परिश्रम का महत्व पर निबंध Importance of Hard Work Essay in Hindi

इस लेख में हमने परिश्रम का महत्व पर निबंध Importance of Hard Work Essay in Hindi हिन्दी में लिखा है। इसमे हमने जीवन में परिश्रम का मोल, भाग्य से इसका जुड़ाव, उदाहरण, लाभ और हानी के विषय में पूरी जानकारी दी है।

परिश्रम का महत्व पर निबंध Importance of Hard Work Essay in Hindi

हमेशा से ही कठिन परिश्रम का विशेष महत्व रहा है। कोई भी काम बिना परिश्रम के संभव नहीं होता है। इसके बल पर दुनिया में कुछ भी पाया जा सकता है? इतिहास गवाह है कि लोग अपने परिश्रम के बल पर ही भगवान को भी प्राप्त कर लेते थे।

इस संसार के हर एक व्यक्ति को परिश्रम जरूर करना पड़ता है चाहे वो मनुष्य हो, जीव हो या जंतु, सभी को परिश्रम करना ही पड़ता है। परिश्रम ही है जिसके द्वारा किसान जमीन को सोना बना देता हैl

वो दिन रात मेह नत करके अपनी कृषि की भूमि को ऐसा बना देता है की वो भूमि उसको सोने जैसे भाव देने लगती है। इसलिए कहा जाता है की हमको मेहनत जरूर करनी चाहिए। यही सफलता की कुंजी है।

कठिन परिश्रम का महत्व Importance of Hard Work

आखिर ऐसा क्या है जिसके कारण परिश्रम हमारे जीवन में आवश्यक है? परिश्रम का मानवीय जीवन में अत्यधिक महत्व है, अपने सम्पूर्ण जीवन में कोई भी मनुष्य बिना कार्य करे नही रह सकताl इस संसार में उपस्थित सभी जीव जंतु प्राणी नियमित रूप से अपना जीवन यापन के लिए कार्य करते हैl

परिश्रम ही एक ऐसा साधन है जिसके माध्यम से एक व्यक्ति अपने जीवन की किसी भी परेशानी से छुटकारा पा सकता हैl नियमित रूप से किया गया परिश्रम ही हमें हमारे जीवन के लक्ष्यों तक पहुँचाता है l शायद ही कोई ऐसा कार्य है जो परिश्रम से पूरा न किया जा सकेl

कड़ी मेहनत से ही सफलता, उन्नति और विकास का मार्ग प्रशस्त होता है l सम्पूर्ण प्रकृति भी अपना काम बिना रुके पूरे परिश्रम से कार्य करती है l नदियाँ दिन रात बहती है, कीड़े, पशु, पक्षी अपने दैनिक जीवन में व्यस्त रहते हैं, सूर्य चन्द्रमा अपने समय पर बिना रुके अपन काम करते है।

इसे भी पढ़ें -  चक्रवात और इसका प्रबन्धन Cyclone and Its management in Hindi

आज संसार के सभी देश परिश्रम के बल पर ही उन्नति और विकास कर रहे हैl परिश्रमी व्यक्ति को न केवल जीते जी यश की प्राप्ति होती है बल्कि मरने के बाद भी यश मिलता हैl जिस देश के लोग परिश्रमी होते है वही देश उन्नति कर सकता है। जिस देश के नागरिक आलसी और भाग्य पर निर्भर होते हैं वह देश किसी भी शक्तिशाली देश का आसानी से गुलाम बन जाता है।

संसार का कोई भी कार्य बिना परिश्रम के संपन्न नही हो सकता l परिश्रम ही सफलता की कुंजी है जिस तरह सूर्य के प्रकाश से अन्धकार दूर होता है ठीक उसी प्रकार परिश्रम से मनुष्य के जीवन से अज्ञान रूपी अंधकार दूर होकर परिश्रमी व्यक्ति का भविष्य उज्जवल होता हैl

बिना कठिन परिश्रम के उन्नति संभव नही है, क्योंकि भले ही सामने भोजन की थाली लगी हो लेकिन यदि उसे खाने के लिए थोडा कार्य न किया जाये तो भोजन कितना भी स्वादिष्ट क्यों न हो उसका स्वाद नही लिया जा सकताl

संसार के सभी सफल व्यक्तियो ने परिश्रम से जीवन में हर चुनौतियों का सामना किया और आज उन्हें उनके परिश्रम के कारण ही जाना जाता है l मनुष्य का परिश्रम ही है की आज संसार में ऐसी सुविधाए हो गयी है जिसकी कभी कल्पना भी नहीं की गयी थी।

मानव के परिश्रम का ही फल है कि आज दुर्गम पहाड़ियों में भी यातायात के अच्छे-अच्छे साधन सुलभ हो गये है । पर्वतों को काटकर सडकों का निर्माण, नदियों और समंदर पर पुल बनाने का कार्य, समंदर की छाती को चीरकर आगे बढ़ना, दुनिया में बड़ी-बड़ी इमारतों का निर्माण अंतरिक्ष, चाँद और सूरज तक जाने की योजना बनाना, कुछ देशों का वहां तक पहुंच भी जाना ये सब परिश्रम के ही फल है जो पूरी दुनिया में लोगों द्वारा किये जा रहे है।

परिश्रम और भाग्य Hard Work and Luck

क्या भाग्य ही सब कुछ है? क्या भाग्य के आगे परिश्रम का कोई महत्व नही है? कई लोगो द्वारा भाग्य को ही सब कुछ मान लिया जाता है और उसे ही अत्याधिक महत्व देते हैl

