स्त्री स्वाभिमान योजना की पूरी जानकारी Stree Swabhiman Yojana details in Hindi

स्त्री स्वाभिमान योजना की पूरी जानकारी Stree Swabhiman Yojana details in hindi

हमारे देश में केवल 18% महिलाएं सेनेटरी पैड का इस्तेमाल महावारी के दिनों में करती हैं। बहुत सी स्त्रियां सेनेटरी पैड का इस्तेमाल नहीं करती हैं जिससे वे अनेक बीमारियों का शिकार हो जाती हैं और उनकी मृत्यु हो जाती है।

सरकार देश में सेनेटरी पैड के इस्तेमाल को बढ़ावा दे रही है। सरकार चाहती है कि देश की अधिक से अधिक महिलाएं सेनेटरी पैड का इस्तेमाल महावारी के दिनों में करें जिससे उनका स्वास्थ्य बना रहे और किसी प्रकार की बीमारी ना हो।

Contents

स्त्री स्वाभिमान योजना की पूरी जानकारी Stree Swabhiman Yojana details in Hindi

स्त्री स्वाभिमान योजना क्या है? What is Stree Swabhiman Yojana?  

यह योजना CSC (Common Service Centre) की मदद से लागू की गई है। Common Service Centre में 35000 महिला उद्यमी काम कर रही है। इन केंद्रों को गांव का डिजिटल केंद्र भी कहा जाता है। अब केंद्र सरकार ने स्त्री स्वाभिमान योजना को शुरू किया है।

इसे भी पढ़ें -  पेट्रोल का प्रभाजी आवसन Fractional Distillation of Petroleum in Hindi

ऐसे में इन डिजिटल केंद्रों को सोशल केंद्र कहा जाएगा। इस योजना के अंतर्गत सेनेटरी पैड निर्माण इकाई की स्थापना की जाएगी। हर गांव में स्थित Common Service Centre में 5 से 7 महिलाओं को रोजगार भी मिलेगा।

Common Service Centre महिलाओं के लिए सिर्फ सेनेटरी पैड का निर्माण ही नहीं करेगा, बल्कि उन्हें माहवारी से होने वाली बीमारियों और दूसरे खतरों के बारे में शिक्षित करेगा। सेनेटरी पैड के इस्तेमाल को बढ़ावा दिया जाएगा।

स्त्री स्वाभिमान योजना कब शुरू हुई? When was Stree Swabhiman Yojana started?

इस योजना को भारत के केंद्रीय मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद ने 27 जनवरी 2018 को शुरू किया है।

मासिक धर्म से जुडी बीमारियाँ स्त्रियों के लिए प्रमुख चुनौती जैसा कि हम जानते हैं कि भारत में सिर्फ 18% स्त्रियां ही मासिक धर्म के दौरान सेनेटरी पैड का इस्तेमाल करती हैं। गांव में सेनेटरी पैड का इस्तेमाल बहुत ही कम स्तर पर किया जाता है। स्त्रियां शिक्षित नहीं है। बहुत ही स्त्रियों को सेनेटरी पैड के बारे में जानकारी ही नहीं है।

इसके अलावा बहुत तरह की समस्याएं है। समाज में मासिक धर्म के ऊपर कोई भी खुलकर बात नहीं करता है। इसे एक Taboo (वर्जित विषय) समझा जाता है। सेनेटरी पैड का इस्तेमाल न करने के कारण बहुत सी बालिकाएं हफ्ते में सिर्फ 4 दिन ही स्कूल पढ़ने जाती हैं।

इस तरह वे 1 साल में वह 1 महीने की छुट्टी सिर्फ मासिक धर्म की समस्या के कारण लेती हैं, जो उनकी पढ़ाई को नुकसान पहुंचाती है।

स्त्री स्वाभिमान योजना का उद्देश्य भारत के राज्यों में स्त्रियों को मासिक धर्म से जुड़ी समस्याओं के बारे में शिक्षित करना है और सेनेटरी पैड के इस्तेमाल को बढ़ावा देना है।

स्त्री स्वाभिमान योजना का उद्देश्य Aim of Stree Swabhiman Yojana

1.  इस योजना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को मासिक धर्म (महावारी) के समय बीमारियों से बचाना है और सेनेटरी पैड के इस्तेमाल को बढ़ावा देना है।

इसे भी पढ़ें -  रक्तदान में दूसरों के साथ अपना फायदा भी Benefits of Blood Donation in Hindi

2.  इस योजना का दूसरा उद्देश्य महिलाओं को गांव स्तर पर मासिक धर्म से जुड़ी बीमारियों के बारे में शिक्षित करना है। इन बीमारियों से बचने के उपाय बताना है।

3.  इस योजना से गांव स्तर पर रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे।

स्त्री स्वाभिमान योजना की ख़ास बाते Special features of Stree Swabhiman Yojana

1.  इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में बालिकाओं को मुफ्त सेनेटरी पैड दिया जाएगा।

