अंग्रेजी बोलना कैसे सीखें? How to Learn English Speaking Easily Notes and PDF in Hindi

अंग्रेजी बोलना कैसे सीखें? How to Learn English Speaking Easily Notes and PDF in Hindi?

हमारे देश India में English सिखने का एक अलग ही Importance है। नए भारत में इसकी आवश्यकता दिन ब दिन बढ़ते चले जा रहा है।

अंग्रेजी बोलना कैसे सीखें? How to Learn English Speaking Easily Notes and PDF in Hindi

अंग्रेजी भाषा विश्व भर में सबसे ज्यादा बोली जानी वाली भाषा है। हमारे देश में अन्य-अन्य राज्य में कई भाषाओँ का बोलने में उपयोग होता है। लेकिन तब ही ऐसा कोई राज्य या जगह नहीं होगा जहाँ English का उपयोग ना होता हो। आप किसी भी Government या Non-Government Office में चले जाईये अंग्रेजी में काम और बातचीत करते लोग आपको दिख जायेंगे।

अंग्रेजी एक ऐसी भाषा है जो आपको आगे बढ़ने की एक नयी उम्मीद देता है और दुसरे देशों के लोगों से जुड़ने की काबिलियत देता है। हम यह नहीं कह रह की आप अपने मातृ भाषा को भूल जाएँ या वो ख़राब है, हम यह कहना चाह रहे हैं की आप अपने Home Languages के साथ-साथ English को भी बोलना लिखना सीखें।

आज के इस Technology के युग में अंग्रेजी की बहुत आवश्यकता है। यहाँ तक की Parliament में भी अंग्रेजी भाषा को एक Official भाषा के रूप में मान्यता दिया है।

अगर आप मात्र अपने राज्य की भाषा बोलना या लिखना जानते हैं तो आप अपने राज्य तक ही सिमित हैं, अगर आप हिंदी बोलना जानते हैं तो आप की पहुँच भारत के कोने-कोने तक होगी पर अगर आप अंग्रेजी बोलना और लिखना सिख जाते हैं जो आप विश्व के कोने-कोने तक आपनी बात पहुंचा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें -  मिटटी या मृदा प्रदुषण पर निबंध Essay on Soil Pollution in Hindi or Land Pollution

अगर आपकी English अच्छी नहीं है तो चिंता ना करें आज इस पोस्ट से आपको कुछ ऐसे Tips बताएँगे जो आपको English सिखने के पहले Step में बहुत मदद होंगे और इससे आपका उत्साह भी बढेगा।

अंग्रेजी बोलना सिखने के लिए 5 मुख्य नियम? How to Learn English Speaking Easily Notes and PDF in Hindi

#1 अगर English में बात करना चाहते हैं तो Grammar पर ध्यान देना बंद करें

Grammar पर ध्यान ना देने वाला बात वैसे सुनाने में तो बड़ा ही अजीब लगता है पर यह सही है। यह Spoken English सिखने का पहला Step है। अगर आप Student हैं और Engilsh में आपको Exam देना है तो आपको Grammar पर पूरा ध्यान देने की आवश्यकता है पर अगर आपको English बोलना है तो Grammar की जरूरत नहीं है।

English में बोलते समय Grammar पर ध्यान देने से आप Confuse हो जायेंगे और उसके कारण आपका अंग्रेजी में बात करना Slow हो जायेगा। आपका ध्यान Grammar के नियमों पर होने के कारण आप बोलते समय घबराने लगेंगे जिसके कारन आप Fluent English नहीं बोल पाएंगे।

आपको यह जान कर हैरानी होगी कि दुनिया में मात्र 20% अंग्रेजी बोलने वालों को ही Grammar का सही Knowledge है और बाकि साब बिना Grammar लगाये बात करते हैं। इन 20% में जो लोग खासकर आते हैं वे Teachers और Students होते हैं जो बड़े Universities से जुड़े हैं जबकि बाकी 80% अंग्रेजी बोलने वाले व्यक्ति बड़े Speakers और साधारण लोग होते हैं।

अगर आप इस चीज को Check करना चाहें तो ध्यान से किसी TV पर बड़े Speaker के English Speech को सुन सकते हैं। वहां आपको ज़रूर 90% लोगों के English Speaking में आपको ढेर साड़ी Grammar में गलतियां मिल जाएगी। पर इसका मतलब यह नहीं है की उनको English बोलना नहीं आता है। Spoken English में आपको दो चीजों का ध्यान रखना है कुछ SimpleEnglish के Words और Confidence से बात करने की जरूरत है।

इसे भी पढ़ें -  मोर पर निबंध (राष्ट्रीय पक्षी) Essay About Peacock in Hindi

#2 English के Phrase पढ़ें

लोग English के शब्दों(Vocabulary) पर ज्यादा ध्यान देते हैं और उनको जोड़ कर अच्छे Sentence बनाने की कोशिश करते हैं। पर ऐसा करने से वे कोई अच्छा Sentence बना नहीं पाते हैं। ऐसा इस लिए होता है क्योंकि वे शुरुआत में Phrases पर ध्यान नहीं देते हैं। जब कोई भी बच्चा पहली बार किसी भी भाषा को बोलना सीखता है Words और वाक्यांश/वाक्य (Phrase) दोने एक साथ सीखता है इसीलिए वो झट से उस भाषा को सिख लेता है। इसलिए सबसे पहले आपको English के Phrase सिखने होंगे।

अगर आपको 1000 अंग्रेजी शब्द पता हैं, तो शायद ही आप एक अच्छा Sentence बना पाएंगे पर अगर आप एक Phrase जानते हैं तो आप 100 से भी अधिक सही Sentence आसानी से बना सकते हैं। उसी प्रकार अगर आप 1000 वाक्य या Phrase अगर जान जाते हैं तो आप आसानी से फराटेदार English बोल सकते हैं। Basic English किस शुरुवात करने के लिए नीचे दिए गए बटन पर Click करें !

