शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi

इस लेख में पढ़ें शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi फोटो सहित। योग हमारे शरीर के लिए सबसे बेहतरीन व्यायाम है जो हमें शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहने में मदद करता है। योग हमारे शरीर को अंदर और बाहर दोनों तरफ से स्वस्थ रखता है।

Contents show

क्या योग करना आसान है? Is yoga easy?

जी हाँ ! बिलकुल

कुछ लोग योग को इसलिए नहीं करते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि योग बहुत ही मुश्किल है या वो नहीं कर पाएंगे। कुछ लोग योग की शुरुवात कुछ ऐसे Yoga Poses से करते हैं जो थोड़े मुश्किल होते हैं और शुरुवात में करने में दिक्कत प्रदान करते हैं जिसके कारन वो योगा छोड़ देते हैं।

योगाभ्यास की शुरुवात हमेशा कुछ आसान Yoga Poses से करना चाहिए क्योंकि पहले बार इसे करने में थोड़ी मुश्किल हो सकती है। अगर आप योग करने की शुरुवात करने जा रहे हैं तो नीचे दिए हुए योग मुद्राओं का अभ्यास कर सकते हैं तो बहुत ही आसान हैं और स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक हैं।

आज हम आप शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन (Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi) तो बताएँगे साथ ही उससे मिलने वाले Health Benefits के बारे में भी बताएँगे। तो चलिए जानते हैं वो बेहतरीन शुरुवात के लिए योग मुद्राएँ क्या हैं?

इसे भी पढ़ें -  गाजर के जूस के फायदे और साइड-इफ़ेक्ट Carrot health benefits and side-effects in Hindi

शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन फोटो सहित Best Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi (With Picture) PDF Download

1. अधोमुखश्वानासन योग Adho Mukha Svanasana Yoga

अधोमुखश्वानासन योग Adho Mukha Svanasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
अधोमुखश्वानासन योग Adho Mukha Svanasana Yoga

अधोमुखश्वानासन योग की विधि Steps of Adho Mukha Svanasana Yoga

विधि –

  • यह सबसे आसान योगासन है जो सभी लोग कर सकते हैं।
  • सबसे पहले सीधे खड़े हों और दोनों पैरों के बिच छोड़ा दूरी रखें।
  • उसके बाद धीरे से नीचे की ओर मुड़ें जिससे की V जैसे Shape बनेगा।
  • जैसे की ऊपर दिए हुए फोटो में आप देख रहे हैं दोनों हाथों और पैरों के बीच में थोडा सा दूसरी बनायें।
  • साँस लेते समय अपने पैरों की उँगलियों की मदद से अपने कमर को पीछे की ओर खींचें। अपने पैरों और हांथों को ना मोड़ें।
  • ऐसा करने से आपके शरीर के पीछे, हांथों और पैरों को अच्छा खिंचाव मिलेगे।
  • एक लम्बी से साँस लें और कुछ देरी के लिए इस योग पोज़ में रुकें।

अधोमुखश्वानासन योग के फायदे Benefits of Adho Mukha Svanasana Yoga

फायदे –

  1. मांसपेशियों में मजबूती आती है।
  2. साइनस की समस्या दूर होती है।
  3. शरीर को अच्छा खिचाव मिलता है।
  4. रक्त परिसंचरण में सुधार आता है।

2. ताड़ासन योग Tadasana Yoga

ताड़ासन योग Tadasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
ताड़ासन योग Tadasana Yoga

ताड़ासन योग की विधि Steps of Tadasana Yoga

विधि –

  • सबसे पहले अपने पैरों के मदद से सीधे खड़े हों।
  • अपने दोनों पैरों के बीच थोडा सा जगह बनायें।
  • उसके बाद एक लम्बी साँस के साथ अपने पैरों की उँगलियों की मदद से शरीर को थोडा ऊपर उठायें और अपने दोनों हांथों को धीरे-धीरे उपर उठायें। उसके बाद अपने एक हाँथ की उँगलियों से दूसरी हाँथ के उँगलियों को जोड़ें।
  • कम से कम 15-30 सेकंड इस मुद्रा में रहें और अपने शरीर को ऊपर की और खींचें।
  • उसके बाद धीरे-धीरे अपने हांथों को सामान्य स्तिथि में ले आयें।

