ब्रायलर मुर्गी के शेड में लाइट की व्यवस्था Light Management inside Broiler Shed

ब्रायलर मुर्गी के शेड में लाइट की व्यवस्था Light Management inside Broiler Shed

ब्रायलर मुर्गी पालन में लाइट का प्रबंध होना बहुत आवश्यक है क्योंकि ब्रायलर मुर्गी दिन और रात दोनों समय खाती रहती है। रात के समय भी शेड में अच्छी रौशनी होना बहुत ज़रूरी है क्योंकि अच्छी रौशनी के बिना ब्रायलर मुर्गियां ठीक से फीडर और ड्रिंकर के पास नहीं जा सकती है जिसके कारण उनके विकास में कमी देखा गया है।

ब्रायलर मुर्गी के शेड में लाइट की व्यवस्था Light Management inside Broiler Shed

कितने बल्ब लगायें? How many bulb?

कम से कम 8-9watt का एक LED बल्ब प्रति 100 चूजों के लिए लगायें। परन्तु इसमें भी कुछ चीजें जानना बहुत ज़रूरी होता है।

Loading...

सही रौशनी ना मिलने पर नुक्सान If good light is not provided inside shed?

  • छोटे चुजें डर कर एक के ऊपर एक चढ़ जायेंगे जिससे नीचे के चूजे दब कर मर जायेंगे।
  • बड़ी मुर्गियां भूखी रहेंगी जिससे डायरिया, या अन्य इन्फेक्शन होने का खतरा बना रहता है।
  • अँधेरे में दाना और पानी ना खा पाने के कारण उनके ब्रायलर मुर्गियों का विकास सही प्रकार से नहीं हो पाता है।
  • पैसे की बर्बादी और व्यापार में घाटा।

कुछ चीजों का ध्यान रखें Note to remember

चूजों को 23 घंटे लाइट देना चाहिए और एक घंटे के लिए लाइट बंद रखना चाहिए, ताकि चूज़े अंधेरा होने पर भी ना डरें। पहले 2 सप्ताह शेड में अच्छी रोशनी प्रदान करनी चाहिए इससे चूज़े तनाव मुक्त रहते हैं इसके अलावा वे बेहतर मात्रा में पानी और खाने का सेवन करते हैं।

इसे भी पढ़ें -  भारत में देसी मुर्गी पालन Desi Free Range Chicken Farming in India
Loading...

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.