English का Basics सीखें

#3 English सिखने के साथ-साथ बोलने का Practice करना भी आवश्यक है

पढना, सुनना, और बोलना किसी भी भाषा को सिखने के लिए बहुत आवश्यक है लेकिन अगर आपको मक्खन के जैसे अंग्रेजी बोलना सीखना है तो Speaking पर सबसे ज्यादा ध्यान देना होगा। जिस प्रकार बच्चे पहले बोलना सीखते हैं उसके बाद पढना और आखरी में लिखना उसी प्रकार English बोलना सिखने के लिए भी यह क्रम अनुसार होना बहुत आवश्यक है – सुनना < बोलना < पढना < लिखना

पहले मुश्किल की बात तो यह है की स्कूलों में पहले पढना < लिखना < सुनना < बोलना सिखाया जाता है जिसकी वजह से English बोलने में मुश्किल होती है। दूसरी मुश्किल की बात यह है कि बहुत सारे लोग पढ़ते भी हैं और सुनते भी हैं पर बोलने की Practice नहीं करते।

इसलिए जितना हो सके School, Office और यहाँ तक की घर में भी English में बात करने की कोशिश करें। इससे English बोलने के लिए Confidence और Motivation दोनो आपके अन्दर Develop होगा।

इसे भी पढ़ें -  विश्व वन्यजीव दिवस पर निबंध Essay on World Wildlife Day in Hindi

#4 English बोलने के लिए Practice कैसे Start करें?

किसी भी भाषा को सिखने के लिए आपको Highly Talanted होने की ज़रुरत नहीं बल्कि उस भाषा से घिरे होने की आवश्यकता होती है। हम अपनी मातृ भाषा अपने आप सिख जाते हैं यह इसका सबसे अच्छा उदहारण है।

घर में हमेशा एक ही भाषा को सुनने बोलने के कारण ही यह प्रभाव पड़ता है। भले ही कोई व्यक्ति जितना भी मुर्ख हो या मानसिक रूप से पीड़ित हो उसे कोई ना कोई एक भाषा बोलना आता ही है।

कुछ लोग दुसरे देशों में पढाई करके भी English बोलना ठीक से सिख नहीं पाते। इसका एक सबसे बड़ा कारण होता है वे उन देशों में भी रहते समय अपने देश के कुछ दोस्तों से मिलते हैं उनके साथ अपने Local भाषा में बात करते हैं जिसके कारण वे English  ठीक से सिख नहीं पाते।

आपको बस जरूरत है कुछ ऐसे मित्रों, परिवार वालों की जो आपसे हमेशा English में बात करें और बस उसके बाद देखिये आप कितनी जल्दी अंग्रेजी बोलना सीखते हैं।

#5 English सिखने के लिए सही Source का उपयोग लें

Practice के विषय में तो हम बात कर ही चुके हैं की आप जितना Practice करेंगे उतना ही आप सीखेंगे। पर अगर आप किसी गलत English Sentence को अगर सिख रहे हैं बार-बार तो वो भी सही नहीं है। English सिखने के लिए आपको सही English Books, CDs या किसी भी Online Source की आवश्यकता होती है।

एक English ना जानने वाले व्यक्ति के साथ अंग्रेजी सिकना अच्छा और बुरा दोनों प्रकार का प्रभाव डाल सकता है। English बोलते समय आपको क्या अच्छा है और क्या बुरा इसकी पहचान करना आना चाहिए। एक दुसरे से English सिखने से आप गलतियां भी ढूंढ सकते हैं और जल्द से जल्द Spoken English भी सिख सकते हैं।

यह वो 5 महत्वपूर्ण नियम हैं जो Spoken English सिखने के लिए बहुत आवश्यक हैं। अगर आपको यह Points अच्छे लगे हों तो हमें Comments के माध्यम से जरूर बताएं।

9 thoughts on “अंग्रेजी बोलना कैसे सीखें? How to Learn English Speaking Easily Notes and PDF in Hindi”

  1. सर मुझे इंग्लिश बोलना नही आता है सर लेकिन आज से आप के बताये हुए नियम को हम अपनाएंगे मुझे उम्मीद है के मै इंग्लिश बहुत जल्द सिख जाऊंगा आप का 5 महत्वपूर्ण नियम मुझे बहुत अच्छा लगा आप का बहुत बहुत दन्यवाद सर

    Reply
  2. I want to fluently spoken english, but i can’t. I will try your pattern and begining with newly energy with many vocabulary of English.

    Reply
  3. सर मुझे इंग्लिश बोलना नही आता है, लेकिन आज से आप के बताये हुए नियम को हम अपनाएंगे मुझे उम्मीद है कि मै इंग्लिश बहुत जल्द सिख जाऊंगा आपके 5 महत्वपूर्ण नियम मुझे बहुत अच्छे लगे आपका बहुत बहुत धन्यवाद श्रीमान आप ऐसी कोई किताब या सीडी बताऐं जिससे और सरल या आसानी से हम अग्रेंजी सीख सखें

    Reply

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.