फूल पर निबंध Essay on Flower in Hindi

आज के इस लेख में हमने 500 शब्दों में फूल पर सुन्दर सा निबंध (Essay on Flower in Hindi) प्रस्तुत किया है।

यह एक लघु निबंध है स्कूल और कॉलेज के बच्चों के लिए। इसमें हमने फूल के महत्व को बताया है और साथ ही इसके मोल को समझाया है कि कैसे यह हमारे जीवन में एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है।

फूल पर निबंध – हिंदी 500 शब्दों में

हमारी प्रकृति हमें एक बहुत ही प्यारा उपहार दिया है जिसे हम फूल (पुष्प) के नाम से जानते है। फूलों ने हमें कई प्रकार के रंग और मनमोहक खुशबू भी दी  है और फूल ही हमारी धरती की सुन्दरता को बढ़ाते है। फूल की खुशबु से मन को अत्यंत शांति मिलती है। ये हर किसी का मन मोह लेते है।

फूलों का महत्त्व

फूलों का हमारे जीवन में बहुत अधिक महत्त्व है। हमारे देश भारत में फूलों के बिना हमारे भगवान की पूजा संपन्न नहीं होती है। हम फूलों की माला बनाकर भगवान को समर्पित करते है। कभी-कभी किसी पूजनीय व्यक्ति को भी हम फूलों की माला पहनाकर उसका स्वागत करते।

इसके अलावा फूलों की सुगंध जो हमें अति मोहनीय लगती है, उसका उपयोग हम अलग-अलग जगह पर करते है और फूलों को हम अपने बगीचे में लगाकर अपने घर आँगन की सुन्दरता बढ़ाते है। दुनियां के हर एक कोने में फूलों का अपना अलग ही महत्व्व है। कुछ फूलों को तो हम औषधि के रूप में भी प्रयोग करते है।

फूलों से अलग-अलग सुगंध के इत्र भी बनाये जाते है। वो हर एक चीज़ जिसमें सुगंध है। यह अनुभव हमें इन प्यारे, कोमल फूलों ने ही दिया है। फूलों का रस भौरे लेते है और तितलियाँ, पक्षी, मधुमक्खियों आदि फूल को भोजन के रूप में ग्रहण करते है। एक पौधे में प्रजनन की प्रक्रिया फूलों द्वारा ही पूर्ण होती है।

इसे भी पढ़ें -  विश्व तंबाकू निषेध दिवस World No Tobacco Day Essay in Hindi

फूलों का सजावट से संबंध

पुराने ज़माने से लेकर आज तक फूल हमारे जीवन की जरूरत रहे है। घर की पूजा में हम इन्ही फूलों से भगवान की सजावट करते है जिससे हमारा मंदिर सुन्दरता के साथ-साथ इनकी खुशबू से महक भी जाता है।

किसी शादी या बर्थ डे पार्टी में भी फूलों की सजावट करते है, इसके अलावा कभी कभी हम अपने प्रियजन को खुश करने के लिये या कोई घर में पैदा होता है तब भी हम फूलों का गुलदस्ता लेकर जाते है। जब कोई अपना शरीर त्याग देता है तो भी हम उसे फूलों के हार से सजाकर ही उसे विदा करते है। अर्थात हम कह सकते है फूल तो हमारे जन्म से मृत्यु तक के साथी है।    

फूलों का भोजन के रूप में उपयोग

गुलाब के फूलों की पत्तियों से हम गुलकंद बनाते है। जो कि हमारे स्वास्थ्य के लिये बेहद लाभदायक है। गुलाब की पत्तियां किसी भी भोजन के व्यंजन को देखने में सुंदर बनाने के लिए भी प्रयोग की जाती है। कई फूल ऐसे भी है जिनका प्रयोग तो लोग प्राचीन समय से करते आ रहे है।

कुछ सामान्य फूलों के नाम

गुलाब, कमल, रातरानी, गेंदा, चंपा, चमेली, डहेलिया, सूरजमुखी, गुल्हड़, गुलबहार, नलिनी इत्यादि ये कुछ सामान्य फूलों के नाम है, जो हम अपनी आम जिन्दगी में देखते रहते है और इन फूलों से हम अच्छी तरह परिचित है। जैसे कमल का फूल तो हमारे देश का राष्ट्रीय पुष्प है और गुलाब जैसा कोई सुंदर नहीं हमारे शायर भी फूलों को लेकर शायरियाँ बनाते है उनकी उपमा में सुन्दरता से की जाती है।

फूल आमदनी का एक जरिया

फूल हमारे जीवन में कई लोगों के लिेये आय का साधन भी है कुछ लोग फूलों की माला बनाकर बेचते है, तो कुछ लोग फूलों के गजरे बनाकर उनको बेचकर अपनी जीविका चलाते है। कुछ लोग तो फूलों को निर्यात व आयात का काम भी करते है कुछ लोगों की तरह-तरह के गुलदस्ते की दुकान भी होती है, तो कुछ लोग एक-एक फूल भी बेचते है, कुछ लोग फूलों की खेती भी करते है जिनमे अनेकों रंग और प्रजातियों के फूलो को उगाते है इस प्रकार फूलों का व्यापार छोटे से छोटा तो बड़े से बड़ा भी है।

इसे भी पढ़ें -  2020 शिक्षक दिवस के लिए भाषण व निबंध Teachers Day Speech Essay in Hindi

निष्कर्ष

फूल हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग हैं। फूल हमारे जीवन में खुशियाँ लाते हैं और आस-पास के वातावरण को स्वच्छ और सुन्दर बनाते हैं। हमने अपने घरों में भी सुन्दर फूल के पौधे लगाने चाहिए। आशा करते हैं आपको यह फूल पर निबंध अच्छा लगा होगा।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.