पर्यावरण संरक्षण पर निबंध व नारे Save Environment Essay & Slogans in Hindi

इस लेख में हमने पर्यावरण संरक्षण पर निबंध (Save Environment Essay & Slogans in Hindi) प्रस्तुत किया है। पर्यावरण सुरक्षा निबंध के माध्यम से हमने पर्यावरण को बचाने के महत्व, कारणों और चुनौतियों के बारे में बताया है। इस 1500 शब्दों के निबंध से स्कूल और कॉलेज के छात्र अपनी परीक्षा और प्रतियोगिता में मदद ले सकते हैं।

तो आईये शुरू करते हैं – पर्यावरण संरक्षण पर निबंध व नारे Save Environment Essay & Slogans in Hindi

प्रस्तावना Introduction (Save Environment Essay)

पर्यावरण, हमारे आस-पास का वो आवास है जिसमे हम रहते है। इस प्राकृतिक आवास में उपस्थित प्राकृतिक घटक जो मनुष्यों और जानवरों के जीवन के लिए बहुत ही आवश्यक है। इन घटकों में मुख्य है हवा, पानी, मिट्टी तथा अन्य घटक भी शामिल है।

पर्यावरण संरक्षण क्या है? What is Save Environment in Hindi?

पर्यावरण संरक्षण का अर्थ है हमारे पर्यावरण को सुरक्षित करना यानी की पर्यावरण सुरक्षा। लेकिन हमारे द्वारा किये गए कई कारणों से हमारा पर्यावरण खराब हो रहा है। ये कारण कुछ इस प्रकार है ग्लोबल वार्मिंग, वनों की कटाई और विभिन्न प्रकार के प्रदूषण में वृद्धि आदि कारणों से पर्यावरण हमारे लिये चिंता का कारण बन गया है।

पर्यावरण संरक्षण न केवल मानव के लिए बल्कि अन्य जीवित प्राणियों के लिए भी बहुत ही आवश्यक है। क्योंकि यदि पर्यावरण सुरक्षित नही रहेगा, तो पृथ्वी पर भी जीवन की संभावना कम हो जायेगी। इसीलिए हमे अपने पर्यावरण के संरक्षण के लिए ऐसे कदम उठाने चाहिए जिससे हमारा पर्यावरण सुरक्षित रहे।

पर्यावरण संरक्षण का महत्व Importance of Save Environment in Hindi

पर्यावरण की सुरक्षा करना हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योंकि पृथ्वी पर सभी प्रकार के जीवों का जीवन पूरी तरह से इस पर निर्भर है। हम सभी जानते है कि मनुष्य पानी, हवा और अन्य प्राकृतिक संसाधनों का उपयोग करके ही अपना जीवन जी रहे है।

वैसे तो हम भोजन में दूध, अंडे, और सब्जियों के साथ अन्य चीजों का सेवन करते हैं लेकिन वे सभी भी जानवरों और पौधों से ही प्राप्त होते हैं। जो हमारे वातावरण के द्वारा ही हमें प्राप्त होता है। इसके अलावा सभी जीव जंतु वनस्पतिओं के द्वारा छोड़े गए ऑक्सीजन के कारण ही जीवित है। इसीलिए हमे अपने पर्यावरण को सुरक्षित रखना चाहिए जिससे हमारा अस्तित्व बना रहे।

इसे भी पढ़ें -  पवनों के प्रकार Types of Winds in Hindi

पर्यावरण संरक्षण, इस पृथ्वी पर उपस्थित सभी प्राणियों के जीवन तथा प्राकृतिक संसाधनों के लिए बहुत ही आवश्यक है। आज की इस आधुनिकता में प्रदूषण के कारण पृथ्वी दूषित हो रही है। इसके परिणाम स्वरूप एक समय ऐसा आयेगा जब पृथ्वी पर मानव का जीवन असंभव हो जायेगा।

इस सभी कारणों को देखते हुए विश्व के 174 देशों ने मिलकर 1992 में ब्राजील में “पृथ्वी सम्मेलन” का आयोजन किया। जिसमे पर्यावरण को कैसे सुरक्षित करना है इसके बारे में चर्चा किया गया था। इसके बाद सन 2002 में जोहान्सबर्ग में एक बार फिर ‘पृथ्वी सम्मेलन’ का आयोजन किया गया। जिसमे विश्व के सभी देशों ने पर्यावरण संरक्षण के लिए अपने अपने सुझाव दिए।

पर्यावरण संरक्षण के कारण Why should we Save Environment

आप सभी को पता होगा कि पर्यावरण के संकट के कई कारण है जैसे प्रदूषण, ग्लोबल वार्मिंग, वनों की कटाई आदि। हम आपको पर्यावरण के संकट के बारे में विस्तार से नीचे बताया है।

