ब्यूटी पार्लर का व्यवसाय कैसे शुरू करें? How to Start Beauty Parlour Business in Hindi?

इस लेख में ब्यूटी पार्लर का व्यवसाय कैसे शुरू करें? (How to start beauty parlour business in hindi) दिया गया है। इसमे आप ब्यूटी पार्लर की ट्रैनिंग, व्यवसाय मे निवेश, सुविधाएं, मार्केटिंग, से जुड़ी पूरी जानकारी दी गई है।

ब्यूटी पार्लर क्या होता है? What Is Beauty Parlour Business in Hindi?

ब्यूटी पार्लर को हिंदी में महिला सौंदर्य प्रसाधन या महिला कायाकल्प प्रसाधन केंद्र के नाम से भी जाना जाता है। ब्यूटी पार्लर ही वह स्थान होता है, जहाँ सुंदरता से सम्बंधित उपचार किया जाता है। किन्तु आज सुन्दर दिखने की होड़ सभी में लगी है इसलिए महिलाओं के ब्यूटी पार्लर के साथ-साथ पुरुषों के भी ब्यूटी पार्लर है।

पुराने जमाने में भी लोगों को सौंदर्य और सुंदर दिखने का शौंक था जिसके लिए वे कई प्रकार के प्राकृतिक सामग्रियों का उपयोग जैसे – दूध, दही, नींबू, मुल्तानी मिट्टी, हल्दी, चन्दन आदि का प्रयोग सुंदरता निखारने के लिए बहुतायत में करते थे।

आजकल लोग सुंदरता निखारने के लिए कई प्रकार की रासायनिक और केमिकल युक्त पदार्थों का प्रयोग करने लगे हैं।

अतः हम कह सकते हैं, कि ब्यूटी पार्लर वह स्थान है, जहां पर एक ब्यूटी विशेषज्ञ (Beauty specialist) के निर्देशन में व्यक्ति अपनी सुंदरता बढ़ाने के लिए तथा तथा सुन्दर दिखने के लिए कई प्रकार की सामग्रियों का उपयोग करते हैं।

ब्यूटी पार्लर व्यापार के लिए जरुरी ट्रेनिंग Training for Beauty Parlour Business in Hindi

लोग अपने घर-परिवार को चलाने के लिए तरह-तरह के पेशे को अपनाते हैं। उन्हीं पेशों में से एक पेशा ब्यूटी विशेषज्ञ या ब्यूटीशियन का भी होता है। जिसमें ब्यूटीशियन किसी रजिस्टर्ड संस्था के द्वारा ब्यूटी से संबंधित सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स करता है।

जो लोग अपना कैरियर ब्यूटी के क्षेत्र में बनाना चाहते हैं वह किसी रजिस्टर्ड संस्था के द्वारा ब्यूटीशियन का कोर्स कर सकते हैं तथा अपने लिए इस पेशे में संभावनाएँ तलाश सकते हैं।

आम सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स की तरह ही इसमें भी सर्टिफिकेट कोर्स 6 से 8 महीने का तथा डिप्लोमा कोर्स 2 साल तक का होता है जिसमें छात्र को ब्यूटी पार्लर की थ्योरी के साथ-साथ ब्यूटी पार्लर के प्रैक्टिकल के बारे में भी समझाया जाता है।

ब्यूटी के क्षेत्र में भी कई अन्य प्रकार के छोटे-छोटे कोर्स भी होते हैं। जैसे ब्यूटीशियन कोर्स इन हेयर, ब्यूटीशियन कोर्स इन स्किन, ब्यूटीशियन कोर्स इन नेल, और ब्यूटीशियन मेकअप कोर्स आदि।

इन सभी की अवधि भी अलग-अलग होती है तो अगर आप किसी एक ब्यूटी के क्षेत्र में रूचि रखते हैं तो भी आपके लिए अपार संभावनाएँ होंगी क्योंकि आज के समय में एक छोटा सा नेल ब्यूटीशियन भी एक कंसल्ट के हज़ारों रुपये चार्ज करते हैं।

और पढ़ें -  उपभोक्ता और ग्राहक के बीच अंतर Difference between Consumer & Customer in Hindi

ब्यूटीशियन का कोर्स करने के लिए भारत में कई रजिस्टर संस्थान हैं। जहाँ से कोई भी व्यक्ति ब्यूटी के क्षेत्र में कोर्स कर सकता है। इसके साथ ही यह संस्थान छात्रों को फाइनेंस कराकर उनको रोजगार की सुबिधा भी प्रदान कराता है।

ब्यूटी पार्लर व्यवसाय में निवेश Investment in Opening a Beauty Parlour in Hindi

कोई भी व्यक्ति ब्यूटीशियन का कोर्स करके या काम सीखकर खुद का ब्यूटी पार्लर खोल सकता है लेकिन यह आपके बजट पर निर्भर करता है की आप अपने बिज़नेस को कितना बड़ा रखना चाहते हैं। शुरुवात में आपको ब्यूटी पार्लर के खर्चे के बारे में प्लान बना लेना चाहिए, कि आप कितना निवेश कर सकते हैं।

