दिल्ली का लाल किला Delhi Ka Lal Kila – Red Fort in Hindi

दिल्ली का लाल किला Delhi Ka Lal Kila – Red Fort in Hindi

Red Fort (Delhi ka lal kila) दिल्ली का लाल किला एक ऐतिहासिक किला है जो दिल्ली के साथ-साथ भारत की भी शान है। यह किला लगभग 200 वर्षों ,सन 1857 तक मुगल वंश के सम्राटों का मुख्य निवास स्थान था। मुग़ल साम्राज्य के सम्राटों और उनके परिवार के मिलने झूलने के साथ-साथ यह मुग़लों का औपचारिक और राजनीतिक केंद्र भी बन चूका था।

दिल्ली का लाल किला Delhi Ka Lal Kila – Red Fort in Hindi

दिल्ली लाल किला पर निबंध Red Fort Essay in Hindi

लाल किला दिल्ली का एक बहुत ही पुराना और जरूर देखने वाला पर्यटक स्थल है। लाल किला, लाल संगमरमर से बना हुआ है और लगभग 250 एकर में फैला हुआ है। इसमें की गयी कारीगरी बहुत ही सुन्दर है।

प्रतिवर्ष लाखों पर्यटक पुरे विश्व भर से इसे देखने के लिए दिल पहुंचते हैं। देश की इस एतिहासिक संपत्ति को सुरक्षित रखने के लिए भारत सरकार 24 घंटे इसकी देख-रेख करता है।

लाल किला के निर्माण की शुरुवात मुसलमानों के त्यौहार मुहर्रम के दिन वर्ष 13 मई 1638 में मुग़ल सम्राट, शाहजहाँ ने में करवाया था। इसका डिजाईन उस समय के सबसे बेहतरीन वास्तुकार उस्ताद अहमद ने किया था।

किले को बनने में लगभग 10 वर्ष लगे थे यानि की सन 1648 तक यह बन चूका था। लाल किला यमुना नदी के किनारे स्तिथ है और पूरा किला तीन तरफ से घिरा हुआ है। यह दिल्ली के सलीमगढ़ किले के पास स्तिथ है।

इसे भी पढ़ें -  सम्राट कृष्णदेव राय की जीवनी Life History of Krishnadevaraya in Hindi

15 अगस्त, स्‍वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रतिवर्ष, भारत के प्रधान मंत्री लाल किले में राष्ट्रिय ध्वज फहराते हैं। लाल किले में देखने के लिए बहुत सारे स्थान हैं जैसे रंग महल, मुमताज़ महल, खास महल, हम्माम, शाह बुर्ज़, दीवान ए खास, नाहर ए बिशिष्ट। इसमें की गयी कारीगरी बहुत ही उम्दा कारीगरों द्वारा करवाया गया था।

शीश महल किले के उत्तर और दक्षिणी भाग में स्तिथ है। बहुत ही सुन्दरतम और बेहतरीन तरीके से डिजाईन किया हुआ एक खास महल भी है जो सम्राट के लिए खासकर निजी उपयोग जैसे पूजा और सोने के लिए बनाया गया था।

यमुना नदी की ओर एक सुन्दर बालकनी भी निर्माण कराया गया है जो सफ़ेद संगमरमर से बना हुआ है। साथ ही एक सुन्दर मयूर सिंहासन भी बनाया गया है।

वहाँ एक शाह बुर्ज भी है जो सम्राट के निजी सम्मेलनों के लिए और आराम करने के लिए बनाया गया था। एक मोती मस्जिद भी स्तिथ है जो सम्राट औरंगजेब ने महल में निर्माण करवाया था जिनमें 3 बहुत ही सुन्दर गुंबद हैं जो दिखने में बहुत ही भव्य हैं।

मोती मस्जिद के उत्तरी भाग में हयात बक्श यानि की सुन्दर बगीचा स्तिथ है जो शाहजहाँ ने बनवाया था। वहां शाह बुर्ज का एक शाही टावर भी है जहाँ समरत बड़ी शाही दावतें भी दिया करते थे।