1. प्रदूषण का बढ़ना Increased Pollution

प्रदूषण (पढ़ें: प्रदुषण पर निबंध) के बारे में आप सभी को पता होगा। आज के इस आधुनिकता में हम अपनी ज़रूरतों की पूर्ति के लिए प्लास्टिक, वाहनों, जैसे अन्य चीजों का इस्तेमाल करते है। जिससे वायु प्रदूषण, जल प्रदूषण, भूमि प्रदूषण जैसी समस्या उत्पन्न हो रही है। प्रदूषण के कारण आज स्थिति इतनी गंभीर है कि लगभग 2 बिलियन लोगो के पास स्वच्छ पीने का पानी नही है। जो हमारे पर्यावरण के संकट का मुख्य कारण प्रदूषण है।

2. ग्लोबल वार्मिंग का बढ़ना Increased Global Warming

दोस्तों क्या आप सभी को पता भी है कि दिन प्रतिदिन ग्लोबल वार्मिंग (पढ़ें:ग्लोबल वार्मिंग पर निबंध) का खतरा धीरे-धीरे बढ़ता ही जा रहा है। इसका मुख्य कारण है कार्बन डाई ऑक्साइड (CO2)। हमारे द्वारा उपयोग किये गए जीवाश्म ईंधनों से निकलने वाला कार्बन डाई ऑक्साइड (CO2) हमारे वातावरण में उपस्थित होता है जो पृथ्वी के तापमान में वृद्धि करता है। जिसके फलस्वरूप ग्लेशियर पिघलने लगते है और समुद्र के जल का स्तर बढ़ जाता है। इसके फलस्वरूप जो शहर तट पर उपस्थित होते है उनके डूबने का खतरा बढ़ जाता है।

3. वनों की कटाई में बढौतरी Increasing cutting of Trees

वनों की कटाई (पढ़ें: वनोन्मूलन पर निबंध) पर्यावरण के संकट का एक मुख्य कारण है। मानव अपनी आवश्यकताओं के अनुसार वनों की कटाई करते रहते है। इसके कारण जंगली जंतुओं और पक्षियों का आवास नष्ट हो रहा है। इसके अलावा वनों की कटाई के कारण वातावरण में कार्बन डाई ऑक्साइड (CO2) और कार्बन मोनो ऑक्साइड की मात्रा लगातार बढ़ती जा रही है, क्योंकि पेड़ ही कार्बन डाई ऑक्साइड (CO2) को ऑक्सीजन में बदलने का काम करते है।

इसे भी पढ़ें -  क्राइस्ट द रिडीमर (प्रतिमा) का इतिहास Christ the Redeemer Statue History in Hindi

4. जनसंख्या वृद्धि Population Growth

अधिक जनसंख्या (पढ़ें:जनसंख्या वृद्धि पर निबंध) भी पर्यावरण के संकट के लिए जिम्मेदार है। जनसंख्या में वृद्धि होने के कारण संसाधनों की पूर्ति नही हो जाती है और मांग बढ़ जाती है। जिससे मनुष्य अपने अस्तित्व को बनाये रखने के लिए पक्षियों और जानवरों का आश्रय नष्ट कर देता है। इससे पारिस्थितिकी तंत्र का संतुलन बिगड़ जाता है। जो हमारे पर्यावरण के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

पर्यावरण संरक्षण के उपाय How to Save Environment?

दोस्तों जिस तरह से हम रह रहे है, जिससे हमारा वातावरण तेजी से दूषित हो रहा है। अगर ऐसे ही चलता रहा तो एक समय ऐसा भी आएगा। जब पृथ्वी पर भी जीवन असंभव हो जाएगा। इसके लिए हमें सही तरीके से पर्यावरण की देख-रेख करनी होगी और हमारे आने वाली नस्ल के लिए पर्यावरण को सुरक्षित रखना होगा।

पर्यावरण को सुरक्षित रखने के कई उपाय है, जिनके बारे में हमने नीचे बताया है। जो इस प्रकार है:

