नरेन्द्र मोदी की जीवनी Narendra Modi Biography in Hindi

इस लेख में आप नरेन्द्र मोदी की जीवनी Narendra Modi Biography in Hindi हिन्दी में पढेंगे। इसमें उनका परिचय, जन्म और प्रारंभिक जीवन, शिक्षा, राजनीतिक करियर, प्रधानमंत्री के रूप में कार्य, नोटबंदी, योजनायें, निजी जीवन, उपलब्धियां तथा कोरोना काल में नियमों को सम्मिलित किया गया है।

नरेन्द्र मोदी की जीवनी Narendra Modi Biography in Hindi

Contents

वर्तमान समय में पूरी दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता की बात करें, तो उसमें भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का नाम सबसे पहले नंबर पर आता है। भारत में नरेंद्र मोदी एक ऐसा नाम है, जिससे हर कोई भलीभांति परिचित है। 

नरेंद्र मोदी अपने किए गए विकास कार्यों के लिए प्रसिद्ध हैं। वे देश के एक ऐसे नेता हैं, जिन्होंने बेहद गरीबी में जीवन बिताया और आगे चलकर देश को पूरी दुनिया में ख्याति दिलाई है। 26 मई 2014 में नरेंद्र मोदी पहली बार पूर्ण बहुमत प्राप्त करके बीजेपी की तरफ से प्रधानमंत्री पद पर आसीन हुए। 

अपने कार्यकाल में उन्होंने कई हितकारी कार्य किए, जिसके कारण उन्हें दोबारा से भारत की जनता ने प्रधानमंत्री के लिए चुना। प्रधानमंत्री का चुनाव लड़ने से पहले नरेंद्र मोदी 2001 से 22 मई 2014 तक गुजरात के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। वर्तमान समय में नरेंद्र मोदी 15वें प्रधानमंत्री के पद पर कार्यरत हैं।

नरेंद्र मोदी अक्सर अपने लिए गए बेहतरीन निर्णयों के कारण प्रसिद्धि में बने रहते हैं, तो वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग उन्हें बिल्कुल भी पसंद नहीं करते। 

आपको बता दें की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने शासनकाल में जितने बड़े बदलाव किए हैं, वह पहले कभी नहीं हुए थे। अपनी बेहतरीन रणनीति के कारण उन्होंने भारत को अंतरराष्ट्रीय राजनीति में बहुत मजबूत स्वरूप प्रदान किया है।

नरेन्द्र मोदी का जन्म और प्रारंभिक जीवन Birth and early life of Narendra Modi in Hindi

तत्कालीन बॉम्बे राज्य जो अब वर्तमान गुजरात राज्य में आता है, वहां मेहसाणा जिले के वडनगर नामक छोटे से गांव में नरेंद्र दामोदरदास मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 के दिन हुआ था। 

नरेंद्र का जन्म एक अन्य पिछड़े वर्ग में हुआ था। उनके पिता का नाम श्री दामोदरदास मूलचंद मोदी तथा माता का नाम हीराबेन मोदी है। जब नरेंद्र का जन्म हुआ, तब उनके परिवार की स्थिति आर्थिक रूप से कुछ खास नहीं थी। 

उनके पिता रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने का कार्य करते थे। जब नरेंद्र थोड़े बड़े हुए तो वह भी प्रतिदिन अपने पिता के साथ रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने में उनकी मदद किया करते थे। उनकी माता घर का खर्च चलाने के लिए दूसरों के घरों में जाकर घर के कार्य करती थी।

नरेंद के माता-पिता धर्म-कर्म में विश्वास रखते थे, जिसके कारण आगे चलकर उनके अंदर भी अध्यात्म और सामाजिक कार्य के विचार समाहित हुए। 

एक पिछड़े वर्ग से ताल्लुक रखने के कारण उनका विवाह 18 वर्ष की छोटी उम्र में ही जशोदाबेन के साथ हुआ। हालांकि उन्होंने परिवारवाद को पीछे छोड़ कर अपना पूरा जीवन समाज सेवा में लगाने का विचार किया। 

बचपन में नरेंद्र की रूचि नाट्य कला में रही है। जब कभी भी गांव में रामलीला या रामायण की नाट्य कला आयोजित की जाती थी, उसने मोदी बचपन में जरूर भाग लिया करते थे। धर्म-कर्म के माहौल में रहने के परिणाम स्वरूप वे अपना जीवन राष्ट्र के लिए निछावर करने की इच्छा रखते थे। 

