गन्ने के रस के फायदे और नुकसान Sugarcane Juice Health benefits and Side-effects in Hindi

गन्ने के रस के फायदे और नुकसान Sugarcane Juice Health benefits and Side-effects in Hindi

दोस्तों जैसे ही गर्मी का मौसम शुरू होता है, और हमे याद आती है, गन्ने के रस की। सही कहा ना दोस्तों? गर्मी का मौसम आते ही सड़को के किनारे रस के ठेले लगने शुरू हो जाते है, और हम भी घर से भले ही कितना भी पानी पीकर निकले। लेकिन हमे रस को देखकर प्यास लगने लगती है, और हम उसका सेवन कर लेते है। लेकिन हम इसका केवल एक साधारण से पेय पदार्थ के रूप में ही सेवन करते है। हममें से कई लोग इससे होने वाले स्वास्थ्य लाभ के बारे में नही जानते।

गर्मियों में गन्ने का रस पीना सभी को पसंद होता है। गन्ने का ठंडा और मीठा रस गले में ठंडक का एहसास जगाकर शरीर को पूरी तरह से तरोताजा बना देता है। आज हम बात करने वाले है। गन्ने के रस से होने वाले लाभों के बारे में, और एक एक करके इसके फायदे जानते है, तो शुरू करते है-

गन्ने में पाए जाने वाले पोषक तत्व Nutrition values

गन्ने का रस वास्तव में एक प्राकृतिक पेय है। यह प्राकृतिक चीनी से परिपूर्ण होता है। पहले से ही मीठा होने के कारण इसमें शक्कर मिलाने की जरुरत ही होती। इससे प्राप्त होने वाली शक्कर में केवल 15 कैलोरी होती है, यह  सूक्रोज, फ्रुक्टोज़ और कई अन्य ग्लूकोज का मिश्रण होता है, एक गिलास गन्ने के रस में कुल 13 ग्राम फाइबर होता है, जो शरीर के लिए अतिआवश्यक है।

पोषक तत्वों से भरपूर होने के अलावा यह बेहद फ़ायदेमंद भी होता है। इसमें कोबाल्ट, क्रोमियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम, फास्फोरस, कैल्शियम और जिंक जैसे तत्व पाए जाते हैं। इसके अलावा इसमें विटामिन ए, सी आयरन, विटामिन बी-कॉम्प्लेक्स, फाइबर और प्रोटीन अधिक मात्रा में होते हैं।

अध्ययन के मुताबिक गन्ने का पौधा 30 फुट तक बढ़ सकता है। जलवायु के आधार पर, एक गन्ने के पौधे को पकने में 9-24 महीने लग सकते हैं। गन्ने की 36 से भी अधिक किस्म पाई जाती है।

इसे भी पढ़ें -  चाय पीने के फायदे और नुकसान Advantages Disadvantages of Drinking Tea in Hindi

पढ़ें : गन्ने की खेती कैसे शुरू करे?

गन्ने से होने वाले स्वास्थ्य लाभ Health benefits of Sugarcane

गन्ने के रस के सेवन से कई प्रकार के लाभ होते है, इनको हम एक एक करके जानेंगे- 

1. ऊर्जा के लिए

यदि आप थक गये है, और तत्काल ऊर्जा चाहते है, तो गन्ने के रस का सेवन आपके लिए बहुत ही फ़ायदेमंद साबित हो सकता है। गन्ने में सुक्रोज पाई जाती है, जो आसानी से आपके शरीर द्वारा अवशोषित हो जाती हैं, और आपको तत्काल ऊर्जा देकर आपको फिर से तरोताजा कर देती है।

2. पीलिया रोग में मदद

जब हमारे शरीर में यकृत (Liver) ठीक तरह से काम नही करता तो पीलिया रोग हो जाता है, जिसके कारण पित्त की नलिकाये बंद हो जाती है, जबकि गन्ने के रस में पाया जाने वाले तत्व शरीर में शर्करा स्तर को संतुलित करके पीलिया रोग से शरीर की रक्षा करते है। इसके सेवन से यकृत (Liver) ठीक तरह से काम करने लगता है और हमे इस रोग से छुटकारा मिल जाता है। साथ ही यह दवाओं के साइडइफेक्ट्स को रोकने में भी मदद कर सकता है।

