलना नहीं है।
  • पहले अपने बारे में सोचना स्मार्ट है। दूसरों के द्वारा धोखा दिया जाना नहीं।
  • उत्साहित हो कर काम करना स्मार्टनेस है।
और पढ़ें -  घर से ऑनलाइन पैसा कमाने के 10 तरीके Top Online Jobs from Home in Hindi

स्मार्ट कैसे बनें? – 10 बेहतरीन तरीके Best Tips To Be Smart in Hindi

नीचे हमने स्मार्ट बनने के बेस्ट 10 तरीके बताए हैं जिन्हें आप फॉलो करके स्मार्ट बन सकते हैं:

1. स्मार्ट लोगों के साथ रहें (Always Live With Smart Peoples)

अपने आप को ऐसे लोगों के साथ घेरने का फायदा है जो आपके जैसा सोचते हैं। अगर आप होशियार बनना चाहते हैं, तो ऐसे लोगों के साथ घूमें, जो आपसे ज्यादा स्मार्ट हैं। ऐसे लोगों से दोस्ती करें जो आपको प्रेरित करते हैं और ऐसे लोग जो आपको लगता है कि बहुत सफल हैं।

ऐसी परिस्थितियों में पड़ना जो आपके लिए कठिन हैं और जो आपको बढ़ने और सीखने देती हैं, आपको एक बेहतर इंसान बनने में मदद करता है। उन लोगों के साथ अपना समय बर्बाद करना बंद करें जो आपको अपने बारे में बुरा महसूस कराते हैं या आपको रोकते हैं।

यदि आपके आस-पास रहने वाले लोगों का आप पर बड़ा प्रभाव पड़ता है, तो आपको सीखना चाहिए कि आप अपने पसंदीदा लोगों को कैसे आकर्षित करें और उन लोगों से छुटकारा पाएं जो आपके लिए अच्छे नहीं हैं।

2. जीवन भर लोगों से सीखने की कोशिश करें (Be A Lifelong Learner and Become Smart)

हर किसी को कभी न कभी औपचारिक शिक्षा से गुजरना ही पड़ता है। यह जो ज्ञान देता है वह वास्तविक जीवन में हमेशा बहुत उपयोगी नहीं होता है। जितना अधिक आप सीखते हैं, उतना ही आप एक सफल और स्मार्ट व्यक्ति के रूप में विकसित होते हैं, धीरे-धीरे लेकिन निश्चित रूप से।

आजीवन शिक्षार्थी जानते हैं कि नई चीजों को विकसित करना और सीखना कितना महत्वपूर्ण और मजेदार है। इसलिए वे जो पहले से जानते हैं उसके लिए कभी समझौता नहीं करते हैं और हमेशा जो वे पहले से जानते हैं उसमें सुधार और निर्माण करने का प्रयास करते हैं।

3. अपने अंदर सकारात्मक बदलाव लाएं (Bring Positive Changes in Yourself)

मानें या नहीं, हम कभी-कभी खुद को पीछे कर लेते हैं। होशियार लोग समय-समय पर पुराने या नकारात्मक विचारों और सोचने के तरीकों में फंस सकते हैं। वास्तव में बुद्धिमान बनने के लिए, आपको गलतियाँ करने, जोखिम उठाने और अवसरों पर कूदने के लिए तैयार रहना चाहिए और फिर उन सभी से सीखना चाहिए।

आपको खुद को बदलने, नई चीजों के लिए खुले रहने और खुद का एक अलग, बेहतर संस्करण बनने की जरूरत है। जब आप अपने आप को सूचना के नए स्रोतों के लिए खोलते हैं और अपने दिमाग को नई चीजें सीखने के लिए प्रेरित करते हैं।

विचारों को चुनौती दें, उनके बारे में अन्य लोगों से बात करें, अन्य दृष्टिकोणों को सुनें और अपने विश्लेषणात्मक कौशल का प्रदर्शन करें। लेकिन अपना मन बदलने से डरो मत।

सबसे बढ़कर, अपने आप को बढ़ने के लिए जगह दें और सीखने के लिए अपनी यात्रा पर चलते रहें। समय के साथ, आप स्मार्ट हो जाएंगे। साथ ही यह सफलता की सीढ़ी भी है।

4. प्रतिदिन पढ़ने का अभ्यास करें (Read in Regular Basis To Be Smart in Hindi)

अगर आपके जीवन में अभी कोई भी समस्या या दुविधा है, तो कम से कम एक अच्छी किताब तो होगी जिसमें आपकी दुविधा का हल है और आपको इसे हल करने के कई अलग-अलग तरीके बताती है।

