10 सबसे अधिक बिकने वाले उपन्यास Best Selling Novels all Time

10 सबसे अधिक बिकने वाले उपन्यास Best Selling Novels all Time

उपन्यास किसे कहते हैं ? क्या परिभाषा होगी उपन्यास की ? उपन्यास कहानी लिखने का ऐसा ढंग है जो कि कल्पना से भरपूर होता है। उपन्यास लंबे होते हैं अथवा कहानी अनेक घटनाओं एवं पात्रों के इर्द-गिर्द घूमती है। अर्नेस्ट ए बेकर ने उपन्यास को अपने अंदाज से परिभाषित किया है, वह कहते हैं कि उपन्यास हमारे समाज एवं जीवन के विवरण का उत्तम माध्यम है।

उपन्यास के माध्यम से लेखक अपने मन की कोई बात या अपना कोई मत पाठक के सामने प्रस्तुत करना चाहता है। उपन्यास स्वरूप में लचीला होता है, क्योंकि इसमें कहानी समय के द्वारा सीमित नहीं होती है, तथा एक दिन, एक वर्ष, या एक युग की भी हो सकती है। उपन्यास अधिकतर काल्पनिक होते हैं, परंतु लेखक अपनी कलम से उनमें ऐसा जादू डालता है कि कहानी, घटनाएं, पात्र जीवंत मालूम पड़ते हैं।

Contents show

10 सबसे अधिक बिकने वाले उपन्यास Best Selling Novels all Time

अब प्रारंभ करते हैं शीर्ष दस सबसे अधिक बिकने वाले उपन्यासों की सूची। सूची इस प्रकार है –

10. डैन ब्राउन द्वारा रचित – दी डा विंसी कोड The Da Vinci Code


कुछ तो बात होगी इस उपन्यास में जिससे पाठक इतना जुड़े कि साल 2003 से इसकी 80 मिलीयन कॉपियाँ बिक चुकी है। कहानी में पेरिस में हुई एक हत्या का वर्णन है,  जिसके उपरांत हार्वर्ड के रॉबर्ट लैंगडन को मौका ए वारदात पर बुलाया जाता है, ताकि वह हत्या की गुत्थी सुलझा सके, क्योंकि मरने वाला व्यक्ति जो कि संग्रहालय का अध्यक्ष था, खून में एक कोडित संदेश छोड़ जाता है।

जल्द ही कोड एवं क्रिप्टोलॉजी की विशेषज्ञ सोफिया भी इसी कार्य में जुट जाती है ताकि गुप्त रहस्य उजागर हो सके, जो कि पिछले 2000 वर्षों से सुरक्षित है। डैन ब्राउन का पूरा नाम डैनियल जैरहार्ड ब्राउन है और यह एक अमेरिकी लेखक है जो कि अपनी रोमांचक एवं रहस्यमई उपन्यासों के लिए मशहूर है।

9.  सी. एस. लेविस. द्वारा रचित – दि लायन दि विच एंड दि वॉर्डरोब The Lion the Witch and the Wardrobe


इस उपन्यास में सन 1940 की कहानी दर्शाई गई है और कथा के मुख्य किरदार चार भाई बहन हैं, जो कि इंग्लैंड में रहते हैं। शहर में हुए मिलिट्री के हमलों के कारण बच्चों को ग्रामीण इलाके में भेज दिया जाता है।

वहां रहते हुए पुराने घर में उन्हें एक जादुई अलमारी मिलती है, जिसका पीछे का द्वार एक दूसरी अलग ही दुनिया में खुलता है और उस अनोखी जगह का नाम है- नार्निया, जो की भरी हुई है बोलने वाले जानवरों और जादुई जंतुओं से।

इसे भी पढ़ें -  पुरुषों के लिए बेस्ट 10 घड़ियाँ Best 10 Mens Watches Online (in Hindi)

जब बच्चे नार्निया में कदम रखते हैं तो वहाँ जाकर मालूम पड़ता है कि एक सफेद डायन के जादू के कारण मौसम हमेशा सर्द ही रहता है और सारा नार्निया बर्फ से जमा रहता है। नार्निया में बच्चों के काफी अच्छे दोस्त बन जाते हैं और उन दोस्तों को डायन से बचाने के लिए, सफेद डायन को हराकर उसका जादू तोड़ना होगा।