  1. पर्यावरण का संरक्षण करने के लिए हमे मानवीय क्रिया कलापों को सुधारने की जरूरत है जिससे मानव और पर्यावरण के बीच संतुलन बना रहे।
  2. पर्यावरण को संकट से बचाने के लिए हमें कारख़ानों से निकलने वाली दूषित हवा और कचरा का सही तरीके से निस्तारण करना चाहिए। जिससे हवा, जल और भूमि जैसे प्रदूषण होने से रोक कर हम अपने पर्यावरण को संरक्षित कर सके।
  3. हमे पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए वनों की कटाई पर रोक लगनी चाहिए। तथा हमे वृक्षारोपण भी करने चाहिए। जिससे वातावरण में कार्बन डाई ऑक्साइड (CO2) की मात्रा का संतुलन बना रहे।
  4. इसके लिए हमें लकड़ी, कागज़ के उत्पादों का उपयोग कम करना चाहिए। इसके स्थान पर हमे ई-पेपर या ई-बुक का इस्तेमाल करना चाहिए।
  5. हमे जीवाश्म ईंधन का उपयोग कम करना चाहिए। जिससे वायु प्रदूषण की समस्या से बचा जा सके। ऐसा करने से हम पर्यावरण का संरक्षण कर सकते है।
  6. किसानों को कीटनाशक और रासायनिक खाद का उपयोग काम करना चाहिए, जिससे पर्यावरण संरक्षण किया जा सके।
  7. हमारे पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए हम 3R (recycle, reduce and reuse) की अवधारणा का उपयोग कर सकते है। इससे हम एक सामान को बार बार उपयोग पाएंगे और इससे पर्यावरण भी सुरक्षित रहेगा।
  8. पर्यावरण को बचाने के लिए हमे अपने आस-पास के लोगो को जागरूक करना बहुत ही आवश्यक है, क्योंकि आज के समय भी लोग बहुत से चीजों से अनजान है। इसीलिए पर्यावरण संरक्षण के लिए लोगो को जागरूक करना बहुत जरूरी है।
इसे भी पढ़ें -  विश्व रेडक्रॉस दिवस पर निबंध World Red Cross Day in Hindi

पर्यावरण सुरक्षा के लिए सरकार के कदम Government Steps for Save Environment in India

 पर्यावरण को बचाने के लिए सरकार ने कई कदम उठाये है। इसके साथ ही सरकार ने लोगो को जागरूक करने के लिए कई पहल भी किये है। जिनके बारे में जानकर सभी नागरिक पर्यावरण को बचाने के लिए सही कदम उठा सके। पर्यावरण को बचाने के लिए सरकार द्वारा उठाये कदम इस प्रकार है:

1. स्वच्छ भारत अभियान Swachh Bharat Abhiyaan

पढ़ें: स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध

पर्यावरण को बचाने के लिए भारत में सरकार द्वारा अब तक का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत अभियान है। इस योजना की शुरुआत हमारे प्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नई दिल्ली के राजघाट पर 2 अक्टूबर 2014 को किया गया था। इस योजना का मकसद भारत को पूरी तरह से साफ़ सुथरा बनाना और हमारे पर्यावरण को सुरक्षित रखना।

2. नदियों की सफाई Cleaning of Rivers

आपको बता दें कि हमारे पंद्रहवें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने तीन दिन गंगा नदी की सफाई के अपने लक्ष्य को पूरा किया है। गंगा नदी की सफाई करने से पर्यावरण नही अनुकूल बना रहेगा और इसके अलावा श्रद्धालुओं के लिए गंगा पवित्र भी रहेगी। इस योजना को प्रधानमंत्री ने जल संसाधन मंत्री सुश्री उमा भारती को सौंपा था।

बेस्ट 10 पर्यावरण संरक्षण पर नारे Save Environment Slogans in Hindi

  1. पर्यावरण का रखें ध्यान, तभी बनेगा देश महान।
  2. पर्यावरण है हम सबकी जान,
    पेड़ लगाओ, जग स्वच्छ बनाओ,
    करो इसका सम्मान।
  3. हम सबका है एक ही नारा,
    स्वच्छ सुंदर हो विश्व हमारा।
  4. हमको रोकना होगा प्रदूषण,
    तभी होगा पर्यावरण का सही पालन-पोषण।
  5. आने वाली पीढ़ी है बुद्धिमान और प्यारी,
    पर्यावरण की रक्षा है ज़िम्मेदारी हमारी।
  6. आओ बच्चों समझें एक बात ज्ञान की,
    पेड़ पौधे करते हैं रक्षा हमारे प्राण की।
  7. प्रकृति का ना करें हरण, आओ बचाएं पर्यावरण।
  8. वातावरण को शुद्ध बनाना होगा,
    प्रदूषण मुक्त विश्व बनाना होगा।
  9. वृक्ष, पानी और स्वच्छ हवा,
    यह तीन है जीवन रक्षा की अनमोल दवा।
  10. पेड़ पौधों को ना करो नष्ट,
    वरना सांस लेने में होगा कष्ट।

निष्कर्ष Conclusion

आज अगर हम पर्यावरण सुरक्षा पर ध्यान नहीं देंगे तो आने वाले समय में हम पृथ्वी के विनाश को रोक नहीं पाएंगे। हमें अपने पर्यावरण को बचाने की शुरुवात आज और इसी वक्त से शुरू कर देना चाहिए।आशा करते हैं पर्यावरण संरक्षण पर निबंध व नारे (Save Environment Essay & Slogans in Hindi) पर यह लेख आपको पसंद आया होगा।

8 thoughts on “पर्यावरण संरक्षण पर निबंध व नारे Save Environment Essay & Slogans in Hindi”

  1. This essay is very nice it helped me in making of my project. I am in class 6.
    I wanted to give it full rating.
    Thank you!

    Reply

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.