मेरे लिए बहुत ही गर्व की बात है कि पिजती एक रिटायर्ड सेना के जवान है। जब मेरे पापा का पोस्टिंग दिल्ली में  हुआ था तो हम एक बार लाल किला घूमने गए थे। लाल किला सच में देखने में बहुत ही सुन्दर है और वहां मैं मेरे पापा, मम्मी और बहन घूमने गए थे।

लाल किला जरूर घूमने जाएँ क्योंकि यह हमारे इतिहास का एक हिस्सा है और साथ ही वहां से हमें बहुत कुछ सिखने को भी मिलता है।

लाल किले का इतिहास History of Red Fort in Hindi

दिल्ली के लाल किले का इतिहास –

  • औरन्ज़ेब के बाद सन 1712 में लाल किला पर जहंदर शाह का राज हुआ।
  • उसके एक वर्ष बाद ही उनका क़त्ल कर दिया गया और फर्रुक्षियार ने लाल किले पर कब्ज़ा किया और उसने सभी चांदी की छत को ताम्बे में बदल दिया।
  • उसके बाद सन 1719 में मुहम्मद शाह ने कब्ज़ा किया।
  • सन 1739 में नादिर शाह ने मुग़ल सेना को आसानी से हरा दिया और मयूर सिहांसन को भी लूट लिया।
  • 1760 में मराठों ने दीवान ए खास के चांदी के छत को पिघला कर अहमद शाह अब्दाली के दिल्ली की सेना के लिए धन जुटाया।
  • 1803 में उसके बाद ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी ने मराठा सेना को हरा कर लाल किला पर कब्ज़ा किया।
  • सबसे आखरी में मुग़ल राजा , बहादुर शाह द्वितीय ने लाल किला पर राज किया। उसने 1857 में ब्रिटिश को हरा दिया पर वो ज्यादा दिन तक वहां राज नहीं कर पाए।
  • उसके बाद ब्रिटिश लोगों ने लाल किले पर कब्ज़ा किया और महल के कई जगह को तोड़ कर सभी कीमती चीजों को लूट लिया।
  • 1800 से 1900 के बिच ब्रिटिश लार्ड ने टूटे हुए हिस्सों को दोबारा बनाने का आदेश दिय।
  • 1747 में नादिर शाह और फिर बाद में ब्रिटिश लोगों ने किले का सब कुछ लूट लिया और बाहरी लोगों को बेच दिया।
  • यहाँ तक की शाहजहाँ के समय का कोहिनूर हिरा और बहादुर शाह ज़फर का मुकुट भी आज लन्दन में है।
इसे भी पढ़ें -  श्री जगन्नाथ रथ यात्रा 2019 Jagannath Puri Ratha Yatra Essay Hindi

दिल्ली के लाल किले का स्थान Red Fort Location Details in Hindi

नेताजी सुभाष मार्ग, चांदनी चौक, नई दिल्ली

पास में आपको दिल्ली मेट्रो की सुविधा भी मिल जाएगी – पास का स्टेशन है चांदनी चौक मेट्रो स्टेशन

खुला रहने का समय – सुबह से शाम

बंद दिन – सोमवार

प्रवेश शुल्क – भारतीय लोगों के लिए Rs. 10, विदेशियों के लिए Rs. 250

फोटो लेने के लिए : कोई शुल्क नहीं

दिल्ली के लाल किले में जाने से पहले कुछ टिप्स Tips Before Visiting Red Fort Delhi India

जाने से पहले कुछ टिप्स –

  • अपने साथ पानी जरूर पकड़ें क्योंकि अन्दर खाना ले जाना मना है।
  • दलालों और चोरों से सावधान रहें।
  • छत्ता चौक पर मोल भाव करके जरूर खरीदें क्योंकि वहां हर कोई सामान का बहुत ऊँचा दाम व्यापारी मंगाते हैं।
  • आप बहुत साड़ी खरीददारी भी कर सकते हैं क्योंकि लाल किले से रोड के अगले तरफ चांदनी चौक बाज़ार बैठता है जहाँ आपको हर तरीके की चीज उपलब्ध हो जाएगी।