3. किडनी स्टोन से बचाने में

गन्ने का रस किडनी स्टोन से बचाता है, यह यूरिनरी इन्फेक्शन को कम कर देता है, जिसके कारण किडनी अच्छे से काम करने लगती है। जिसके काम करने से पथरी की समस्या छुमंतर हो जाती है, इसलिए जो भी व्यक्ति पथरी की समस्या से ग्रसित है, उसको इसका सेवन करना चाहिए।

4. खराब गले के लिए

गन्ने के रस में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी होने के कारण यह खराब गले को ठीक करने में लाभकारी होता है, यह एंटीऑक्सीडेंट का एक समृद्ध स्रोत है, जो कि वायरल या बैक्टीरियल संक्रमण होने से गले का बचाव करता है। इसके लिए नींबू और काले नमक को एक गिलास गन्ने के रस के साथ मिलाकर पीने से लाभ होगा।

5. जल्दी घावों को भरने में

जिन लोगो के घाव देर में भरते है। उनको गन्ने के रस का सेवन करना चाहिए। क्योंकि इसमें सूक्रोज पाया जाता है, इसके कारण घाव भरने में समय नही लगता और कम समय में ही किसी भी तरह के घाव को ठीक करने में सक्षम होता है। आप बेहतर परिणाम के लिए घाव पर कुछ गन्ने का रस भी लगा सकते हैं। इसके अलावा गन्ने के रस का नियमित सेवन हमारे महत्वपूर्ण अंगों को मजबूत बनाने में सहायता करता है, ताकि वे अच्छी तरह से काम कर सकें।

इसे भी पढ़ें -  धूम्रपान के हानिकारक स्वास्थ्य प्रभाव Harmful Health Effects of Smoking in Hindi

6. हड्डियों और दाँतों की मज़बूती के लिए

उम्र के साथ शरीर में कई प्रकार की कमज़ोरी हमे घेर लेती है, जिसमे दाँतों और हड्डियों की कमज़ोरी मुख्य है, गन्ने के रस का सेवन हमे भरपूर मात्रा में कैल्शियम प्रदान करता है, क्योंकि यह इसका मुख्य स्रोत होता है, कैल्शियम ही हड्डियों को मज़बूती प्रदान करता है, जिससे हमारे दाँत और हड्डियाँ मजबूत हो जाती है।

7. डायबिटीज़ नियंत्रण में

यदि आप भी डायबिटीज़ की समस्या से जूझ रहे है, तो गन्ने के रस का सेवन आपके लिए रामबाण औषधि साबित हो सकता है। क्योंकि इसमें सूक्रोज़ पाया जाता है, जो आपके रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रण में रखने में मदद करता है। क्योंकि इसमें कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स (glycemic index) पाया जाता है, जो डायबिटीज़ को नियंत्रित रखने में मदद करता है। परन्तु डायबिटीज के रोगी जितना कम हो सके इसका उपयोग करें।

8. कब्ज़ से छुटकारा दिलाने में

यदि आपको भी किसी प्रकार की कब्ज से संबंधित समस्या रहती है, तो गन्ने के रस का सेवन आपके लिए बहुत ही फ़ायदेमंद साबित हो सकता है। यदि आयुर्वेद की माने तो इसमें हाई लैक्सटिव प्रॉपर्टी (laxative Property) होती है, जो मल त्यागने में मदद करती है, और हमे कब्ज से छुटकारा दिलाती है, साथ ही यह पेट की एसिडिटी एवं जलन से छुटकारा भी दिलाता है।

9. वजन कम करने में

जैसा की हम सभी जानते है, की ख़राब कोलेस्ट्रोल ही वजन बढ़ने का कारण होता है, लेकिन गन्ने के रस से कोलेस्ट्रोल को कम किया जा सकता है। जिससे वजन नही बढ़ता और यह अतिरिक्त वजन को भी कम करने में मदद करता है। इसमें फाइबर होने के कारण यह वजन को बढ़ने नही देता।

10. गर्भवती महिला के लिए

गन्ने के रस का सेवन गर्भवती महिलाओ के लिए बहुत ही अच्छा होता है, क्योंकि इसमें फोलिक एसिड और विटामिन बी 9 पाया जाता है, जो महिलाओ के लिए बहुत ही फ़ायदेमंद होता है। इसके सेवन से गर्भ में पल रहे बच्चे को सारे पोषक तत्व मिल जाते है। इसके अलावा, शोध में पाया गया है कि गन्ने का रस महिलाओं में ओवुलेशन (अंडोत्सर्ग) की समस्या को कम करता है, जिससे गर्भाधान की संभावना बढ़ जाती है।

