विलोम शब्द की परिभाषा व उदहारण Antonyms – Vilom Shabd in Hindi

इस आर्टिकल में आपको बताएँगे विलोम शब्द की परिभाषा व उदहारण Antonyms इन हिन्दी – Vilom Shabd in Hindi

विलोम शब्द की परिभाषा व उदहारण Antonyms – Vilom Shabd in Hindi

सामान्य तौर पर किसी शब्द-विशेष के अर्थ के विपरीत अर्थ देने वाले शब्दों को विलोम शब्द कहा जाता है। इसी कारण से इन्हें व्याकरण की भाषा में विपरीतार्थक शब्द भी कहा जाता है।

उदाहरण के तौर पर:

अच्छा – बुरा
अचल – चल
अंकुश – निरंकुश
अकाल – सुकाल
अनभिज्ञ – भिज्ञ
अतुकान्त – तुकान्त
अनुकूल – प्रतिकूल
अग्राह्य -ग्राह्य
अग्रज – अनुज
अग्रिम – अन्तिम
अनुरक्ति -विरक्ति
अनित्य – नित्य
अभिज्ञ – अनभिज्ञ
अपेक्षा – उपेक्षा
अन्तरंग- बहिरंग
अक्रूर – क्रूर
अकलुष – कलुष
अंशतः – पूर्णतः
अल्पकालीन – दीर्घकालीन
अंगीकार, स्वीकार – अस्वीकार
अधर्म – सध्दर्म


स्वाधीन – पराधीन
आहार – निराहार
दाता – याचक
खेद – प्रसन्नता
सहयोग- असहयोग
सहमति- असहमति
गुप्त – प्रकट
अनुरक्त – विरक्त
अमर – मर्त्य
घृणा – प्रेम
आदर -अनादर
अदेय – देय
अतल – वितल
अवर – प्रवर
प्रत्यक्ष – परोक्ष
पृथ्वी, भू, – आकाश, नभ
क्षणिक- शाश्वत
ज्ञान- अज्ञान
अन्तरंग – बहिरंग
सजीव – निर्जीव
अल्प – अधिक
अधम- उत्तम
अवनत- उन्नत
सुगंध – दुर्गन्ध
अदोष – सदोष
अल्पायु – दीर्घायु
अभ्यस्त – अनभ्यस्त

मौखिक – लिखित
संक्षेप – विस्तार
अल्पज्ञ – बहुज्ञ
अपेक्षित – अनपेक्षित
अधुनातन – पुरातन
घात – प्रतिघात
अजल – निर्जल
अनंत – अंत
अस्त – उदय
अस्ताचल – उदयाचल
हर्ष- शोक
हित- अहित
हिंसा- अहिंसा
अनैतिहासिक – ऐतिहासिक
आलस्य -स्फूर्ति


सुगंध – दुर्गन्ध
अदोष – सदोष
अल्पायु – दीर्घायु
अभ्यस्त – अनभ्यस्त
मौखिक – लिखित
संक्षेप – विस्तार
अल्पज्ञ – बहुज्ञ
अपेक्षित – अनपेक्षित
अधुनातन – पुरातन
घात – प्रतिघात
अजल – निर्जल
अनंत – अंत
अस्त – उदय
अस्ताचल – उदयाचल
हर्ष- शोक
हित- अहित
हिंसा- अहिंसा
अनैतिहासिक – ऐतिहासिक
आलस्य -स्फूर्ति