ताड़ासन योग  के फायदे Benefits of Tadasana Yoga

फायदे –

  1. यह आसन उन लोगों के ज्यादा फायदेमंद साबित होता है जो अपना लम्बाई बढ़ाना चाहते हैं।
  2. मुद्रा में सुधार होता है।
  3. रीढ़ की समस्याओं से दूर रखता है।

 3. सुखासन योग Sukhasana Yoga

सुखासन योग Sukhasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
सुखासन योग Sukhasana Yoga

सुखासन योग की विधि  Steps of Sukhasana Yoga

विधि –

  • यह आसान योगासन बच्चे भी कुछ ही मिनटों में सिख कर, कर सकते हैं।
  • सबसे पहले फर्श पर एक दरी बिछाएं और दोनों पैरों को मोड़ कर बैठ जाएँ।
  • पैर कुछ इस तरीके से मोड़ कर बैठे कि एक पैर का नीचला हिस्सा बाहर की और दिखे और दूसरा अगले पैर के जांघों के नीचे।
  • उसके बाद सीधे बैठें और अपने रीड की हड्डी को सीधा रखें।
  • अपने दोनों हांथों के हथेलियों को ऊपर करके अपने घुटनों पर रखें और ज्ञान मुद्रा धारण करें।
  • धीरे-धीरे लम्बी साँस लें और धीरे-धीरे फिर साँस छोड़ें।

सुखासन योग के फायदे Benefits of Sukhasana Yoga

फायदे –

  1. रीड की हड्डी में खिचाव होता है जो रीड की हड्डी को लम्बा होने में मदद करता है।
  2. छाती का चौड़ाई बढ़ता है।
  3. मन को शांति मिलती है।
  4. चिंता, तनाव और मानसिक थकान से जुड़े रोग दूर होता हैं।

4. शवासन योग Shavasana Yoga

शवासन योग Shavasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
शवासन योग Shavasana Yoga

शवासन योग की विधि Steps of Shavasana Yoga

विधि –

  • यह बहुत ही आसान योग मुद्रा है परन्तु इससे शरीर को बहुत महत्वपूर्ण लाभ होते हैं।
  • सबसे पहले एक समतल जगह पर एक दरी बीचा लें।
  • उसके बाद ऊपर की और मुहँ करके लेट जाएँ।
  • अपने दोनों पैरों को एक दूरे से अलग रखें।
  • उसके बाद कुछ मिनटों के लिए धीरे-धीरे साँस लें और छोड़ें।
इसे भी पढ़ें -  बायो ऑयल का उपयोग, फायदे, नुकसान Bio-Oil use, benefits, and side-effects in Hindi

शवासन योग के फायदे Benefits of Shavasana Yoga

फायदे –

  1. इससे शरीर को आराम मिलता है।
  2. ध्यान / एकाग्रता में सुधार लता है।z

5. वीरभद्रासन योग Virabhadrasana Yoga

वीरभद्रासन योग Virabhadrasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
वीरभद्रासन योग Virabhadrasana Yoga

वीरभद्रासन योग की विधि Steps of Virabhadrasana Yoga

विधि –

  • सबसे पहले सीधे खड़े हों।
  • दोनों पैरों के बिच 3-4 फीट की दूरी रखें।
  • लम्बी साँस लें और दोनों हांथों को जमीन के समान्तर में ऊपर उठायें और अपने सर को दाएँ तरफ मोड़ें।
  • उसके बाद साँस छोड़ते हुए अपने दाएँ पैर को 90 डिग्री में मोड़ें और हल्का सा दाएँ तरफ मोड़ें।
  • पैर को मोड़ने के तरीके को समझने के लिए फोटो को देखें।
  • उसके बाद इस पोजीशन में कुछ समय के लिए रुकें।
  • ऐसे 5-6 बार करें।

वीरभद्रासन योग की फायदे Benefits of Virabhadrasana Yoga

फायदे –

  1. इस योग मुद्रा से पैरों और भुजाओं को शक्ति मिलती है।
  2. नीचले भाग के शरीर को भी स्वस्थ रखता है।

6. वृक्षासन योग Vrikasana Yoga

वृक्षासन योग Vrikasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
वृक्षासन योग Vrikasana Yoga