पाठकों में यह उपन्यास काफी लोकप्रिय हुआ, इस बात का अंदाजा इस तथ्य से लग जाता है कि इसकी 100 मिलियन से ज्यादा कॉपियां बिक चुकी है। लेखक आइरिश मूल के हैं, उन्होंने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की अथवा साहित्य एवं दर्शन विषय में विशेषज्ञ बने।

उन्हें ऑक्सफोर्ड के ही कॉलेज में शिक्षण का कार्य सौंपा गया, जहां उन्होंने साहित्य समूह का हिस्सा बनकर काफी काम किया। लेविस अपनी मशहूर उपन्यास की श्रंखला क्रॉनिकल्स ऑफ़ नार्निया के लिए जाने जाते हैं, इस श्रंखला की सबसे कामयाब एवं चर्चित उपन्यास रही दी लॉयन दी विच एंड थे वॉडरोब जिसको 1950 में प्रकाशित किया गया था। श्रंखला की बाकी किताबें भी खूब बिकी पर पहली उपन्यास का आंकड़ा कोई छू नहीं पाया।

8. काओ ज़ुऐकिन द्वारा रचित – ड्रीम ऑफ दि रेड चेंबर Dream of the Red Chamber

यह चाइना की सबसे सफल उपन्यासों में से एक है। काओ एक बेघर लेखक एवं चित्रकार थे जिन्हें शराब के सेवन की बुरी लत थी। उन्होंने 1750 के दौरान उपन्यास को अध्यायों में लिखा और वे अक्सर अपनी कला को बेच दिया करते थे थोड़े खाने और शराब के लिए।

लेखक की मृत्यु 1763 में हुई और दुर्भाग्यवश वह अपने उपन्यास की सफलता नहीं देख पाए। अध्यायों को इकट्ठा किया गया उपन्यास का रूप देने के लिए, और प्रकाशन 1791 के बाद ही हुआ। उपन्यास में एक अमीर परिवार का जिक्र है जिनकी माली हालत पतन पर होती है।

उपन्यास में चाइना में 18वी सदी के दौरान का जीवन दर्शाया गया है। इस उपन्यास का अंग्रेजी अनुवाद असल उपन्यास से 2500 पृष्ठ ज्यादा लंबा है। उपन्यास में लगभग 400 किरदारों का विवरण है और उन सब से जुड़ी हुई अलग-अलग कहानियां है, इन्हीं में से एक सबसे मशहूर कहानी जिया नामक व्यक्ति के बारे में है जो अपने ही परिवार की एक लड़की से प्रेम करता है।

पर जबरन उसकी शादी परिवार की दूसरी लड़की से करा दी जाती है, जिसके कारण मुख्य पात्र के जीवन में भयानक मोड़ आ जाता है। चाइना में उपन्यास बड़े पैमाने पर सफल रही तथा इसका टीवी संस्करण 1987 में आया था।

7. ऐगथा क्रिस्टि द्वारा रचित – एंड दैन देयर वर नन And then there were Nun


एगथा अपने अपराधिक उपन्यासों को लेकर काफी चर्चा में रही है और इस संदर्भ में सर्वश्रेष्ठ लेखक भी मानी जाती है। लेखक ने कुल मिलाकर 66 उपन्यास व 14 छोटी कहानियां लिखी। एगथा कि इस बहुचर्चित उपन्यास में दस अजनबीयों की कहानी है, जो कि किसी प्रलोभन द्वारा एक द्वीप पर फँस जाते हैं।

एक बात और जो इन सभी में आम थी, वह यह कि ये सभी एक व्यक्ति की हत्या में शामिल थे और किसी प्रकार से सजा से बच निकले थे। फिर एक रात हत्या का आरोप उन पर उजागर हो जाता है अथवा उनसे कहा जाता है कि रात के पर्याय ही एक-एक करके उन सभी की मृत्यु हो जाएगी। कहानी के पात्र इस अंदाज में मरना शुरू होते हैं कि नर्सरी की कविता टेन लिट्ल इंडियंस से मेल खाता है, अथवा इसी कविता से उपन्यास का शीर्षक लिया गया है।

इसे भी पढ़ें -  पुरुषों के लिए 5 Best Beard trimmer under Rs 2000 में in Hindi

6. जे. आर. टोलकीन द्वारा रचित – दी हॉबिट The Hobbit


लेखक ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में बहुभाषी संबंधी अध्यापक रहे हैं, और अपने काम के दौरान ही उपन्यास लिखने की शुरुआत की, जो कि 1937 में प्रकाशित हुई। शुरुआत में हॉबिट को केवल बच्चों की उपन्यास कहा गया, पर बाद में इसे सभी ने पसंद किया।