और पढ़ें -  ज्ञान ही शक्ति है पर भाषण Speech on Knowledge is Power in Hindi

उन किताबों को पढ़ें क्योंकि यह आपके मस्तिष्क को प्रशिक्षित करने में भी मदद कर सकता है। यह आपकी पूरी जिंदगी भी बदल सकता है। पढ़ने के माध्यम से, आप सफल लोगों से जुड़ सकते हैं और उनके द्वारा साझा किए गए पाठों से आप बहुत कुछ सीख सकते हैं।

किताबों को पढ़ कर आप स्मार्ट बन सकते हैं। बिल गेट्स अपने निजी ब्लॉग पर बहुत सारी किताबों के बारे में बात करते हैं जिन्होंने दुनिया को बदल दिया। यदि आप जीवन स्मार्ट बनना चाहते हैं, तो शुरू करने के लिए कोई भी किताब चुनें।

और पढ़ें: सफल होने के लिए कुछ बेस्ट किताबें

5. स्वयं से सवाल करते रहें और उत्तर ढूंढते रहे Ask Questions To Yourself and Seek For The Answers

जब आप स्मार्ट बनना चाहते हैं, तो सबसे महत्वपूर्ण चीज जो आप कर सकते हैं वह है- प्रश्न पूछना। नवप्रवर्तन की शुरुआत हमेशा प्रश्नों और जिज्ञासाओं से होती है। बहुत महत्वपूर्ण है कि हमेशा हर चीज पर सवाल उठाते हुए अपने दिमाग को खुला और जिज्ञासु बनाए रखें।

जब आप प्रश्न पूछ रहे हों, तो उनसे केवल पूछना ही पर्याप्त नहीं है। आपको ऐसे प्रश्न पूछने चाहिए जो आपकी धारणाओं की वैधता को देखें, सोचें कि तर्क कैसे काम करता है, और अज्ञात में देखें। ऐसे प्रश्न पूछें जो विशिष्ट हों और आप उत्तर के लिए प्रयास करने को तैयार रहें।

किसी भी अन्य चीज़ की तरह इस कौशल को सीखने में समय लगता है। जब आप काम कर रहे हों, पढ़ रहे हों या अन्य काम कर रहे हों, तो आप उन सवालों की एक सूची रख सकते हैं जो दिमाग में आते हैं। आप मन में आने वाले सभी प्रश्नों को लिख सकते हैं। जब कुछ स्पष्ट न हो, तो मदद मांगने से न डरें।

6. शारीरिक गतिविधियों में भाग लें (Do Physical Acivities To Be Smart in Hindi)

मस्तिष्क के कार्य को बेहतर बनाने के लिए शारीरिक गतिविधि सबसे प्रभावी रणनीतियों में से एक है। एक विश्वसनीय स्रोत के अनुसार, हल्का व्यायाम हिप्पोकैम्पस में गतिविधि को उत्तेजित करता है, जो याददाश्त में महत्वपूर्ण है।

यह हिप्पोकैम्पस और याददाश्त को नियंत्रित करने वाले अन्य मस्तिष्क क्षेत्रों के बीच की कड़ी को भी मजबूत करता है। अध्ययन के लेखकों ने अनुमान लगाया कि एरोबिक गतिविधि न्यूरॉन विकास को उत्तेजित करती है, जो मस्तिष्क की संरचना और कार्य में सुधार करती है।

व्यायाम के संज्ञानात्मक लाभों को प्राप्त करने के लिए नियमित रूप से इसमें संलग्न होना आवश्यक है। अच्छी बात यह है कि इसके लाभ पाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करने की जरूरत नहीं है। उदाहरण के लिए कुछ आसान योग, बॉडी वर्काउट, हाइकिंग, वॉकिंग, खेल खेलना

7. लक्ष्य सेट करें (Set Goal To Be Smart in Hindi)

स्वयं को बेहतर और स्मार्ट बनने के लिए आपको अपने लक्ष्यों को स्पष्ट रूप से बताना होगा। निरंतर सुधार सुनिश्चित करने के लिए स्मार्ट लक्ष्य निर्धारित करना एक महत्वपूर्ण तकनीक है।

किसी चुनौतीपूर्ण उद्देश्य से न ड़रें और चुनौतियों का आनंद लें। शोध के अनुसार, विशिष्ट और महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित करने से व्यक्ति के प्रदर्शन में सुधार होता है।