और पढ़ें -  पिता पर अनमोल कथन Best father quotes in Hindi

ऐसा कहा जाता है कि राजनीति में प्रवेश करने से पहले मोदी बहुत कम उम्र में ही साधु संगति करके वनवास लेना चाहते थे, लेकिन एक संत ने उन्हें समाज निर्माण का कार्य करने की सलाह दी और तभी से मोदी ने अपने प्रारंभिक जीवन की शुरुआत समाज सेवा से किया।

नरेन्द्र मोदी की शिक्षा Narendra Modi’s education in Hindi

नरेंद्र मोदी की प्रारंभिक शिक्षा वड़नगर के एक स्थाई विद्यालय में संपन्न हुई है। सन 1967 आते-आते मोदी जी ने हायर सेकेंडरी तक की शिक्षा प्राप्त कर ली। परिवार को चलाने के लिए वैसे ही माता-पिता को इतनी मजदूरी करनी पड़ती थी, जिससे दो वक्त की रोटी कमाई जा सके। 

हालांकि नरेंद्र मोदी बचपन में एक होनहार छात्र थे, लेकिन परिस्थितियों के आगे भला कौन क्या कर सकता है। पिता के कमाई में हाथ बटाने के साथ ही नरेंद्र ने अपनी शिक्षा संपन्न की जिसके पश्चात उनका झुकाव अध्यात्म की तरह हुआ।

ऐसा बताया जाता है, कि जब मोदी युवा थे, तब उन्होंने हिमालय और ऋषिकेश जैसे आध्यात्मिक स्थलों का दर्शन किया। यह जगह उन्हें इतना पसंद आया कि साधु संतो के संग उन्होंने दो वर्ष जितना लंबा समय वही ठहर कर आध्यात्मिक गुरुओं से शिक्षा प्राप्त की। 

जब नरेंद्र मोदी अपने घर वापस लौटे तो माता के आग्रह करने पर उन्होंने 1978 में दिल्ली यूनिवर्सिटी और गुजरात यूनिवर्सिटी में दाखिला करा लेकर अपने आगे की शिक्षा जारी रखी। इस दौरान उन्होंने राजनीतिक विज्ञान में स्नातक और स्नातकोत्तर की डिग्री प्राप्त की।

नरेंद्र मोदी को बचपन में अच्छे और जानकारी वर्धक पुस्तकें पढ़ने का बहुत शौक था। अपने साक्षात्कारों में मोदी जी बताते हैं, कि कैसे वे पुस्तकालयों में अपने जिज्ञासा को शांत करने के लिए घंटों का समय बिता दिया करते थे। पुस्तके पड़ने के कारण ही शायद मोदी जी की बोलने की कला बेहतरीन है।

नरेन्द्र मोदी के राजनीतिक करियर की शुरुवात Narendra Modi’s political career in Hindi

शिक्षा पूरी करने के पश्चात नरेंद्र मोदी का झुकाव राजनीति की तरफ हुआ। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में मोदी ने सेवा प्रदान किया, जिसके बाद वह अहमदाबाद में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में जुड़ने के लिए गए। 

मोदी जी ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से ही शुरू की। पहले चरण में उन्होंने एक प्रचारक के रूप में पूरे देश में आर.एस.एस का प्रचार किया। 

जब भारत की प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी थी, तब उन्होंने अपने कार्यकाल में आपातकाल की घोषणा की थी। वैसे ही कांग्रेस पार्टी का आरएसएस से छत्तीस का आंकड़ा रहता था, जिससे जब तक पूरे देश में आपातकाल लागू था, उतने समय के लिए सभी आरएसएस कार्यकर्ताओं और विपक्षी पार्टियों को किसी जगह छुपना पढ़ा था। 

उस दौरान कई लोग जेल भेज दिए गए थे, इसी समय नरेंद्र मोदी भी अपने गिरफ्तारी से बचने के लिए कुछ समय के लिए अंडर ग्राउंड हो गए थे।

देश में लोगों के मूलभूत अधिकारों को कुचलने वाली आपातकाल का विरोध नरेंद्र मोदी ने सक्रिय रूप से किया था। कॉन्ग्रेस का विरोध करने के लिए उन्होंने कई रास्ते अपनाए, जिसके दौरान ही नरेंद्र मोदी अन्य पार्टियों की नजर में आ गए। 

नरेंद्र मोदी के कार्य से प्रभावित होकर आर.एस.एस ने उन्हें बड़े पद का कार्यभार सौंपा, जिसे उन्होंने बखूबी निभाया। यही वह समय था, जब नरेंद्र मोदी खुलकर राजनीति में आगे आए थे। 

