लेमन ग्रास के फायदे और नुकसान Lemon Grass Benefits and Side Effects in Hindi

हेल्लो दोस्तों, आज के इस लेख में हम आप को लेमन ग्रास के फायदे और नुकसान (Lemon Grass Benefits and Side Effects in Hindi) के बारे में बताने वाले है। हम में से बहुत से लोग को इसके बारे में पता भी नही है कि ये हमारे लिए कितना फ़ायदेमंद है।

लेमन ग्रास में बहुत से औषधिक गुण पाए जाते है जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक है। आइये जाने लेमन ग्रास क्या है और इसके क्या फायदे है।

लेमन ग्रास क्या है (What is Lemon Grass in Hindi?)

दोस्तों, लेमन ग्रास एक औषधिक पौधा है, जो हमारे लिए बहुत ही उपयोगी है। इसका वैज्ञानिक नाम सिम्बेपोगोन साइट्रेटस (Cymbopogon citratus) है।  इसके नाम से ये किसी घास के जैसा महसूस होता है लेकिन वास्तव में ये घास नही है। ये घास की तरह हरी और आम घास के मुकाबले ज्यादा लंबी होती है। 

इसमें नींबू के जैसी महक पाई जाती है इसीलिए इसका नाम लेमन ग्रास दिया गया है। इसमें कई सारे औषधिक गुण पाए जाते है जैसे एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-इन्फ्लेमेटरी व एंटी-फंगल आदि जो हमें कई तरह की बीमारियों से बचाता है। वैसे तो ये दक्षिण-पूर्वी एशिया के साथ अफ्रीका और अमेरिका महाद्वीप में भी पाया जाता है। (source)

लेमन ग्रास हमारे नर्वस सिस्टम, त्वचा और इम्यून सिस्टम के लिए बहुत ही लाभकारी है। इसके सेवन से कई बीमारियों का खतरा कम कर देता है जैसे – टाइप-2  डायबिटीज, मोटापे, कैंसर, पेट संबंधी बीमारियाँ, इंसोम्निया, श्वसन संबंधी आदि।

इसे भी पढ़ें -  गोमूत्र के स्वास्थ्य लाभ Health Benefits of Gomutra (Cow Urine) in Hindi

लेमन ग्रास के पौष्टिक तत्व (Lemon Grass Nutritional Value in Hindi)

सभी पौधों की तरह इसमें भी कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते है। जैसे –

पानी, प्रोटीन, फैट, कार्बोहाइड्रेट, मिनरल, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटैशियम, सोडियम, जिंक, कॉपर, मैंगनीज, सिलेनियम, विटामिन सी, थियामिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन, विटामिन बी-6, विटामिन ए आदि (source)

लेमन ग्रास के फायदे और नुकसान Lemon Grass Benefits and Side Effects in Hindi
लेमन ग्रास

लेमन ग्रास के फायदे (Health benefits of Lemon grass in hindi)

1. कैंसर से बचाव Cancer

दोस्तों लेमन ग्रास में एंटी-कैंसर गुण पाए जाते है, जो हमारे शरीर को कैंसर से बचाने का काम करते है। इसके लिए आप लेमन ग्रास तेल या इसकी चाय भी पी सकते है। यदि आप चाहते है कि आप कैंसर जैसी बीमारी से बचे रहें, तो इसके लिए आपको  अपने आहार में लेमन ग्रास को ज़रूर शामिल करना चाहिए। (source)

2. किडनी के लिए Kidney health

हम सभी जानते है कि किडनी हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। और इसका स्वस्थ रहना हमारे लिए बहुत ही जरूरी है। लेमन ग्रास में मूत्रवर्धक गुण (Diuretic properties) पाया जाता है, जिसके सेवन से आपकी किडनी स्वस्थ रहती है। मूत्रवर्धक गुण (Diuretic properties) पाए जाने के कारण माना जाता है कि ये पथरी (stone) को भी शरीर से निकालने में सहायक होता है। (source)

3. कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने में Controls cholesterol

हम सभी जानते है कि हमारे शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा बढ़ने से हमें स्ट्रोक और हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है। इसीलिए शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा कम करने के लिए बहुत से लोग लेमन ग्रास का इस्तेमाल करतें है। बहुत से वैज्ञानिको का मानना है कि लेमन ग्रास के तेल का इस्तेमाल से शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा कम हो जाती है। (source)

4. पेट के लिए Good for Digestion

लेमन ग्रास में पाए जाने वाले औषधिक गुण के कारण ये हमारी पाचन शक्ति को भी बढ़ता है। लेमन ग्रास में एंटी-माइक्रोबियल, एंटी-बैक्ट्रियल और एंटी-ऑक्सीडेंट जो हमें पेट संबंधी कई बीमारियों से बचाता है जैसे – अल्सर, कब्ज, कोलाइटीस आदि।

5. प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में Immunity system

लेमन ग्रास में पाये जाने वाले एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल, एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण हमारे शरीर के रोगों के प्रति प्रतिरोधकता को बढ़ता है। इसके सेवन से हमारे शरीर की प्रतिरक्षा तंत्र मजबूत होती है और ये हमारे शरीर को कई प्रकार के संक्रमण और बीमारियों से भी बचाता है।

इसे भी पढ़ें -  दौड़ने के स्वास्थ्य लाभ क्या हैं? Health Benefits of Running in Hindi