11. पाचन समस्या को दूर करने में

यदि आपको किसी भी प्रकार की पाचन से संबंधित समस्या हैं, तो गन्ने के रस का सेवन आपके लिए बहुत ही फ़ायदेमंद साबित हो सकता है। इसमें मौजूद पोटेशियम आपके पेट के पीएच स्तर को संतुलित करने और पाचन रस के स्राव को बढ़ाने में मदद करता है। जिससे शरीर में उत्पन्न पाचन समस्या को दूर किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें -  मेथी के स्वास्थ्य लाभ व हानि Benefits and Side Effects of Fenugreek in Hindi

12. त्वचा निखार में

स्वास्थ्य लाभ के साथ साथ यह त्वचा में निखार लाने के लिए भी उपयोग में लाया जाता है, गन्ने के रस में एंटीऑक्सिडेंट, फ्लेवोनोइड्स और फेनोलिक यौगिकों की उपस्थिति होने के कारण यह त्वचा से संबंधित परेशानियों को दूर करता है, और झुर्रियो को कम करके इसमें कसाव लेकर आता है। साथ ही यह त्वचा को चमकदार, मुलायम और नमीयुक्त करने का एक अच्छा विकल्प है।

13. मुँहासे में राहत के लिए

गन्ने के रस का उपयोग चेहरे पर मास्क के रूप में मुल्तानी मिट्टी के साथ लगाने से मुहासों से राहत मिलती है, इसका मिश्रण अपने चेहरे और गर्दन पर इस 20 मिनट तक लगाए और गीले तौलिया से पोंछे। सप्ताह में कम से कम एक बार इस उपाय का प्रयोग अवश्य करें। इससे आपके चेहरे के मुंहासे दूर हो जाएंगे।

गन्ने के रस से होने वाले नुकसान Sugarcane Juice Side Effects

दोस्तों हम सभी जानते है कि अति सभी की बुरी होती है, ऐसा ही गन्ने के रस के लिए लागू होता है, लेकिन बदलते मौसम में गन्ने  का रस का सेवन नुकसान पहुंचाने का काम भी करता है। इसके कुछ नुकसान है, जो इस प्रकार है-

1.   गन्ने में लगभग सभी पोषक तत्व पाए जाते है, जिसके अत्यधिक उपयोग से शरीर का वजन बढ़ सकता है।

2.   गन्ने में पॉलीकॉसनाल पाया जाता है, जिसका काम रक्त को पतला करना होता है, इससे रक्त का थक्का बनने में समय लगता है। ऐसे लोग जो पहले से ही खून को पतला करने की दवा ले रहे हैं, उन्हें गन्ने के सेवन से बचना चाहिए।

3.   काफी देर से रखे गन्ने का रस का सेवन ना करें, हमेशा ताज़ा रस का सेवन करें, क्योंकि 15 मिनट के अंदर ही ऑक्सीडाइज होने के कारण यह बहुत जल्दी ख़राब हो जाता है।

4.   यदि आप गन्ने के रस का सेवन बाहर बाज़ार में कर रहे है तो ध्यान रखे, क्योंकि अक्सर बाज़ार में गन्ने को बिना धोए ही उसका रस निकाल लिया जाता है, जिसकी वजह से उसमें बैक्टीरिया और पेस्टीसाइड मौजूद रह जाते है और यह शरीर में पहुँचकर संक्रामक बीमारी होने का भी ख़तरा पैदा करते है।

5.   गन्ने की मशीन पर उपस्थित ज्यादा तेल भी हमारे शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए बाहर गन्ने के रस के सेवन करने से पहले जाँच ले कहीं मशीन पर ज्यादा तेल तो नही है।

6.   पहले से ही बलगम या खांसी की समस्या होने पर गन्ने के रस का सेवन आपके लिए हानिकारक हो सकता है, तो कृपया इसके सेवन से बचे।

7.   दैनिक रूप से दो गिलास से अधिक गन्ने के रस का सेवन ना करें इससे आपके शरीर को नुकसान पहुंच सकता है।

तो दोस्तों यह थे, गन्ने के रस से होने वाले फायदे और नुक़सान, इसका सेवन हमें कई प्रकार की समस्या से निजात दिला सकता है, इसलिए इसका सेवन पूरी सावधानी से करें और नुकसान से बचते हुए लाभ लें।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.