धीरे धीरे मोदी पूरे देश में एक जाना माना चेहरा बनते जा रहे थे। देश में विरोधी पार्टियों द्वारा हो रहे खुलेआम अत्याचारों के विरुद्ध मोदी जी ने राजनीति में आने का विचार किया और 1987 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गया। 

पार्टी में रहकर नरेंद्र मोदी ने अमदाबाद नगर पालिका के चुनाव के लिए खड़े हुए, जिसके बाद भाजपा को बड़े वोटों से जीत मिली। इसके बाद बीजेपी ने अपने आने वाले कई चुनावों के लिए नरेंद्र मोदी को अपना उम्मीदवार बनाया।

प्रधानमंत्री के पद पर राजनीतिक करियर Political career as Prime Minister in Hindi

मोदी जी भारतीय जनता पार्टी के लिए एक भाग्यशाली उम्मीदवार  साबित हुए हैं, जिन्होंने बीजेपी को शून्य से लेकर ऊंचाइयों तक पहुंचाया है। जैसे-जैसे भारतीय जनता पार्टी की लोकप्रियता बढ़ती गई, वैसे ही नरेंद्र मोदी का राजनीतिक पद भी बढ़ता चला गया। 

और पढ़ें -  सुभाष चन्द्र बोस पर 10 वाक्य (लाइन्स) 10 Lines on Subhash Chandra Bose in Hindi

अपने दूर दृष्टिता और विवेक के बलबूते पर मोदी जी ने प्रधानमंत्री के पद को अपने नाम किया। प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी 7 अक्टूबर 2001 से लेकर 22 मई 2014 तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे। 26 मई 2014 को नरेंद्र मोदी ने भारत के 15वे प्रधानमंत्री के रूप में राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में शपथ लिया।

आजादी के बाद भारतीय इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब कुछ सालों के अंदर ही अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन इत्यादि जैसे कई विकसित देश अब भारत को बहुत मान सम्मान देते हैं। 

भारत की छवि अब दिन-ब-दिन एक शक्तिशाली देश के रूप में उभरता दिखाई दे रही है, जो कि हर एक भारतीय के लिए बड़े ही गर्व की बात है। भारतीय अर्थव्यवस्था, शिक्षा, संस्कृति, स्वास्थ्य इत्यादि से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर प्रधानमंत्री ने अपना विशेष ध्यान दिया है। 

2019 के लोकसभा चुनाव में जब मोदी जी वापस प्रधानमंत्री के रूप में चुने गए, तो पूरे देश में उनके समर्थकों का जश्न हर जगह छाया था। मोदी जी ने देशवासियों को जो कुछ भी वादा किया था, वह अब पूरा होता दिखाई दे रहा है।

देश के विभिन्न संप्रदायों को साथ लेकर एक नए भारत का निर्माण करने की मोदी कि यह विचारधारा लोगों को बहुत प्रभावित करती है। नरेंद्र मोदी जब भी दुश्मनों पर आक्षेप करते हैं, तब वे यह जरूर कहते हैं कि पहली बात भारत किसी को छेड़ता नहीं है, लेकिन यदि भारत को कोई छेड़ेगा तो भारत उसे छोड़ेगा नहीं। 

यानी अब भारत दुश्मनों की चमचागिरी न करके सीधे उसकी आंख में आंख डालकर भारत माता की जय का उद्घोष करता है। भारत के सबसे नाजुक राज्य जैसे जम्मू और कश्मीर जहां आतंकवाद जैसी घटनाएं प्रतिदिन होती रहती हैं। 

प्रधानमंत्री मोदी ने आर्टिकल 370 और 35a खत्म करके वहां रहने वाले सभी लोगों को बहाल किया है। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में अब हमारा देश पाकिस्तान, चीन और अन्य दुश्मन देशों को पलटवार करने में कतई नहीं कतराता है।

हालांकि अपने कुछ निर्णयों के कारण प्रधानमंत्री मोदी हमेशा विवादों में घिरे भी रहते हैं। वर्तमान समय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रतिदिन देश को आगे बढ़ाने के लिए कुछ न कुछ नई नीतियां लाते ही रहते हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा नोट बंदी Note ban by Prime Minister Narendra Modi in Hindi