जैसा कि पहले स्वीकार किया गया था, आजीवन सीखने वाले वे होते हैं जो अपने प्रदर्शन के बारे में चिंतित रहते हैं और कभी भी सीखना बंद नहीं करते हैं। याद रखें एक व्यक्ति तभी स्मार्ट है जब वह अपने लक्ष्य के विषय में सब जानता है। तभी वह उसे पाने में सफल हो पाते हैं।

और पढ़ें -  बिजली बचाने के तरीके Save Electricity Ideas and Tips in Hindi

8. हर दिन कुछ नया करें (Try To Do Someting New Everyday)

अपनी छोटी, रोज़मर्रा की विशेषज्ञताओं के लिए ढेर सारे विचार प्राप्त करने के लिए, आपको हर दिन कुछ नया करना चाहिए। जितना अधिक आप नई चीजों की कोशिश करते हैं, उतना ही आप सीखते हैं। यह आपको नई अच्छी और बुरी परिस्थितियों के अनुकूल बनाता है।

आपको कुछ नया सोचने के लिए यह प्रेरित करता है और आपको अनुसरण करने के लिए उदाहरण देता है। जब आप नई चीजों को आजमाते हैं, तो आप एक ऐसे व्यक्ति बन जाते हैं, जिसे दूसरे लोग देखने लगते हैं।

साथ ही, अधिक काम करने की आपकी क्षमता में आत्मविश्वास होने से आप अपने बारे में बेहतर महसूस करेंगे। जो लोग नई चीजें करते हैं, उनका दिमाग अधिक मेहनत करता है और वह स्मार्ट बनते हैं।

9. विश्वास रखें अभी देर नहीं हुई है (Believe It’s Never Too Late to Start Something)

बहुत सारे लोग सोचते हैं कि जब वे एक निश्चित उम्र तक पहुँच जाते हैं, तो वे अब एक नया प्रोजेक्ट शुरू नहीं कर सकते हैं और इससे पैसा नहीं कमा सकते हैं। सच तो यह है कि यह सिर्फ अपने कम्फर्ट जोन में रहने का एक तरीका है।

लोग क्या सोचते हैं उस पर ध्यान न दें। कुछ भी शुरू करने की कोई सही उम्र नहीं होती। हेनरी फोर्ड 45 वर्ष के थे जब उन्होंने फोर्ड मॉडल टी कार बनाई, जो दुनिया की पहली सस्ती कार थी।

भले ही आपकी उम्र कुछ भी हो अगर आपके मन में कोई स्मार्ट आइडीया है और आप उसे करने में सक्षम हैं तो आप एक स्मार्ट व्यक्ति हैं। इसलिए हमेशा कदम आगे बढ़ाएं न की पीछे।

10. सीखी हुई बातों पर थोड़ा नजर घुमाएं T(ake a Look at What You’ve Learned)

हम नई चीजों को सीखने के बाद सबसे अच्छी तरह याद करते हैं। लोग चीजों को जल्दी भूल जाते हैं यदि वे सीखने के तुरंत बाद उनका उपयोग नहीं करते हैं।

जैसे-जैसे समय बीतता है, हम केवल वही याद कर सकते हैं जो हमने हाल ही में सीखा था। याद रखने के लिए सीखी हुई बातों को बार-बार याद करते रहना बहुत जरूरी है।

कुछ पढ़ते या शोध करते समय नोट्स बनाएं, या जब आप काम पूरा कर लें तो मुख्य बिंदुओं को लिख लें। यहां तक ​​कि अगर आप सीखी हुई बातों को देखने के लिए दिन में केवल कुछ मिनट बिता सकते हैं, तो ऐसा करें।

इसमें थोड़ा समय लगता है, लेकिन एक बार जब आप इसे अपनी आदत बना लेते हैं, तो आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि इससे आपको यह सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी कि आप इसे समझते हैं और याद रखते हैं।

निष्कर्ष Conclusion

जीवन भर अपने ज्ञान के बैंक को बढ़ाने के परिणामस्वरूप होने वाले लाभों के बारे में सकारात्मक दृष्टिकोण रखना महत्वपूर्ण है। अपनी व्यक्तिगत शिक्षा और पेशेवर विकास का आनंद लेना संभव है, भले ही आप वास्तव में स्कूल गए हों या नहीं।

उन विषयों के बारे में अध्ययन करना भी संभव है जो वास्तव में आपके लिए दिलचस्प हैं। एक बार जब आप शुरू कर देते हैं, तो खुद को पीछे करना मुश्किल होगा। यह सब बातें आपको एक स्मार्ट व्यक्ति बनने में मदद करेंगे।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.