6. अरोमाथेरेपी में Aroma therapy

प्राचीन समय में शारीरिक स्वास्थ्य को ठीक रखने के लिए पौधों के तेल का इस्तेमाल किया जाता था। लेमन ग्रास तेल का उपयोग अरोमाथेरेपी व्यापक रूप में किया जाता है क्योंकि इससे चिकित्सीय प्रभाव के कारण शरीर को फ्रेश रखनें में मदद करता है। (source)

7. वजन कम करने मे Weight loss

बहुत से लोगो का में मानना है कि लेमन ग्रास के सेवन से वजन भी कम किया जा सकता है, क्योंकि इसमें सिट्रोल पाया जाता है जो पेट में वसा के संचय को रोक देता है। जिससे वजन का बढ़ना रुक जाता है।

8. अस्थमा के लिए Asthma

लेमन ग्रास में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-एलर्जिक गुण होता है, जो हमें एलर्जिक अस्थमा से बचने में सहायक होता है। इसके सेवन से एलर्जिक अस्थमा से बचने में सहायता मिल सकती है।

9. मधुमेह के उपचार में Diabetic

आप में से बहुत से लोग मधुमेह यानि डायबिटीज़ से परेशान होंगें, ऐसे में आपको लेमन ग्रास का सेवन करना चाहिए। इसमें एंटी-डायबिटिक गुण पाया जाता है, जो हमारे शरीर में ब्लड शुगर को नियंत्रित करता है, जो हमारे डायबिटीज़ के उपचार में सहायक होता है। (source)

10. स्ट्रेस दूर करने में Reduce stress

लेमन ग्रास के इस्तेमाल से स्ट्रेस से बचा जा सकता है। माना जाता है कि मैग्नीशियम की कमी से तनाव, सिरदर्द, अनिद्रा, थकान, अति-भावनात्मकता आदि हो सकता है। लेमन ग्रास में पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम पाई जाती है। यदि आप चाहें तो स्ट्रेस दूर करने के लिए लेमन ग्रास तेल का इस्तेमाल अरोमाथेरेपी में भी कर सकते है।

11. त्वचा के लिए For healthy skin

लेमन ग्रास हमारे त्वचा के लिए त्वचा टॉनिक के रूप में काम करता है। इसमें पाये जाने वाले एंटीसेप्टिक गुण होने के कारण ये हमारी त्वचा की रक्षा करती है। इसके इस्तेमाल से बेदाग़ और पिम्पल-फ्री त्वचा पाने में सहायक है।

12. नींद के लिए For good sleep

बहुत से लोगो को नींद ना आने की समस्या होती है। इस समस्या से आराम पाने के लिए आप लेमन ग्रास तेल का इस्तेमाल कर सकते है। इसमें सीडेटिव (Sedative) गुण होने के कारण ये बेहतर नींद आने में मदद करता है।

इसे भी पढ़ें -  तंदुरुस्ती एवं स्वास्थ्य पर भाषण Speech on Fitness and Health in Hindi

13. गठिया के लिए For gout

आज के इस दौर में 30 से  60 वर्ष के लोगो में गठिया या अर्थराइटिस (Arthritis) की समस्या एक आम बात हो गई है। लेमन ग्रास तेल के उपयोग इस समस्या से राहत मिल सकती है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते है, जो गठिया जैसी समस्या को कम करने में सहायक हो सकता है। (source)

लेमन ग्रास का उपयोग कैसे करें? (How To Use Lemon Grass in Hindi?)

वैसे तो लेमन ग्रास का स्वाद और इसकी महक नींबू की तरह ही होता है, लेकिन ये घास की तरह भी होती है इसिलए इसे लेमन ग्रास कहते है। इसका इस्तेमाल थाई खाना बनाने में ज्यादा किया जाता है। लेकिन इसे इस्तेमाल करने के और भी तरीके है जो नीचे दिए गये हैं:

  1. आप इसका इस्तेमाल ग्रीन टी की तरह चाय बनाने में कर सकते है।
  2. बहुत से लोग इसका इस्तेमाल सूप बनाने में भी करते है। इसे टमाटर सूप में भी डालकर इस्तेमाल किया जा सकता है।
  3. लेमन ग्रास का पेस्ट बनाकर आप सब्जियों में भी इसका उपयोग कर सकते है।
  4. इसकी पत्तियों का इस्तेमाल चिकन बनाते समय किया जाता है, जिससे स्वाद और भी अच्छा रहे।

लेमन ग्रास के नुकसान (Side Effects of Lemon Grass in Hindi)

  1. जिन लोगो को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो, वो लेमन ग्रास का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। (source)
  2. कुछ लोगो को लेमन ग्रास से एलर्जी हो सकती है जैसे – गले में सूजन, खुजली, साइन में दर्द आदि।
  3. गर्भवती और स्‍तनपान करवाने वाली महिलाओं को इसका उपयोग नहीं करना चाहिए। लेमन ग्रास के सेवन से माहवारी शुरू हो जाती है, इससे मिसकैरेज का डर बना रहता है।
  4. वैसे तो इसके सेवन के कोई दिक्कत नही होती है लेकिन इसके अधिक मात्रा में उपयोग करने से चक्कर आना, अधिक भूख लगना, मुंह सूखना, अधिक पेशाब आना, थकान आदि हो सकता है।
  5. लेमन ग्रास तेल के इस्तेमाल से त्वचा पर जलन और रैशेज, आंखों में जाने से आंखों में जलन हो सकती है।

आशा करते हैं इस लेख से लेमन ग्रास के फायदे और नुकसान के बारे में पूरी जानकारी मिली होगी।

1 thought on “लेमन ग्रास के फायदे और नुकसान Lemon Grass Benefits and Side Effects in Hindi”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.