भारत में प्रधानमंत्री द्वारा किया गया नोटबंदी एक ऐतिहासिक कदम था। 8 नवंबर 2016 के दिन नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया की सहायता से देशवासियों को नोटबंदी होने की सूचना दी थी, जिसके बाद पूरे देश में भूचाल आ गया था। 

अचानक से रातों-रात नोटबंदी का समाचार सुन हर कोई कौतूहल में था। किसी भी देश में नोटबंदी एक बहुत बड़ा निर्णय होता है, जो वहां के अर्थव्यवस्था पर बहुत बड़ा प्रभाव डालता है। 

नोटबंदी की सूचना सीधे प्रधानमंत्री द्वारा लोगों तक पहुंचाई गई इससे पहले नोटबंदी से जुड़ी हुई कोई भी खबर लोगों को नहीं पता थी। एक सरकारी रिपोर्ट के मुताबिक यह कहा गया था, कि अचानक से नोटबंदी के इस कदम के कारण देश की कई फ़ीसदी नकद बेकार हो गए थे। 

इस निर्णय के बाद मोदी जी के खिलाफ कई लोगों ने आंदोलन किए और उनके पुतले जलाकर आक्रोश जाहिर किया गया। वही देश में कुछ लोग ने प्रधानमंत्री के इस निर्णय का स्वागत किया। 

इतने बड़ी जनसंख्या वाले देश में यूं अचानक से आर्थिक बदलाव के कारण बैंक और एटीएम के सामने लोगों की लंबी-लंबी कतारें लगती थी। भीड़ के अफरा तफरी में कई लोगों को चोट भी पहुंची थी। 

भारत सरकार ने अपने इस कदम के पीछे यह हवाला दिया की यदि नोटबंदी की गोपनीयता पहले से नहीं बनाई गई होती तो देश में काले धन के कुबेर अपनी संपत्ति को अवैध तरीके से सफेद करवा लेते। कॉन्ग्रेस जैसे कई बड़े राजनीतिक पार्टियों ने मोदी जी के इस फैसले का बहुत विरोध किया था।

PM Modi Official Website- https://www.narendramodi.in/

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किये गए प्रमुख योजनानाएं Major schemes launched by Prime Minister Narendra Modi in Hindi

सन 2014 से जब नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री के पद पर आए, तभी से उन्होंने बहुत सारी योजनाओं का शुभारंभ किया है। इन विविध योजनाओं का उद्देश्य लोगों के कल्याण और देश को विकास के पथ पर आगे बढ़ाने का है।

और पढ़ें -  फादर्स डे शायरी (पितृ दिवस कोट्स) Best Fathers Day Quotes in Hindi

देशवासियों को विविध सहायता प्रदान करने के लिए विभिन्न सेवाएं, रोजगार के साधन, स्वास्थ्य सुविधाएं, शिक्षा इत्यादि से जुड़े हुए योजनाएं लाई गई।

योजनाओं में सबसे प्रसिद्ध आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना है, जो 12 नवंबर 2020 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के नेतृत्व में लाई गई थी। इस योजना का परिणाम कोरोनावायरस के समय बखूबी देखा जा सकता था, जब लोग विदेशी चीजों का बहिष्कार कर स्वदेशी वस्तुओं को अपना रहे थे। 

प्रधानमंत्री ने किसानों, महिलाओं, युवाओं गरीबों, इत्यादि सभी देशवासियों के लिए बड़े ही कल्याणकारी योजनाएं लाई हैं, जिनमें कुछ प्रमुख योजनाएं निम्नलिखित हैं –

महिलाओं के लिए कुछ प्रमुख योजनाएं 

  • उज्जवला योजना
  • बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना
  • फ्री सिलाई मशीन योजना
  • सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना
  • सुकन्या योजना 

किसानों के लिए कुछ प्रमुख योजनाएं

  • पीएम किसान सम्मान निधि योजना
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
  • मत्स्य संपदा योजना
  • पीएम किसान मानधन योजना
  • ऑपरेशन ग्रीन योजना
  • प्रधानमंत्री कुसुम योजना
  • फ्री सोलर पैनल योजना
  • प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना

गरीब परिवारों के लिए प्रमुख योजनाएं

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना
  • ग्रामीण आवास योजना
  • स्वामित्व योजना
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना
  • इंदिरा गांधी आवास योजना 
  • विवाद से विश्वास योजना 
  • आयुष्मान सहकार योजना

अन्य प्रसिद्ध योजनाएं

  • पीएम वाणी योजना
  • प्रधान मंत्री रोजगार योजना
  • मुद्रा लोन योजना
  • स्वच्छ भारत अभियान
  • डिजिटल इंडिया प्रोग्राम
  • मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट 