यदि आप एक मध्यम साधन-सुविधाओं वाला ब्यूटी पार्लर खोलना चाहते हैं तो उसके लिए कम से कम तीस से चालीस हज़ार का निवेश लग सकता है।

लेकिन अगर आपका बजट एक दम ही सामान्य और आप अपने घर से ही ब्यूटी पार्लर चलाना चाहते हैं तो आप एक सर्टिफ़िकेट लेकर तथा कुछ सामान्य जरुरत वाली चीज़ों को अपने घर में सजा कर एक छोटा सा ब्यूटी पार्लर खोल सकते हैं।

अब तो भारत सरकार द्वारा भो छोटे उद्योगों के लिए पर्याप्त सहाय की व्यवस्था की गयी है इसलिए आप सरकार द्वारा कई प्रकार की कोई योजनाओ के तहत बैंक से लोन फाइनेंस करा कर भी एक अच्छा ब्यूटी पार्लर खोल सकते हैं।

ब्यूटी पार्लर शुरू करने से पहले किन बातों का ध्यान रखें? What to Keep in Mind Before Starting a Beauty Parlor?

ब्यूटी पार्लर खोलते समय कुछ महत्वपूर्ण बातें ध्यान में रखी जाती है जो निम्न हैं-

  • पार्लर में वह सभी उपकरण व आवश्यक सामग्री जैसे- हेयर ट्रीमर, ड्रायर मशीन, बालों की कटिंग मशीन इत्यादि को अच्छी कंपनी का ही लें क्योंकि इससे आपके ग्राहकों के अनुभव पर अच्छा फर्क पड़ेगा।
  • ब्यूटी पार्लर खोलते समय यह भी सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि जो आप का स्टाफ है उन्हें मशीनों को अच्छी तरह से चलाना आता हो।
  • पार्लर खोलने से पहले उस जगह के बारे में जायज़ा जरुर लेना चाहिए जैसे की उस स्थान पर अन्य कितने पार्लर वाली दुकाने हैं और वे क्या कीमत लेते हैं इत्यादि।
  • शुरुवात में सिर्फ सेवाओं को मुहैया करवाने पर ध्यान देना यह किसी भी व्यवसाय को स्थापित करने की कुंजी है।

ब्यूटी पार्लर में दी जाने वाली सुविधाएँ Services in Beauty Parlour Business

पार्लर में दी जाने वाली सेवाएं सबसे महत्वपूर्ण होती हैं जो एक पार्लर को प्रसिद्धि दिलाने में अहम् भूमिका निभाती है इसलिए सभी जरूरत के सेवाएं एक ब्यूटी पार्लर में होनी ही चाहिए।

और पढ़ें -  ब्रायलर मुर्गियों के लिए पानी का प्रबंध Water Management for Broiler Chicken in Hindi

किसी भी ब्यूटी पार्लर की ग्राहकों में इज्जत उनकी सेवाओं के अनुसार ही होती है। ब्यूटी पार्लर के द्वारा ब्यूटीशियन कई प्रकार की सेवाएं प्रदान करता है जिसका मूल उद्देश्य महिलाओं तथा पुरुष ग्राहकों के सौंदर्य को निखारना होता हैं।

साथ ही महिलाओं की हेयर कटिंग, हेयर स्टाइल, आइब्रो, फेशियल, नाखूनों की कटिंग, नाखूनों की स्टाइल, बालों की कटिंग, बालों में डाई, मसाज आदि प्रमुख सेवाएं होती है।

अपने ब्यूटी पार्लर की मार्केटिंग कैसे करें? How to Market Your Beauty Parlor?

कहा जाता है की जो दीखता है, वो बिकता है इसलिए जितना समय श्रम किसी व्यवसाय को स्थापित करने में लगता है उसका आधा श्रम सबसे मुख्य काम मार्केटिंग में भी लगाना चाहिए। ब्यूटी पार्लर जैसे व्यवसाय की पहली मार्केटिंग वहाँ की सेवाएँ, सुविधाएँ खुद होती हैं।

अगर ब्यूटीशियन अपने ग्राहक को सबसे अच्छी सेवा प्रदान कर उसे संतुष्ट करता है, तो वह ग्राहक उसका स्थायी ग्राहक हो जाता है।

ब्यूटी पार्लर का प्रचार हम कई तरीकों से प्रचार कर सकते हैं, जो निम्न हैं-

1. गूगल पर ब्यूटी पार्लर की लोकेशन अपडेट करके Add Your Shop on Goole Map and Google My Business App

गूगल पर हम अपने ब्यूटी पार्लर की लोकेशन अपडेट कर आप अपने स्थानीय ग्राहकों को आसानी से दिख सकते हैं। यह सबसे सरल तरीका है जिसमें जिसमें ब्यूटी पार्लर का नाम ब्यूटी पार्लर का स्थान और ब्यूटीशियन का नाम भी उल्लेखित करने के साथ-साथ मोबाइल नंबर भी दर्ज कर सकते हैं। जिससे ग्राहक आपको सीधे संपर्क कर सके।