अपचार – उपचार
समापन- उद्घाटन
सक्षम- अक्षम
सुरक्षित- असुरक्षित
संभव- असंभव
सर्दी- गर्मी
अन्धकार – प्रकाश
अल्पायु -दीर्घायु
सावधानी- असावधानी
सघन- विरल
आदर्श – यथार्थ
संतुलन- असंतुलन
आदर्श – यथार्थ
सक्षम- अक्षम
आय – व्यय
सुविधा- असुविधा
सरकारी- ग़ैरसरकारी
अधिक – न्यून
आह्वान – विसर्जन
औपचारिकता – अनौपचारिकता
आतुर – शांत
आशीर्वाद – अभिशाप
औचक – नियमित
आरूढ़ – अनारूढ़
अमृत, अमि, (अमिय) – विष, जहर
अर्पण – ग्रहण
औचित्य – अनुचित्य
अतिवृष्टि – अनावृष्टि
अनाहूत – आहुत
औलाद – वालिद
अतरंग – बाहरी
अज्ञ – विज्ञ
आंकुचन – प्रसारण
उग्र – सौम्य
उत्तरायण – दक्षिणायन
उदित – अस्त
उन्मूलन – मूलन
उऋण – ऋण
उदयाचल – अस्ताचल
उत्पत्ति – विनाश
एकेश्वरवाद – बहुदेववाद
एकांगी – सर्वांगीण
एकल – बहुल
अर्वाचीन – प्राचीन
अपकार – उपकार
अवलम्ब – निरालम्ब
एकतंत्र – बहुतंत्र
ऋणात्मक – धनात्मक
कनिष्ठ – ज्येष्ठ
कंठस्थ – विस्मरण
कद्रदान – नाकद्र
कर्मशील – कर्महीन
कृत्रिम -प्राकृत
कुत्सा – प्रशंसा , स्तुति
खंडन – मंडन
लहू – पसीना
लघुशंका – दीर्घशंका
शोषण – पोषण
स्थावर – जंगम
समास – व्यास
श्रव्य – दृष्य
सर्द – गर्म
स्वामी – सेवक
सामायिक – असामयिक
स्थूल – सूक्ष्म
सक्रिय – निष्क्रिय
ललचाना – त्यागना
लचक – कठोरता
सफल – असफल
सज्जन – दुर्जन
स्थावर – जंगम
स्वकीया – परकीया
शत्रु – मित्र
अनाथ- सनाथ
अथ – इति
अंतर – बाह्य
शुभ – तरल
सचेत – अचेत
सच्चरित – दुश्चरित
सित – असित
संबंध – असंबंध
स्वधर्म – विधर्म
सकाम – निष्काम
सुबुद्धि – कुबुद्धि
साधु -असाधु
सदाशय – दुराशय
सुलझाव – उलझाव
संकीर्ण – उदार
सत्य – असत्य
सुदूर – अदूर
सुबह – शाम
सभ्य – निर्भय
सूना – भरा
संग – असंग
सुलझाव – उलझाव
क्षणिक – शाश्वत
हास्य – रुदन
क्षम – अक्षम
क्षर – अक्षर
क्षुद्र – महान
ह्स्व – दीर्घ
हिंसा – अहिंसा
हित – अहित
हानि – लाभ
सहस – कठिन
स्थूल – सूक्ष्म
साधु -असाधु
संग – असंग
सुबुद्धि – कुबुद्धि
सच – झूठ
स्वदेश – विदेश
सकाम – निष्काम
सुधा – गरल
संधि – विग्रह
स्वधर्म – विधर्म
स्वजाति – विजाती
सचेत – अचेत
सच्चरित – दुश्चरित
श्रीगणेश – इतिश्री
श्रद्धा – अश्रद्धा
श्रांत – अश्रांत
शक्तिशाली – शक्तिहीन
ससीम – असीम
संगत – असंगत
संत – असंत
शासक – शासित
शुचि – अशुचि
शकुन – अपशकुन
सामिष – निरामिष
शुष्क – आद्र
शयन – जागरण
शीत – उष्ण
सोत्साह – निरुत्साह
स्वाधीन – पराधीन
लम्ब – आधार
लम्पट – सदाचारी
लंबित – त्वरित
लक्षितार्थ – अभिधार्थ
लक्षित – अलक्षित
लड़ाका – सद्भावी
लड़ाई – सुलह
लतिका – पौधा
लहँगा – साड़ी 
लफंगा –शरीफ
लब्ध – अनुपलब्ध
लबालब – खाली
लग्न – कुलग्न
लम्हा – घंटा
लरजना – थिरकना

इसे भी पढ़ें -  क्रिया - क्रिया के भेद -Verb in hindi VYAKARAN
Loading...


लयात्मक – अलयात्मक
लवण – शर्करा
ललित – कुरूप
वादी – प्रतिवादी
वैमनस्य – सौमनस्य
लवलीन – अमग्न
आवश्यक- अनावश्यक
आनंद- शोक
विभक्त – अविभक्त
व्यष्टि – समष्टि
अमावस्या – पूर्णिमा
अंशतः -पूर्णतः
अनाथ – सनाथ
व्यक्त – अव्यक्त
वृहत – लघु
विनय – अविनय
वसंत – पतझड़
लिप्त – अलिप्त
लुप्त – व्यक्त
विरह – मिलन
वृष्टि – अनावृष्टि
विधि – निषेध
राजतंत्र – प्रजातंत्र
रुग्ण – स्वस्थ
योगी – भोगी
मिलन – विछोह
मनुष्यता – पशुता
मोक्ष – बंध
मूक – वाचाल
मितव्यय – अपव्यय
बली – निर्बल
बहुत – थोडा
बसाना – उजाड़ना
संक्षेप – विस्तार
बहार – पतझड़ , खिज़ां
घात – प्रतिघात
बाह्य – अभ्यन्तर
बासी – ताजा
फल – निष्फल
बर्बर – सभ्य
पृथू – तनु
प्राण – निष्प्राण
नराघम – नरोत्तम
निशीथ – मध्याह्र
पतनोन्मुख – विकासोन्मुख
नद – नदी
नमकहराम – नमकहलाल
प्रात: – सांय
प्रमुख – सामान्य
नूतन – पुरातन
पात्र – कुपात्र
परार्थ – स्वार्थ