लाल किला के कुछ दर्शनीय स्थल Sightseeing of Red Fort in Hindi

1. छावरी बाज़ार Chawari Bazar

छावरी बाज़ार लाल किला के सामने स्तिथ है।

2. लाहोरी दरवाज़ा Lahori Gate

लाहोरी दरवाज़ा लाल किये का मुख्य द्वार है जिसका मुख लाहौर की और होने के कारण लाहोरी पड़ा। प्रतिवर्ष 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर भारत के प्रधान मंत्री यहाँ तिरंगा फहराते हैं और भाषण भी देता हैं।

3. दिल्ली दरवाज़ा Delhi Gate

दिल्ली दरवाज़ा दक्षिणी द्वार है जो लोगों के प्रवेश के लिए खोला जाता है। यह दरवाज़ा लाहोरी दरवाज़ा के जैसा ही दिखने में है।

4. पानी दरवाज़ा Water Gate

यह एक साधारण दरवाज़ा है जो किले की दीवार के दक्षिणपूर्व में स्तिथ है।

5. छत्ता चौक Chhatta Chowk

लाहोरी दरवाज़े के दुसरे ओर छत्ता चौक है, जहाँ आप सूती के वस्त्र, ज्वेलरी और अन्य घरेलु सामग्रीयों की बिक्री मुग़ल समय में लोग करते थे।

इसे भी पढ़ें -  500 और 1000 के पुराने नोट 8 नवम्बर 2016 रात 12 बजे के बाद बंद - प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया एलान

6. नौबत खाना Naubat Khana

नौबत खाना किले के आँगन के पास स्तिथ है और यहाँ बाजा और संगीत भी गया और बजाय जाता था।

7. दीवान ए आम Diwan-i-Aam

यह अन्दर का मुख्य दरबार है।

8. नहर ए बिहिस्त Nahr-i-Bihisht

शशि महलों में एक पंक्ति में मंडप हैं किले के पूर्वी कोनो में यामुना नदी दीखते हुए। सभी मंडप नालों से जुड़े हुए हैं जिन्हें नहर ए बिहिस्त कहा जाता है।

9. मुमताज़ महल Mumtaz Mahal

दक्षिण में दो मुख्य महल हाँ जो खास कर महिलाओं के लिए थे, एक था मुमताज़ महल और दूसरा रंग महल।

10. रंग महल Rang Mahal

रंग महल में राजा की पत्नियां और दसियों का जगह था। इस महल को रंग महल कहा जाता है क्योंकि इसको दर्पण की पच्चीकारी से बनाया गया है।

11. खास महल Khas Mahal

खास महल राजा का रहन महल था।

12. दीवान ए ख़ास Diwan-i-Khas

यह एक दरवाज़ा है जो दीवान ए आम के उत्तरी दिशा में स्तिथ है। इस जगह को सफ़ेद संगमरमर से बनाया गया है।

13. हम्माम Hammam

हम्मन शाही स्नान के स्थान थे जो तीन गुम्बद वाले कमरे थे और सफ़ेद संगमरमर से बने हुए थे।

14. मोती महल Moti Masjid

हम्माम के पश्चिम में मोती मस्जिद स्तिथ है। यहाँ पर भी 3 गुम्बद आकार के मस्जिद हैं जो सफ़ेद संगमरमर से बने हैं।

आशा करते हैं आपको दिल्ली का लाल किला इतिहास निबंध History of Delhi Ka Lal Kila – Red Fort Essay Hindi अच्छा लगा होगा। जरूर घूमने जाएँ।

2 thoughts on “दिल्ली का लाल किला Delhi Ka Lal Kila – Red Fort in Hindi”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.