अंग्रेजी के महत्व पर निबंध Importance of English language essay in Hindi

इस लेख में हम आपको अंग्रेजी के महत्व पर निबंध Importance of English language essay के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे।

अंग्रेजी के महत्व पर निबंध Importance of English language essay

हमारे जीवन में अंग्रेजी का बहुत महत्व है। आज के समय जो लोग अंग्रेजी भाषा नहीं जानते हैं वह अपने आपको पिछड़ा हुआ पाते हैं। अंग्रेजी विश्व की तीसरी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है जबकि मंडारिन (चीन की भाषा) और स्पेनिश विश्व में सबसे अधिक बोली जाती है। अंग्रेजी 67 देशों में बोली जाती है।

हमारे देश में अंग्रेजी का महत्व बहुत अधिक बढ़ गया है। सब जगह इंग्लिश मीडियम स्कूल खुल गए हैं। हर मां-बाप चाहता है कि उसके बच्चे को अंग्रेजी भाषा बोलना आये। आजकल कंप्यूटर से जुड़ी अधिकतर चीजें अंग्रेजी में होती हैं। सोशल मीडिया पर भी अंग्रेजी का इस्तेमाल बढ़-चढ़कर किया जाता है।

अंग्रेजी का महत्व नौकरी पाने के लिए भी बहुत अधिक है। संपूर्ण विश्व में 20% जनसंख्या अंग्रेजी भाषा का इस्तेमाल करती है। अंग्रेजी एक ऐसी भाषा है जो हमें दुनिया से जोड़ती है।

इंग्लिश स्पीकिंग का महत्व Importance of english speaking

देश में अंग्रेजी बोलने वाले लोगों को श्रेष्ठ समझा जाता है। आजकल तो इंग्लिश स्पीकिंग संस्थानों की बाढ़ सी आ गई है। हर छोटे-मोटे शहर में इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स करवाए जा रहे हैं। सभी मां बाप का सपना होता है कि उनके बच्चे फराटेदार अंग्रेजी बोले।

इसे भी पढ़ें -  अंग्रेजी बोलना कैसे सीखें? How to Learn English Speaking Easily Notes and PDF in Hindi

शिक्षा में अंग्रेजी भाषा का महत्व importance of English Language in education

शिक्षा के क्षेत्र में अंग्रेजी भाषा का विशेष महत्व है। इंजीनियरिंग मेडिकल एमबीए आईआईटी चार्टर्ड अकाउंटेंट एलएलबी वकालत कंप्यूटर शिक्षा इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी जैसी सभी उच्च शिक्षा के कोर्स अंग्रेजी भाषा में होते हैं। किताबें भी अंग्रेजी भाषा में होती हैं। इसलिए स्टूडेंट्स के लिए अंग्रेजी पढ़ना और भी अधिक जरूरी हो गया है।

अंग्रेजी भाषा का महत्व इसलिए बढ़ जाता है क्योंकि यह कंप्यूटर की भाषा भी है। कंप्यूटर की सारी चीजें सॉफ्टवेयर कोडिंग ग्राफिक डिजाइनिंग सोशल मीडिया सब कुछ अंग्रेजी में है। इसलिए इसका महत्व और भी बढ़ जाता है। आजकल सोशल मीडिया पूरे विश्व में फैल चुका है। सभी लोग सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हैं। मजबूरन उन्हें अंग्रेजी सीखनी पड़ती है।

संवाद करने के लिए अंग्रेजी भाषा की आवश्यकता Importance of English communication skills

अंग्रेजी एक ऐसी भाषा है जो विश्व भर में बोली जाती है। जो लोग अंग्रेजी जानते हैं वह कहीं भी जाकर आराम से संवाद कर सकते हैं। भारत में अंग्रेजी का प्रचलन अंग्रेजों के आने के बाद शुरू हुआ। देखते ही देखते यहां इंग्लिश मीडियम स्कूल खुलने लगे। जो शिक्षा पहले हिंदी में दी जाती थी अब अंग्रेजी में दी जाने लगी।

स्टूडेंट के लिए अंग्रेजी भाषा का महत्व  Importance of speaking English for students

स्टूडेंट के लिए अंग्रेजी किसी वरदान से कम नहीं है क्योंकि आजकल सभी परीक्षाएं अंग्रेजी भाषा में होती हैं। इसके अलावा भारत के बहुत से स्टूडेंट विदेश में जाकर शिक्षा प्राप्त करते हैं। ऐसे में अंग्रेजी का महत्व बहुत अधिक बढ़ जाता है। क्योंकि विदेशों में अंग्रेजी भाषा में ही शिक्षा दी जाती है।