उपन्यास एक हॉबिट के साहसिक एवं रोमांचक कार्यों पर आधारित है। हॉबिट एक ऐसी प्रजाति के लोगों को कहते हैं जो कि कद में काफी छोटे होते हैं। कहानी की शुरुआत में हॉबिट रोमांच में रुचि नहीं लेता है,  परंतु बाद में एक मित्र के कहने पर राजी हो जाता है।

यात्रा के अंत में वह निष्कर्ष निकालता है के सफर के दौरान हुए अनुभव, उसके पूरे जीवन की इकट्ठी की हुई पूंजी से कहीं ज्यादा मूल्यवान है।

5. जे. के. राउलिंग द्वारा रचित – दी हैरी पॉटर एंड फिलॉस्फर्स स्टोन The Harry Potter and Philosopher’s Stone


लेखक के जीवन की कहानी किसी जादू से कम नहीं है। राउलिंग एक अकेली मां थी, जो कि स्कॉटलैंड में गरीबी की हालत में रहा करती थी। उन्होंने मूल पांडुलिपि टाइपराइटर पर लिखी थी। 1995 में जब उपन्यास पूरा हुआ तो लेखक ने प्रकाशक खोजना शुरू किया, पर दर्जन भर से ज्यादा जगहों से उन्हें ना ही सुनने को मिली।

एक दिक्कत यह भी थी के हैरी पॉटर उपन्यास बच्चों के एक सामान्य उपन्यास से लगभग दोहरी लंबी थी। राउलिंग की किस्मत चमकी और एक छोटी प्रकाशन संस्था ब्लूम्सबेरी के अध्यक्ष ने अपनी 8 साल की भांजी को उपन्यास का पहला अध्याय पढ़ने को दिया और उसे वह काफी पसंद आया।

अध्यक्ष ने उपन्यास को प्रकाशित करने की हामी भरी अथवा $2400 एडवांस में दिए। राउलिंग आज लगभग 910 मिलीयन डॉलर की मालिक है, वह फोर्ब्स की अरबपतियों की सूची में भी रही पर जल्द ही अपनी काफी पूंजी दान में देने के कारण सूची के बाहर हो गई।

हरी पॉटर उपन्यासों की श्रंखला में से, पहली उपन्यास सबसे सफल साबित हुई, अथवा सन 2010 में 107 मिलियन से ज्यादा कॉपियों की रिकॉर्ड बिक्री हुई। उपन्यास एक छोटे जादूगर अथवा उसके दोस्तो पर आधारित है जो कि होगवार्ट्स स्कूल के छात्र हैं, इस जादुई स्कूल में क्या-क्या रोमांचक एवं रहस्यमई संघर्ष सामने आते हैं, उपन्यास में इन्हीं का वर्णन है।

उपन्यास एक छोटे जादूगर अथवा उसके दोस्तो पर आधारित है जो कि होगवार्ट्स स्कूल के छात्र हैं, इस जादुई स्कूल में क्या-क्या रोमांचक एवं रहस्यमई संघर्ष सामने आते हैं, उपन्यास में इन्हीं का वर्णन है।

4. एंटोनी दे संत द्वारा रचित – दी लिट्ल प्रिंस The Little Prince

लेखक फ्रांस मूल के रईस घराने से संबंध रखते थे अथवा पेशे से पायलट भी थे। फ्रांस के खराब हालातों के बाद वह न्यूयॉर्क चले गए जहां उन्होंने लिखना जारी रखा। 1942 के पर्याय उन्होंने उपन्यास लिखा, जो कि 1943 में नॉर्थ अमेरिका में प्रकाशित हुई, और असल उपन्यास फ्रेंच भाषा में लिखा गया था।

यह बच्चों का उपन्यास होते हुए भी जीवन के गंभीर विषयों का अवलोकन करता है। उपन्यास का मूल पात्र है एक पायलट जिसका जहाज सहारा रेगिस्तान में एक धमाके से क्षतिग्रस्त हो जाता है। पायलट को रेगिस्तान में एक बच्चा मिलता है, जो अपने आप को एक छोटे ग्रह का राजकुमार बताता है।

इसे भी पढ़ें -  लड़कों के लिए 10 गिफ्ट 1000 रूपये में Best Gift Ideas for Boys under Rs. 1000