नरेन्द्र मोदी का निजी जीवन Personal life of Narendra Modi in Hindi

मोदी जी वर्तमान समय में अपने परिवार से अलग रहते हैं। उनके पिता का स्वर्गवास हो चुका है तथा माता हीराबेन अपने मात्र स्थान पर रहती हैं। 

राजनीति में ऐसा कम ही देखा जाता है, जब किसी प्रधानमंत्री के सगे रिश्तेदार एक सामान्य रोजगार से अपना जीवन चलाते हैं। यदि मोदी जी के भाइयों की बात करें, तो उनमें कोई रिक्शा ड्राइवर है, तो कोई किराने की दुकान चलाते हैं। 

वास्तव में प्रधानमंत्री बेहद सादगी भरा जीवन जीते हैं। अपने अच्छे स्वास्थ्य के लिए मोदी जी सवेरे उठकर योगा प्राणायाम जरूर करते हैं, जिसे उन्होंने कई बार देशवासियों को बताया भी है। 

तमाम राजनेताओं से बिल्कुल अलग नरेंद्र मोदी का कोई वारिश नहीं है। प्रधानमंत्री देश के सभी लोगों को अपने परिवार का सदस्य समझते हैं। 

नरेन्द्र मोदी जी की उपलब्धियां Achievements of Narendra Modi in Hindi

जैसा कि पहले बताया गया कि प्रधानमंत्री मोदी दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता है। दुनिया भर के कई छोटे बड़े देशों ने प्रधानमंत्री मोदी को अपने सर्वोच्च सम्मानों से वशीभूत किया है। 

अमेरिका, सऊदी, अरब, इजरायल, यूएई, रूस, अफगानिस्तान, सिंगापुर, फ्रांस, ब्रिटेन, इत्यादि कई बड़े देशों ने अपने सर्वोच पुरुस्कारों से प्रधानमंत्री को सम्मानित किया है। 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कोरोना काल में नियम और कार्य Rules and actions during the Corona period by Prime Minister Narendra Modi in Hindi

कोरोना महामारी पूरी दुनिया के लिए एक बहुत बड़ा संकट साबित हुआ है। दुनिया के बड़े-बड़े देशों ने कोरोना के सामने घुटने टेक दिए।

जब भारत में कोरोना वायरस के पहले लहर ने दस्तक दिया था, उसके पहले ही नरेंद्र मोदी ने अपने दूरदर्शिता के बलबूते पर देश में लॉकडाउन का ऐलान कर दिया था। करीब 2 महीने से भी अधिक समय तक संपूर्ण लॉकडाउन लगा था, जिसके बाद धीरे-धीरे लॉकडाउन को धीमा किया गया।

इस महामारी से लड़ने के लिए प्रधानमंत्री ने देशवासियों को आश्वासन दिया था और साथ मिलकर कोरोना को हराने का प्रयास किया। लोगों का मनोबल बनाए रखने के लिए मोदी जी ने कई मजेदार रास्ते अपनाए थे। 

कुछ मिनट के लिए पूरे भारत में लाइट बंद करके मोमबत्ती या दिया जलाकर एकता का प्रदर्शन करने के लिए मोदी जी ने देशवासियों से निवेदन किया था।

प्रारंभ में भारत के अनुभवी वैज्ञानिकों और चिकित्सकों ने मिलकर कोरोना वैक्सीन का निर्माण किया, जिसके पश्चात कई देशों को वैक्सीन की सप्लाई की गई। कुछ समय पश्चात देश में आवश्यक ऑक्सीजन प्लांट, वेंटीलेटर्स और वैक्सिंस की कमी पड़ गई थी, जिसके कारण सैकड़ों लोगों की जान चली गई। 

इस घटना के बाद भारत की हालत बहुत खराब हो गई, जिसके सहायता में दुनिया के कई देशों ने अपने यहां से आवश्यक सामग्रियों को भारत भेजा था। वैक्सीन मैत्री के स्कीम के तहत प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत दुनिया के कई छोटे बड़े देशों को वैक्सीन सप्लाई कर रहा है। 

Featured Image – Flickr (Narendra Modi)

3 thoughts on “नरेन्द्र मोदी की जीवनी Narendra Modi Biography in Hindi”

  1. Narendra modi is the greatest P.M Of our country.we should elect him, again for fully terrorism free and devloped country. Jay hind… Jay bharat…..

    Reply

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.