ऐसे लोग भाग्य पर निर्भर होने के कारण जीवन में बड़ा हासिल नही कर पाते और भाग्य के सहारे ही जीवन जीते है और आलस का दामन थाम लेते है जबकि परिश्रम से कोई भी मनुष्य अपने भाग्य को भी बदल सकता है।

इसे भी पढ़ें -  मन के हारे हार है, मन के जीते जीत Man Ke Haare Haar - Man ke Jeete Jeet

इसीलिए यदि जीवन में सफलता हासिल करना चाहते है तो परिश्रम करें सफलता जरुर मिलेगीl इतिहास में ऐसे कई उदहारण मौजूद है जिन्होंने गरीबी में जन्म लिया।

परिश्रम के बल पर न केवल संपन्न हुए बल्कि इतिहास के पन्नो में अपना नाम दर्ज कराया यह वो लोग थे जो परिश्रम पर भरोसा करते थे न की भाग्य पर l जिन लोगों के पास थोडा धन हुआ करता था वे अपने परिश्रम से धनवान बन गये।

परिश्रम के उदाहरण Examples of Hard Work and Success

इन सभी लोगो ने अपने परिश्रम के बल पर सफलता प्राप्त की l परिश्रम करने से सफलता आज नही तो कल अवश्य मिलती है l लेकिन जब परिश्रम ही नही करेंगे तो सफलता मिलना मुश्किल है l इसलिए भाग्य के भरोसे नहीं बैठना चाहिए काम करते रहो फल तो देने वाला देगा ही आज नहीं तो कल सफलता जरूर मिलेगी।

परिश्रम के लाभ Benefits of Hard Work

परिश्रम से मनुष्य के जीवन में अनेक लाभ होते हैं। मनुष्य द्वारा किये गये परिश्रम से सभी कार्य संपन्न होते है l परिश्रमी व्यक्ति का स्वास्थ्य अच्छा रहता है साथ ही उनका शरीर हष्ट-पुष्ट रहता है एवं परिश्रम करने से मनुष्य का शरीर रोगों से मुक्त रहता है। परिश्रम से ही जीवन में विजय और धन दोनों ही पाए जा सकते है।

भाग्य के भरोसे रहने वाले लोग जीवन में बस भाग्य तक ही सीमित रह जाते है और जीवन में आगे नहीं बढ़ पाते। भाग्य के भरोसे रहने के कारण इन लोगो में आलस्य पैदा हो ज्यादा है जो उनको कभी भी आगे नहीं बढ़ने देता है।

इसे भी पढ़ें -  भारतीय न्यायपालिका और इसके कार्य Indian Judiciary System and Its functions in Hindi

ईश्वर ने ये जीवन परिश्रम करने के लिए बनाया है। यही एक ऐसी पूंजी है जो किसी की भी दुनिया बदल सकती है। ऐसा कोई भी कार्य नहीं है जो परिश्रम से सफल न हो सकें।

परिश्रम करने से किसी भी ब्यक्ति की उन्नति और विकास पूरी तरह से होता है। परिश्रम से ही विकास की रचना होती है। जिन व्यक्तियों के जीवन में आलस भरा होता है वे कभी भी जीवन में उन्नति नहीं कर सकते हैं। परिश्रमी व्यक्ति ही अपने राष्ट्र और देश को ऊँचा उठाने के लिए काम करते रहते है।

आलस्य से हानियाँ Disadvantages of Lazyness

जीवन में आलस्य से जीवन अभिशाप बन जाता है। आलसी व्यक्ति दुसरो पर निर्भर हो जाता है और खुद से प्रयास नही करता l

आलस ही असफलता का कारण होता है, जो व्यक्ति आलसी हो जाता है उसका विकास रुक जाता है और सफलता पाना उसके लिए नमुमकिन हो जाता हैl जबकि परिश्रमी व्यक्ति जीवन में आगे बढ़ता हैl विद्यार्थी को परिश्रम करना चाहिए जिससे वह परीक्षा में सफल होकर जीवन में भी सफल हो सके।

इस प्रकार परिश्रम का हमारे जीवन में एक विशेष महत्व है इसके बिना जीवन की कल्पना करना मुश्किल है l मजदूर भी परिश्रम से ही संसार के लिए उपयोगी वस्तुओं का निर्माण करता है, कवि और लेखकों ने परिश्रम के बल पर अपनी रचनाओं से देश को मंत्रमुग्ध किया है।

जो लोग परिश्रमी होते हैं वे चरित्रवान, ईमानदार, और स्वावलम्बी होते हैं। अगर हम अपने देश और राष्ट्र की उन्नति चाहते हैं तो हमें भाग्य पर निर्भर होना छोडकर परिश्रमी बनना होगा। यही हमारे जीवन के लिए सबसे अच्छा है। जीवन में ऐसा कोई भी कार्य नही है जिसे परिश्रम के द्वारा न किया जा सकेl

निष्कर्ष Conclusion

इस परिश्रम पर निबंध पर आपने जाना की कड़ी मेहनत और लगन से हमें क्या लाभ है। साथ ही परिश्रम के लाभ, हानी और उदाहरण भी हमने बताए। आशा करते हैं परिश्रम का महत्व पर निबंध Importance of Hard Work Essay in Hindi लेख आपको पसंद आया होगा। अपने विचार कमेन्ट के माध्यम से जरूर भेजें और इस लेख को अपने मित्रों के साथ शेयर करें।

1 thought on “परिश्रम का महत्व पर निबंध Importance of Hard Work Essay in Hindi”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.