वह यह भी बताता है कि प्रेम में मिले धोखे के कारण कैसे उसने घर छोड़ा व अपना अकेलापन दूर करने के लिए अब ब्रह्मांड की सैर करता है। उपन्यास का 250 भाषाओं में अनुवाद हो चुका है अथवा 1943 से 140 मिलीयन कॉपियाँ बिक चुकी है।

3. पाउलो कोइल्हो द्वारा रचित – दि अलकेमिस्ट The Alchemist


पाउलो ब्राजील के लेखक हैं तथा उनकी यह उपन्यास पहली बार 1988 में प्रकाशित हुई। उपन्यास मूल रुप से पुर्तगाली भाषा में लिखा गया था, जो कि 70 भाषाओं में अनुवादित है। उपन्यास का मूल पात्र है सेंटिएगो, जो कि एक स्पेनिश बच्चा है, जिसका सपना है कि वह एक दिन इजिप्ट जाए।

उसका मानना था के अगर हर व्यक्ति अपने अवचेतन मन की बात को सुनेगा अथवा पालन करेगा तो अवश्य ही सारा ब्रहमांड व्यक्ति की इच्छा पूर्ण करने में मदद करता है। ब्रह्मांड एक शक्तिशाली सहयोगी है और अगर इसका सहयोग मिले तो नामुमकिन को भी मुमकिन कर दिखाना सच होगा।

उपन्यास का शीर्षक एल्केमी नामक प्रक्रिया से लिया गया है, जिसमें भारी धातु तत्व लेड से सोना बनाया जाता है। सभी को अपने सपनों की उड़ान भरनी चाहिए, बस उपन्यास के इसी संदेश के कारण इसको सभी का चहेता बना दिया। इन 30 वर्षों में इसकी 150 मिलियन कॉपियां बिक चुकी है।

2. चार्ल्स डिकेंस द्वारा रचित – दी टेल ऑफ टू सिटीज The Tale of Two Cities


1812 में जन्मे लेखक इंग्लैंड के एक गरीब परिवार से थे। जब वे केवल 12 साल के थे तभी उनके पिता को जेल हो गई जिसके कारण उन्हें स्कूल छोड़कर एक फैक्ट्री में काम पर लगना पड़ा। जीवन में आगे भी ऐसे ही संघर्ष आते रहे इसके उपरांत उन्होंने बतौर पत्रकार कार्य शुरू किया और आगे जाकर वह एक सफल कार्टूनिस्ट भी बने।

उनकी पहली उपन्यास 1837 में प्रकाशित हुई और उसके 22 साल बाद उन्होंने दी टेल ऑफ टू सिटीज लिखी जो कि रिकॉर्ड तोड़ सफल रही। उपन्यास में फ्रेंच क्रांति के पहले और पर्याय का वर्णन है अथवा कहानी इंग्लैंड और फ्रांस दोनों देशों में रची गई है। उपन्यास साप्ताहिक किस्तों में प्रकाशित हुई अथवा अब तक 200 मिलीयन कॉपियां बिक चुकी है।

1. मिगुएल द्वारा रचित – डॉन किहोते Don Quixote


उपन्यास की सबसे विशेष बात यह है कि यह बाकी उपन्यासों से काफी पुरानी है अथवा पहली आधुनिक उपन्यास मानी जाती है। उपन्यास पहली बार सन 1605 में प्रकाशित की गई, तथा एक बूढ़े आदमी, एलोन्सो- जो कि स्पेन में रहता है, का वर्णन करती है।

जब वह अपना मानसिक स्वास्थ्य खो बैठता है तब उसे पुस्तकों में रूचि आती है और वह शूरवीर बनने की ठान लेता है। वह अपने आप को डॉन किसोते बताता है और अपने वफादार सहायक के साथ अपने पुराने घोड़े पर निकल जाता है ताकि दुनिया में इंसाफ फैला सके परंतु, कुछ ठीक नहीं होता है और उनकी यात्रा हास्य रोमांच में बदल जाती है।

उपन्यास प्रकाशित होते ही एक बड़ी कामयाबी रहा पर अफसोस लेखक को इससे कुछ खास फायदा नहीं हुआ और उनकी सन 1616 में गरीबी की हालत में मृत्यु हुई। उनकी मौत के बाद भी उपन्यास की लोकप्रियता बढ़ती रही और यह अब तक की सर्वश्रेष्ठ उपन्यास मानी जाती है। उपन्यास 25 भाषाओं में अनुवादित है अथवा 500 मिलियन से ज्यादा कॉपियां बिक चुकी है।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.