राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस पर निबंध National Safety Week / Day in Hindi

राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस पर निबंध National Safety Week / Day in Hindi

4 मार्च 1966 को राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस की स्थापना की गई। एक सप्ताह तक यह दिवस जिस जगह मनाया जाता है वहॉ उस स्थान और उसके चारोंओर की जगह की सुरक्षा जागरूकता को बढावा दिया जाता है लेकिन इस प्रकार की सुरक्षा के लिये जनता को जागरूक करना केवल हमारे परिषद की ही जिम्मेदारी नहीं है बल्कि उसमें हर एक व्यक्ति का सहयोग होना जरुरी है।  

तब राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के द्धारा यह सुरक्षा दिवस प्रारम्भ किया गया और इस तरह लोग इस अभियान में सहयोग देने लगे और इस तरह लोगों अपने अधिकार एवं कर्तव्यों के बारे में जानने लगे। इससे पहले 1930 में एक जर्मन वैज्ञानिक एच. डब्ल्यू . हेनरिच ने घोषणा की “दुर्घटना तो हर किसी के साथ होती है पर यह जानबूझकर नहीं की जाती है।

तब इस दिन भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने औद्योगिक क्षेत्र में सुरक्षा के लिये प्रत्येक व्यक्ति को जागरूक करने की शुरूआत की ।उसके बाद से औद्योगिक दुर्घटनाओं की दर में कुछ कमी आई है। यह अभियान लोगों की सुरक्षा और आवश्यकताओं को ध्यान रखते हुये विशिष्ट गतिविधियों का विकास करने के लिये बनाया गया है।

राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस पर निबंध National Safety Week / Day in Hindi

उत्सव के उद्देश्य Purpose of Celebration

  • देश के विभिन्न हिस्सों में, स्वास्थ्य और पर्यावरण आंदोलन में सुरक्षा लाने के लिए।
  • विभिन्न स्तरों पर अलग-अलग औद्योगिक क्षेत्रों में प्रमुख खिलाड़ियों की भागीदारी प्राप्त करने के लिये।
  • आवश्यकता-आधारित गतिविधियों के विकास को बढ़ावा देना, कार्यस्थलों पर सांविधिक आवश्यकताओं और पेशेवर एस एच ई प्रबंधन प्रणालियों के साथ आत्मनिर्भरता।
  • कार्यस्थल को सुरक्षित बनाने में नियोक्ता, कर्मचारियों और उनकी ज़िम्मेदारी से संबंधित अन्य लोगों को याद दिलाने के लिए।
  • संक्षेप में, उपरोक्त उद्देश्यों कार्यस्थल में एस एच ई संस्कृति बनाने और मजबूत करने और कार्य संस्कृति के साथ एकीकृत करने के समग्र लक्ष्य का हिस्सा हैं।
  • राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस कार्यस्थल करने वाली जगह पर सुरक्षा को बढ़ावा दिया गया और पूरे भारत वर्ष में यह दिवस मनाया जाता है।
इसे भी पढ़ें -  बॉडीबिल्डिंग, जिम पर कोट्स व स्लोगन Bodybuilding and Gym Quotes in Hindi

कैसे मनाया जाता है How it’s Celebrated?

मनुष्यों को जागरूक करने के लिये सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस के दिन कई प्रकार के आयोजन करते है जैसे- अपने कार्यकर्ताओं द्धारा सुरक्षा के प्रति नये- नये कार्यक्रम शुरू किये जाते हैं,  इस अभियान से सम्बंधित लोगों को जानकारी दी जाती है, इस कार्यक्रम से सम्बंधित व्यक्तियों को पुरुस्कृत भी किया जाता है। 

अभियान से संबंधित पोस्टर भी लगाये जाते हैं, इस सुरक्षा अभियान का नारा भी बनाया जाता है, इसके बारे में कई जगह पर लोगों से चर्चा भी की जाती है, सुरक्षा से  संबंधित सेमिनार भी किये जाते हैं, इत्यादि ।

मूल कर्तव्य Basic Duty

हम कह सकते है जो लोग हर जगह सतर्क रहते है और अपनी सुरक्षा भी अपनाते हैं, उन्हें यह राष्ट्रिय सुरक्षा की सुविधा मिलती है और जो सतर्क नहीं होते हैं, वे इस तरह की सुविधा का लाभ नहीं उठा पाते है। हमारी अपेक्षाएँ स्पष्ट है।

  • व्यक्तियों की सुरक्षा का प्रदर्शन करना।
  • दूसरों के द्वारा किये गये सुरक्षित व्यवहार को सक्रियता से प्रोत्साहित किया जाना और असुरक्षित व्यवहार को दूर करने की कोशिश करना।
  • सुरक्षा प्रदर्शन के द्वारा जब जरुरत हो दूसरों को प्रशिक्षित और प्रेरित करना
  • ज्ञान को एक दूसरे के साथ बांटकर और आवश्यक संसाधनों को जुटाकर सुरक्षित कार्य करने की प्रणाली बनाया जाना।
  • नव निर्माण के माध्यम से एक अच्छी सुरक्षा को विकसित करने के लिये नये नये उपाय खोजना।

यह पाँच अपेक्षाएँ है जो इसके मूल कर्तव्य भी हैं जिनके द्वारा हम अपने समाज, अपने साथी को सुरक्षित कर सकते है।

राष्ट्रिय सुरक्षा दिवस की थीम National Safety Week / Day Theme

  • 2011 की राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस के विषय की थीम “निवारक सुरक्षा और स्वास्थ्य संस्कृति की स्थापना और रखरखाव करना”।
  • 2012 की राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस की विषय की थीम “सुरक्षित और स्वस्थ कार्य वातावरण सुनिश्चित करना था – यह एक मौलिक मानव अधिकार है”।
  • 2013 की राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस के विषय की थीम “सुरक्षित और स्वस्थ कार्यस्थल सुनिश्चित करने के लिए मिलकर काम करना” था।
  • 2014 की राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस की थीम का विषय “कार्यस्थल और नियंत्रण खतरों पर तनाव का प्रबंधन करें” था और “सुरक्षा हम सभी वर्तनी चहिये”।
  • 2015 की राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस की थीम का विषय “सतत आपूर्ति श्रृंखला के लिए एक सुरक्षा संस्कृति बनाये”।
  • 2016 की राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस की थीम “ऐसा सुरक्षा आंदोलन जिसमें लोगों को कोई नुकशान न हो”।
  • 2017 का राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस की थीम का विषय था “एक दूसरे को सुरक्षित रखें”।
  • 2018 का राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस की थीम “सुरक्षा हमारी प्राथमिकता नहीं है, यह हमारा मूल्य है”।
इसे भी पढ़ें -  भारत स्वतंत्रता दिवस पर जीके प्रश्न GK Questions on India Independence Day in Hindi English

इस दिवस ने आज हर नागरिक को सुरक्षा के प्रति जागरूक बना दिया है।

इस राष्ट्रिय सुरक्षा दिवस की वजह से दुनियां का हर नागरिक अपना सुरक्षित जीवन जी रहे है और अपने सुरक्षा के अधिकारों का भरपूर उपयोग कर रहे है।

4 thoughts on “राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस पर निबंध National Safety Week / Day in Hindi”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.