2020 तीज त्यौहार पर निबंध Essay on Teej Festival in Hindi

2020 तीज त्यौहार पर निबंध Essay on Teej Festival in Hindi

तीज एक हिंदू त्योहार है जिसमें भारतीय महिलाएं विवाह, पारिवारिक संबंधों का बंधन मनाती हैं और परिवार के समग्र कल्याण के लिए प्रार्थना करती हैं। यह श्रावण महीने में आता है और ज्यादातर उत्तर भारत और नेपाल में मनाया जाता है।

तीज भी राजस्थान, हरियाणा, पंजाब आदि राज्यों में महान उत्साह के साथ मनाया जाता है और भारत में बारिश के आगमन की याद दिलाता है।

Featured Image Source – Flickr.com

तीज त्यौहार पर निबंध Essay on Teej Festival in Hindi

2020 तीज कब है?

6 अगस्त 2020

Teej Festival History and Importance इतिहास और तीज का महत्व

तीज को सैकड़ों वर्षों से भारत में मनाया गया है। यह माना जाता है कि देवी पार्वती को 108 जन्मों तक प्रतीक्षा करनी पड़ीं थी तब कहीं भगवान शिव ने उन्हें अपनी पत्नी के रूप में स्वीकार किया। और तीज के तीन दिन के त्यौहार में भगवान शिव और पार्वती के पुनर्मिलन का उल्लेख किया गया है।

तीज तीन प्रकार की है, हरियाली तीज, जब महिलाएं चंद्रमा की पूजा करती हैं,कजरी तीज जब महिलाएं नीम के पेड़ की पूजा करती हैं, और सबसे महत्वपूर्ण हरितालिका तीज, जब महिला अपने पति की लंबी उम्र के लिए उपवास करते हैं।

तीज भारत के उत्तरी हिस्सों में मानसून की शुरुआत को चिन्हित करता है और इसलिए इसे ‘सावन’ त्योहार भी कहा जाता है। हरितालिका तीज का नाम मानसून की शुरुआत से जुड़े हरियाली से मिलता है। तीज़ अगस्त में पूर्णिमा के तीसरे दिन हर साल मनाया जाता है।

इसे भी पढ़ें -  बाल दिवस पर भाषण और निबंध Childrens Day Speech and Essay in Hindi

तीज क्यों मनाया जाता है? Why Teej Festival is Celebrated?  Story- Katha

यह माना जाता है कि देवी पार्वती ने भगवान शिव से प्रार्थना की और मानव जाति में 107 जन्मों की प्रतीक्षा की तब अंततः भगवान शिव ने 108 वें जन्म में उन्हें स्वीकार किया इसलिए, करवा चौथ की तरह, तीज की भावना अपने पति के प्रति पत्नी की इस भक्ति को दर्शाती है। उत्तर में तीज देवी पार्वती के प्रति सम्मान के के रूप में और अपने पतियों की लंबी उम्र के लिए प्रार्थना करती हैं।

लेकिन यह त्यौहार केवल विवाहित महिलाओं के लिए सीमित नहीं है, बल्कि कुँवारी लड़कियां भी इस दिन एक अच्छे पति के लिए प्रार्थना करती हैं और उपवास करती हैं।

तीज त्यौहार का उत्सव Celebration of Teej Festival

महिलाये इस दिन पारंपरिक डिजाइन के कपड़े पहनती हैं अपने हाथों और पैरों पर मेहंदी लगातीं हैं। कई महिला इस त्योहार के लिए अपने माता-पिता के घर जाती हैं, और रक्षा बंधन तक रहती हैं, जहां महिलाएं अपने भाइयों के लिए प्रार्थना करती हैं। तीज पर विवाहित महिला या दुल्हन के लिए उसके ससुराल वाले कुछ उपहार देते हैं।इसे एक शुभ अवसर भी माना जाता है।

तीज जुलूस आमतौर पर उत्तरी भारत के आसपास देखा जाता है यह जुलूस देखने योग्य होता है क्योंकि यह तीज माता के सम्मान लिए भव्य व्यवस्था के रूप में दर्शाया जाता है। देवी पार्वती या तीज माता की प्रतिमा, सोने के गहने और सुंदर रेशम से सजाए जाते हैं।

यह संगीत, नृत्य और कई भक्तों के साथ शहर के चारों ओर घुमाया जाता है। तीज जयपुर में दो दिवसीय उत्सव है इस दिन बाजारों को सजाया जाता है तीज़ उन पर्यटकों के लिए भी एक लोकप्रिय आकर्षण है जो उत्सव देखने के लिए जयपुर जाते हैं।

4 thoughts on “2020 तीज त्यौहार पर निबंध Essay on Teej Festival in Hindi”

  1. तीज का उल्लेख कौन से ऐतिहासिक अभिलेख मे हूआ था।

    Reply

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.