2. वेबसाइट तथा सोशल मीडिया के द्वारा Promote on Website and Social Media

किसी भी ब्यूटी पार्लर को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स पर प्रदर्शित करना डिजिटल मार्केटिंग कहलाता है। आज हर कोई डिजिटल प्लेटफार्म जैसे फेसबुक, इन्स्टाग्राम, यूट्यूब पर अपना अधिकतर समय बिताते हैं। इसलिए आप अपने ब्यूटी पार्लर को इन प्लेटफॉर्म्स पर प्रमोट कर सकते हैं।

ब्यूटीपार्लर का डिजिटली मार्केटिंग करने के लिए निम्न बातों को ध्यान दें

  • अपने पार्लर की एक आकर्षक वेबसाइट बनवा लें और उसपर अपनी सुविधाओं तथा सेवाओं का व्यौरा जरुर दें।
  • ब्यूटी पार्लर को instagram तथा facebook जैसे प्लेटफार्म पर अपडेट करें और साथ ही कुछ विडियो तथा फ़ोटोज़ रोज अपलोड करें।
  • अपने ब्रैंड को युट्यूब पर क चैनल के माध्यम से विडियो फॉर्म में दिखा सकते हैं जहाँ पर आप एडवरटाइजिंग तथा एफिलिएट मार्केटिंग कर मार्केटिंग के साथ-साथ अपने लाभ को बढ़ा भी सकते हैं।
  • आप समय-समय पर अपने पेज को अपने बजट के अनुसार प्रमोट कर सकते हैं जिससे आपको ज्यादा लोगों तक पहुँचने का मौका मिल सकता है।
और पढ़ें -  डेयरी फार्मिंग व्यवसाय कैसे शुरू करें? How to Start Dairy Farming Business in Hindi?

3. अच्छे व्यवहार के द्वारा Respect Your Customers

ब्यूटिशियन का ग्राहक के प्रति अच्छा व्यवहार और ग्राहक का सम्मान भी एक तरह से ग्राहकी का स्रोत है क्योंकि आपका ग्राहक सबसे पहले आपके व्यवहार से आकर्षित होता है उसके बाद आपके सेवाओं की गुणवत्ता से।

4. डिस्काउंट और नई स्कीमों के माध्यम से Give Good Discount and Add New Schemes to Your Services

ग्राहकों को लुभाने के लिए ब्यूटीशियन को समय-समय पर नई-नई स्कीम और डिस्काउंट ऑफर जारी करने चाहिए जिससे ग्राहक उस ब्यूटी पार्लर के प्रति आकर्षित होंगे। ब्यूटीशियन जब ब्यूटी पार्लर शुरू करें तो वह शुरुआत में ही दाम कम रखें और बेहतर सेवा प्रदान करें जिससे आपकी ब्यूटी पार्लर का प्रचार होगा।

5. होल्डिंग और बैनर लगाकर Use Banners to Advertise

अगर आप बड़े पैमाने पर अपने ब्यूटी पार्लर का प्रचार करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको होल्डिंग और बैनर शहर के हर गली मोहल्ले चौराहे पर लगवाने चाहिए इससे आपकी ब्यूटी पार्लर का प्रचार और अच्छा हो सकता है।

6. म्यूजिक सिस्टम कैनोपी द्वारा प्रचार करना Add a Music System in Your Beauty Parlour

मार्केटिंग का सबसे सशक्त माध्यम अपने ब्यूटी पार्लर की कैनोपी और साइकिल कैनोपी बनवाकर तथा अपने ब्यूटी पार्लर के सेवाओं, सुविधाओं और डिस्काउंट का ऑडियो टैप बनवाकर म्यूजिक सिस्टम से भी प्रचार और मार्केटिंग कर सकते है।

7. नई-नई जानकारियां देकर Give New Informations

ब्यूटी के क्षेत्र में आप ग्राहकों को छोटे-मोटे कोर्स जैसे मेहंदी लगाना सिखाकर अपने ब्यूटी पार्लर का व्यापार बड़े पैमाने पर फैला सकते है। इसके साथ ब्राइड मेकअप कटिंग आदि की ट्रेनिंग देना शुरू कर तथा मेकअप और ब्यूटीशियन के संबंध में नई-नई जानकारियां ग्राहकों को देकर व्यापार को प्रमोट कर सकते हैं।

निष्कर्ष Conclusion

इस लेख में आपने ब्यूटी पार्लर व्यवसाय को शुरू करने तरीकों को पढ़ा जिसमें ब्यूटी पार्लर के बिजनेस को शुरू करने तथा मार्केटिंग करने के तरीकों के बारे में विस्तार से बताया गया है।

आशा है इस लेख के बाद आपको अपना ब्यूटी पार्लर व्यवसाय शुरू करने में सफलता प्राप्त हो अगर यह लेख आपको पसंद आया हो तो इसे शेयर जरुर करें।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.