निंघ – वंघ
रुग्ण – स्वस्थ
निर्जीव – सजीव
निश्छल – छली
परिचित – अपरिचित
विधवा – सधवा
पतिव्रता – कुलटा
अति -अल्प
अथ – इति
अनुलोम – विलोम
प्रलय – सृष्टि
निश्चित – अनिश्चित
अथ- इति
निरक्षर – साक्षर
प्रसाद – अवसाद
अतिवृष्टि- अनावृष्टि
प्राची – प्रतीची
दृश्यकाव्य – श्रव्यकाव्य
अंतिम- प्रारंभिक
दुर्दिन – सुदिन
निषिद्ध – विहित
पुष्ट – अपुष्ट
निर्माण – ध्वंस
दुर्दांत – शांत
देहाती – शहरी
द्रुत – विलंबित
आग्रह- दुराग्रह
दुर्भाव – सद्भाव
अनुज- अग्रज
अगम- सुगम


देवत्व – दानवत्व
दिवा – रात्रि
तुल – अतुल
थोक – खुदरा
तृषा – तृप्ति
अनजान- जाना-पहचाना
आहार- निराहार
आस्तिक- नास्तिक
तिक्त – मधुर
आज़ादी- ग़ुलामी
तामसिक – सात्विक
ढीठ – संकोची
आयात- निर्यात
ढाल– चढ़ाव , चढाई
जरा – जवानी
आधुनिक- प्राचीन
जीवात्मा – परमात्मा
जाड़ा – गर्मी
इष्ट- अनिष्ट
जीव – निर्जीव
झोंपड़ी – महल
जाग्रत – सुषुप्त
उत्तीर्ण- अनुत्तीर्ण
चाहा – अनचाहा
कृतज्ञ- कृतघ्न
चढ़ाव – उतार

इसे भी पढ़ें -  नमामि गंगे योजना की पूरी जानकारी Namami Gange Project details in hindi


गहरा- उथला
चर – अचर
घोषित – अघोषित
गदर – शांति
घनेरा – नगण्य
गंधीला – सुगंधित
जटिल- सरस
आर्य- अनार्य
आदि- अनादि
गंभीर – सहज
गाड़ना – उखाड़ना
तपन- ठंडक
गोरक्षक – गोभक्षक
ग्राह्म – त्याज्य
घरेलू – बाहरी
दाता- याचक
गुप्त – प्रकट
गत – आगत
पतला- मोटा
गहरा – छिछला
मूक- वाचाल
केंद्रित – विकेन्द्रित
खगोल – भूगोल
खीजना – रीझना
मुमकिन- नामुमकिन
क्रिया- प्रतिक्रिया
करुण – निष्ठुर


रुचि- अरुचि
कनिष्ठ – वरिष्ठ
कटुक्ति – सूक्ति
विश्वनीय- अविश्वनीय
कट्टर – उदार
श्रम- विश्राम
ऋजु – वक्र
शोर- शांन्ति
स्थाई- अस्थायी
श्रोता- वक्ता
आकाश- पाताल
आशा- निराशा
ऋत – अनृत
एक – अनेक
अपचार – उपचार 
अवरोह – आरोह 
अतल – वितल
अनित्य – नित्य
राजा – रंक/ रानी/ प्रजा
बालक – वृद्ध / बालिका
अग्राह्य – ग्राह्य
अपकार – उपकार
अदेय -देय
अस्पृश्य- – स्पृश्य
अदोष – सदोष
उधार – नगद


घृणा – प्रेम
मौखिक – लिखित
हर्ष – शोक
सक्रिय – निष्क्रय
सफल – असफल
अवनी- अंबर
अमीर- ग़रीब
अंधेरा- उजाला
आय- व्यय
आश्रित- निराश्रित
इच्छित- अनिच्छित
जड़- चेतन
परमार्थ – स्वार्थ
इहलोक- परलोक
अच्छा- बुरा
अच्छाई- बुराई
उत्तरार्द्ध- पूर्वार्द्ध
एकता- अनेकता
लब्धप्रतिष्ठित – छिन्नप्रतिष्ठत
लटपट – सही
लय – बेलय
एक- अनेक
छूत- अछूत


जन्म- मृत्यु
जल्दी- देरी
अवर – प्रव
अर्पण – ग्रहण
जीवन- मरण
जल- थल
नेकी – बदी
अर्वाचीन- प्राचीन
निंदा – स्तुति
गन्दा- साफ़
चपल – गंभीर
छांह – धूप
चिरन्तर – नश्वर
ठोस- तरल
उर्वर- ऊसर
ऐसा- वैसा
गर्म- ठंडा
छोटा- बड़ा
जंगम – स्थावर
छेद्य – अछेद्य
चय – अपचय
डरपोक- निड़र
तुच्छ- महान

Loading...

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.