वृक्षासन योग की विधि Steps of Vrikasana Yoga

विधि –

  • सबसे पहले अपने दोनों हांथों को बगल में रख कर सीधे खड़े हों।
  • उसके बाद ध्यान से अपने दाएने पैर को अपने बाएँ पैर के जांघ पर रखकर सीधे खड़े रहें। समझने के लिए फोटो को देखें।
  • उसके बाद धीरे-धीरे डॉन हांथों को जोड़ कर ऊपर की ओर ले जाएँ और प्रार्थना मुद्रा धारण करें।
  • कम से कम 30-45 सेकंड तक इस मुद्रा में बैलेंस करने की कोशिश करें।

वृक्षासन योग के फायदे Benefits of Vrikasana Yoga

फायदे –

  1. संतुलन में सुधार आना।
  2. जांघों, पैर और रीड की हड्डी को मजबूत बनाने के लिए।

7. सेतुबंधासन योग Setubandhasana Yoga

सेतुबंधासन योग Setubandhasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
सेतुबंधासन योग Setubandhasana Yoga

सेतुबंधासन योग की विधि Steps of Setubandhasana Yoga

विधि –

  • इस योग मुद्रा में आपको अपने शरीर को एक पुल के जैसे बनाना पड़ता है।
  • सबसे पहले जमीन पर सीधे लेट जाएँ और अपने बाहं को दोनों तरफ रखें।
  • जिस प्रकार चित्र में दिया गया है देखकर अपने शरीर के नीचले हिस्से को उठायें।
  • उस मुद्रा में एक लम्बी सी साँस लें और लगभग 25-30 सेकंड तक रुकें।
  • उसके बाद धीरे-धीरे अपने शरीर को नीचे ला कर प्रथम मुद्रा पर लायें।
  • इस योगासन को 4-5 बार दोहराएँ।

सेतुबंधासन योग के फायदे Benefits of Setubandhasana Yoga

फायदे –

  1. छाती को मजबूती देता है।
  2. साथ ही पीछे और रीड की हड्डी भी तंदरुस्त होता है।
  3. मन की चिंता दूर होती है।

8. त्रिकोणासन योग Trikonasana Yoga

त्रिकोणासन योग Trikonasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
त्रिकोणासन योग Trikonasana Yoga

त्रिकोणासन योग की विधि Steps of Trikonasana Yoga

विधि –

  • सबसे पहले सीधे खड़े हों और अपने दोनों पैरों के बिच थोडा गैप रखें।
  • उसके बाद अपने दाएँ पैर को 90 डिग्री में मोड़ें।
  • उसके बाद थोडा सा शरीर को भी दाएँ तरफ झुकाते हुए अपने दाएँ हाँथ से अपने दाएँ पैर के उँगलियों को छुएं और बाएं हांथ को ऊपर की और सिधाई में रखें जैसा फोटो में दिया गया है।
  • इस मुद्रा में 1-2 मिनट तक रुकें।

त्रिकोणासन योग के फायदे Benefits of Trikonasana Yoga

फायदे –

  1. पुरे शरीर को अच्छा खिचाव मिलता है।
  2. रक्त परिसंचरण / सर्कुलेशन में सुधार होता है।
  3. गुर्दा / किडनी स्वस्थ रहता है।

9. अर्धमत्स्येन्द्रासन योग Ardha Matsyendrasana Yoga

अर्धमत्स्येन्द्रासन योग Ardha Matsyendrasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
अर्धमत्स्येन्द्रासन योग Ardha Matsyendrasana Yoga

अर्धमत्स्येन्द्रासन योग की विधि Steps of Ardha Matsyendrasana Yoga

विधि –

  • यह भी शुरुवात के लिए एक आसान योगासन है।
  • सबसे पहले नीचे सीधे बैठ जाएँ।
  • उसके बाद अपने बाएँ पैर को मोड़ें और अपने पीछे दाएं तरफ को छूने की कोशिश करें। समझने के लिए फोटो को देखें।
  • उसके बाद अपने दाएँ पैर को अपने बाएँ पैर के अगले तरफ ले जाकर रखें। दायाँ पैर अगली तरफ जमीन को छूना चाहिए।
  • उसके बाद अपने शरीर को पैर मोडे हुए तरफ के विपरीत दिशा में तानें या खींचे और अगली तरफ पैर को पीछे से छूने की कोशिश करें।
  • इस मुद्रा में 20-30 सेकंड के लिए रुकें। उसके बाद अगली दिशा में भी इस योगासन को दोहराएँ।
इसे भी पढ़ें -  अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस निबंध International Yoga Day Essay in Hindi