विश्व में अंग्रेजी भाषा का महत्व Importance of English language in world

भाषा का बड़ा फायदा है कि इसके द्वारा विदेशों में आसानी से दूसरे लोगों से बात कर सकते हैं। भारतीय लोग अधिकतर हिंदी भाषा का इस्तेमाल करते हैं पर आजकल बहुत से भारतीय विदेशों में जाकर नौकरियां करते हैं। अमेरिका ब्रिटेन रूस सऊदी अरब जैसे देशों में भारतीयों की जनसंख्या बहुत अधिक है। वे सभी अंग्रेजी भाषा में वहां के लोगों से बात करते हैं।

इसे भी पढ़ें -  शारीरिक शिक्षा का महत्त्व निबंध Importance of Physical Education in Hindi

इस तरह अंग्रेजी एक बहुत ही महत्वपूर्ण भाषा है। इसे “ग्लोबल लैंग्वेज” भी कहते हैं। जिन लोगों को अंग्रेजी आती है वह विश्व में कहीं भी आ जा सकते हैं। संयुक्त राष्ट्र में पांच भाषाओं में अंग्रेजी को भी मान्यता दी गई है।

भारत में अंग्रेजी भाषा का महत्व Importance of english in india

भारत में 10% जनसंख्या अंग्रेजी भाषा बोलती है। देश में अंग्रेजी का महत्व हर दिन बढ़ता जा रहा है। ज्यादातर कम्पनियों में उन्ही लोगो को नौकरी दी जाती है जिन्हें अग्रेजी आती है। भारत में राष्ट्रभाषा हिंदी को माना गया है पर हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में काम अंग्रेजी भाषा में होते हैं।

भारत में दक्षिणी राज्य जैसे कर्नाटक तमिलनाडु केरला आंध्र प्रदेश उड़ीसा कोलकाता जैसे राज्यों में वहां की स्थानीय भाषा बोली जाती है। ऐसी स्थिति में अंग्रेजी का महत्व बढ़ जाता है। जिन लोगों को अंग्रेजी आती है वह वहां पर जाकर आसानी से लोगों से बात कर सकते हैं। जिन्हें अंग्रेजी नहीं आती है उन्हें देश में भी बड़ी समस्या का सामना करना पड़ता है।

तमिलनाडु आंध्र प्रदेश केरला जैसे राज्यों में हिंदी बहुत ही कम लोग जानते हैं। वे स्थानीय भाषा या अंग्रेजी भाषा ही जानते हैं। ऐसे में अंग्रेजी का महत्व बढ़ जाता है। उत्तर भारतीय लोग अंग्रेजी में बड़े ही आसानी से दक्षिण भारतीय लोगों से बात कर लेते हैं। देश में अंग्रेजी इतनी जरूरी हो गई है कि मां बाप अपनी जीवनशैली में कटौती कर सकते हैं पर बच्चों को पढ़ने के लिए इंग्लिश मीडियम स्कूल में भेजते हैं।

व्यापार के लिए अंग्रेजी भाषा का महत्व English in business communication

यह बिजनेस (व्यापार) करने की दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण है। अधिकतर व्यापार अंग्रेजी भाषा में किया जाता है। कंप्यूटर और इंटरनेट के युग की शुरुआत होने के बाद अब अंग्रेजी का महत्व और अधिक बढ़ गया है। क्योंकि ज्यादातर व्यापार ऑनलाइन होने लगा है। बिस्कुट साबुन क्रीम पाउडर किताबें दवाये सभी कुछ ऑनलाइन बिकने लगा है।

इसे भी पढ़ें -  विश्व कैंसर दिवस पर निबंध Essay on World Cancer Day in Hindi

ऐसे में जिन लोगों को अंग्रेजी आती है वो ऑनलाइन जाकर कोई भी वस्तु खरीद सकते हैं। व्यापारियों के लिए तो अंग्रेजी बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि अपना प्रोडक्ट (माल) इंटरनेट पर बेचना पड़ता है। ऐसे में अंग्रेजी भाषा जानना उनके लिए जरूरी हो गया है। GST और दूसरे टैक्स की लिखा पढ़ी भी अंग्रेजी में होती है।

इसके साथ ही बैंकों में अंग्रेजी का इस्तेमाल बढ़-चढ़कर किया जाता है। पैसे निकालने और जमा करने के लिए भी लोग इंग्लिश में फॉर्म भरते हैं। देश में डिजिटल क्रांति होने के बाद पैसों का लेन-देन मोबाइल फोन और कंप्यूटर के द्वारा किया जाता है जिसमें अंग्रेजी भाषा का इस्तेमाल किया जाता है। इसलिए आज अंग्रेजी भाषा का महत्व बहुत अधिक बढ़ गया है  

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.