2.  स्त्री स्वाभिमान योजना के अंतर्गत गांव स्तर पर उद्योगपति हर गांव में  बालिकाओं को (जो प्राइमरी और जूनियर स्कूलों में कक्षा 7 से 12वीं कक्षा में पढ़ रही हैं) 1000 सेनेटरी पैड वितरित किए जाएंगे।

3.  इस योजना में VLE (Village Level Entrepreneur) सेनेटरी पैड के इस्तेमाल पर ट्रेनिंग देंगी। बालिकाओं को अपने सवाल पूछने का भी मौका मिलेगा। इस प्रकार के ट्रेनिंग कैंप में महिला शिक्षक और मेडिकल स्टाफ जैसे नर्स डॉक्टर को भी शामिल किया जाएगा।

4.  यह योजना Ministry of Electronics and Information Technology के अधीन है।

5.  यह योजना में 25 राज्यों के 222 जिलों में 400 ब्लॉक में चल रही है। स्त्री स्वाभिमान योजना के अंतर्गत 5066271 लोगों को लाभ पहुंचा है।

6.  इस योजना के अंतर्गत देश का कोई भी नागरिक सेनेटरी पैड निर्माण इकाई को लगा सकता है।

7.  इस योजना के अंतर्गत जो सेनेटरी पैड बनाए जाते हैं वह बाजार में उपलब्ध पैड से बेहतर होते हैं। ये पैड्स पर्यावरण के अनुकूल और Bio-degradable होते हैं।

स्त्री स्वाभिमान योजना के अंतर्गत सेनेटरी पैड निर्माण इकाई में प्रोडक्शन की प्रक्रिया

1.  CSC SPV (Common Services Center Special Purpose Vehicle) देश के गांव गांव में जाकर सेनेटरी पैड बनाने वाली मशीन को लगाएगी और VLE (Village Level Entrepreneur) और उनके साथियों को ट्रेनिंग देगी।

2.  यह मशीनें सेमी ऑटोमेटिक है और इन पर काम करना बहुत आसान है।

3.  इन मशीनों की मदद से 1 दिन में 1500- 2000 सेनेटरी पैड (260 mm wing size) आसानी से बनाए जा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें -  चीनी नव वर्ष उत्सव 2019 Celebration of Chinese New Year in Hindi

4.  प्रत्येक निर्माण इकाई पर 7 से 8 महिलाओं को काम मिलेगा जिससे रोजगार की समस्या भी दूर होगी।

5.  सेनेटरी पैड बनाने वाली मशीन पर 3 साल की वारंटी दी गई है।

6.  सैनिटरी पैड बनाते समय सिर्फ 20% काम पर बिजली की जरूरत पड़ती है।

7.  स्त्री स्वाभिमान योजना में चंदा देने के लिए इस लिंक http://www.cscacademy.org/donate पर क्लिक करें।

स्त्री स्वाभिमान योजना के अंतर्गत सेनेटरी पैड निर्माण इकाई में प्रोडक्शन में इस्तेमाल होने वाली मशीने

  1. Rolling raw material device
  2. Pressing wings Dye-cut Machine
  3. Pressing plate
  4. Wings gumming device
  5. UV radiation sterilizer
  6. Bonding Gumming Device
  7. Heat seal Machine etc।

स्त्री स्वाभिमान योजना के अंतर्गत सेनेटरी पैड निर्माण इकाई में प्रोडक्शन में इस्तेमाल होने वाला कच्चा माल

  1. Virgin Wood Pulp sheet
  2. Gel Sheet
  3. Non-Woven White Sheet
  4. Silicon Tape Paper
  5. PE Back Sheet (White Color)
  6. Gum Eco-friendly
  7. Packaging material as per Govt. Norms

स्त्री स्वाभिमान योजना के लिए कैसे आवेदन करें How to apply for Stree Swabhiman Yojana

1.  इस लिंक को खोलिए https://register.csc.gov.in/register

2.  मोबाइल नंबर और कैप्चा भरकर Submit का बटन दबाएं। इस प्रकार इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

स्त्री स्वाभिमान योजना की वेबसाइट Official website of Stree Swabhiman Yojana

http://streeswabhiman.in/

http://www.cscacademy.org/static/frontend/overview-stree-swabhiman.php

स्त्री स्वाभिमान योजना का पता Address of Stree Swabhiman Yojana

Head Office:

CSC e-Governance Services India Limited,

Ministry of Electronics & Information Technology,

Electronics Niketan, 6, CGO Complex, Lodhi Road,

CGO Complex, Pragati Vihar

New Delhi – 110020

PMU Office:

Project Management Unit,

CSC e-Governance Services India Limited

238, Okhla Phase 3,

New Delhi – 110020

Email: [email protected]

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.