अर्धमत्स्येन्द्रासन योग के फायदे Benefits of Ardha Matsyendrasana Yoga

फायदे –

  1. मांशपेशियों को अच्छा खिचाव मिलता है।
  2. रीड की हड्डी में मजबूती आती है।
  3. रक्त परिसंचरण सही तरीके से होता है।
  4. कब्ज़ और अपचन से शरीर को बचाता है।

10. भुजंगासन योग Bhujangasana Yoga

भुजंगासन योग Bhujangasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
भुजंगासन योग Bhujangasana Yoga

भुजंगासन योग की विधि Steps of Bhujangasana Yoga

विधि –

  • सबसे पहले पेट नीचे की तरफ कर के लेट जाएँ।
  • उसके बाद एक लम्बी साँस के साथ अपने शरीर के उपरी भाग को जैसे सर, गर्दन, कन्धों और छाती को ऊपर की तरफ ले जाएँ जैसे चित्र में दिया गया है।
  • इस मुद्रा में 20-30 सेकंड तक रुकें।
  • उसके बाद दोबारा 4-5 बार इस आसन को दोहोराएँ।

भुजंगासन योग के फायदे Benefits of Bhujangasana Yoga

फायदे –

  1. पेट में एसिडिटी और गैस की प्रॉब्लम दूर करता है।
  2. मोटापा कम होता है।
  3. रक्त परिसंचरण सही तरीके से होता है।
  4. अपच और कब्ज की शिकायत दूर करता है।

11. बद्ध कोणासन योग Baddhakonasana Yoga

 बद्ध कोणासन योग Baddhakonasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
बद्ध कोणासन योग Baddhakonasana Yoga

बद्ध कोणासन योग की विधि Steps of Baddhakonasana Yoga

विधि –

  • सबसे पहले नीचे जमीं पर एक दरी बिछाएं और सीधे बैठ जाएँ।
  • उसके बाद अपने दोनों पैरों के नीचे हिस्से हो सामने पास ला कर जोड़ें।
  • उसके बाद दोनों पैरों के जुड़े हुए स्थान के नीचे पकड़ने की कोशिश करें जैसे चित्र में है।
  • उसके बाद अपने पैरों को तितली की पंख के तरह हिलाएं।
  • आप तेज़ी से भी इस आसन को कर सकते हैं।

बद्ध कोणासन योग के फायदे Benefits of Baddhakonasana Yoga

फायदे –

  1. पेट के अंगों को तंदरुस्त रखता है।
  2. साथ ही किडनी को भी स्वस्थ रखता है।

12. बालासन योग Balasana Yoga

बालासन योग Balasana Yoga, शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi
बालासन योग Balasana Yoga

बालासन योग की विधि Steps of Balasana Yoga

विधि –

  • सबसे पहले अपने पैरों को पीछे की और कर के मोड़ लें जैसे चित्र में किया गया है और अपने दोनों हांथों को अपने जांघों में रख कर सीधे बैठें।
  • उसके बाद धीरे-धीरे साँस छोड़ते हुए अपने छाती को घुटनों से जोड़ें।
  • उसके बाद अपने हांथों को आगे की तरफ सीधे भी आप रख सकते हैं और पीछे भी रख सकते हैं।
  • उसके बाद ध्यान से धीरे-धीरे साँस लें और और उस मुद्रा में 2-3 मिनट तक रुकें।
  • इस योग को 5-10 बार दोहोराये।

बालासन योग के फायदे Benefits of Balasana Yoga

फायदे –

  1. मानसिक चिंतन दूर होता है।
  2. कमर का दर्द दूर होता है।

यह पोस्ट मात्र जानकारी के लिए है। इनमें से किसी भी योगासन को शुरू करने से पहले अपने Yoga Expert से जरूर पूछें। आशा करते हैं आपको शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन (Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi) पोस्ट से अच्छी जानकरी मिली है।

11 thoughts on “शुरुवात के लिए 12 आसान योगासन Types of Yoga Asanas Poses for Beginners Hindi”

    • pavan mukt asaan it is the best for acidity and you should also drink ht water with heing namak nimbu it will give immediate relif to headache because of gas or acidity

      Reply

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.