आदर्श विद्यार्थी पर निबंध Essay on An Ideal Student in Hindi

आदर्श विद्यार्थी पर निबंध Essay on An Ideal Student in Hindi

क्या आप एक आदर्श छात्र पर निबंध पढना चाहते हैं?
क्या आप एक अच्छे विद्यार्थी बनने के बेहतरीन टिप्स जानना चाहते हैं?

आइए आपको बताते हैं कैसे आप एक आदर्श विद्यार्थी बन सकते हैं और शिक्षा के क्षेत्र के साथ साथ अपने जीवन के करियर के क्षेत्र में भी आगे बढ़ सकते हैं।

आदर्श विद्यार्थी पर निबंध Essay on An Ideal Student in Hindi

आदर्श विद्यार्थी के लक्षण

एक आदर्श विद्यार्थी वह होता है जो अपनी शिक्षा पर पूर्ण ध्यान देता है और स्कूल तथा घर में सभी लोगों के साथ अच्छा व्यवहार करता है। एक आदर्श विद्यार्थी का सबसे पहला कार्य अपने स्कूल या कॉलेज के सभी कार्यक्रमों में  भाग लेना होता है।

अपने माता पिता चाहते हैं की उनका बच्चा एक आदर्श विद्यार्थी बने। आदर्श विद्यार्थी अपने सभी दिए हुए कार्यों को सही तरीके से पूर्ण करते हैं और सफलता पाने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं।

आदर्श विद्यार्थी कैसे बने?

आदर्श विद्यार्थी तभी बनेंगे जब स्कूलों और कॉलेजों में आदर्श अध्यापक होंगे। अध्यापक एक बगीचे के माली के समान है जो अपने बाग के हर एक पेड़, पौधे, फूल का पूर्ण निष्ठा से ध्यान रखते हैं।

सभी विद्यार्थी उसी प्रकार  बाग के फूल, पेड़, पौधे के समान है जिनके  आदर्श विद्यार्थी बनने के लिए अध्यापक रूपी माली की आवश्यकता होती है। इसीलिए एक आदर्श विद्यार्थी बनने के लिए एक अच्छे गुरु या अध्यापक का होना बहुत आवश्यक होता है।

अगर हमारे देश भारत में चाणक्य जैसे कूटनीतिज्ञ ने जन्म ना लिया होता तो चंद्रगुप्त मौर्य जैसे महान सम्राट भी उभरकर ना आते। यदि गुरु द्रोणाचार्य जैसे गुरु ना होते तो अर्जुन जैसे धनुर्धारी भी ना होते।

ऐसे लाखों उदाहरण है जिनसे यह स्पष्ट हो जाता है कि एक आदर्श विद्यार्थी के बनने के पीछे एक आदर्श गुरु का हाथ होता है। परंतु गुरु के साथ-साथ शिष्य का भी यह पूर्ण उत्तरदायित्व होता है कि वह अपने गुरु द्वारा दी गई हर एक शिक्षा का पालन करे तभी वह एक आदर्श विद्यार्थी बन सकता है।

आदर्श विद्यार्थी के गुण

हर एक विद्यार्थी का चरित्र ही राष्ट्र की संपत्ति होता है। विद्यार्थी जीवन में ही शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक, और आधिभौतिक विकास संभव है। विद्यार्थी जीवन हर एक व्यक्ति के जीवन की नींव होती है।

जिस प्रकार अच्छे मजबूत नीव के बिना अच्छी इमारत तैयार नहीं हो सकती उसी प्रकार अच्छे विद्यार्थी जीवन के बिना कोई भी व्यक्ति अपनी सफलताओं को नहीं पा सकता। आज तक विश्व में जितने भी महान व्यक्ति सफल हुए हैं, भले ही उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की हो या ना की हो वह एक आदर्श विद्यार्थी थे क्योंकि उन्होंने अपनी इच्छाओं को पूर्ण करने के लिए ज्यादा से ज्यादा ज्ञान अर्जित किया।

आदर्श विद्यार्थी की दिनचर्या

एक आदर्श विद्यार्थी हमेशा समय के मूल्य को समझता है और वह समय को कभी भी बर्बाद किए बिना उसका सही उपयोग करता है। एक आदर्श विद्यार्थी हमेशा अपने जीवन में कुछ ना कुछ सीखने की कोशिश करता है और अपनी शिक्षा के रास्ते में आने वाले हर एक मुश्किल में कभी घबराता नहीं है क्योंकि उसे अपना लक्ष्य स्पष्ट दिखाई देता है। जिस प्रकार अर्जुन को पेड़ पर बैठे चिड़िया की मात्र आंख दिख रही थी उसी प्रकार एक आदर्श विद्यार्थी अपने जीवन लक्ष्य के बिना किसी भी अन्य नकारात्मक विचारों पर ध्यान नहीं देता।

चाहे कुछ भी हो जाए परंतु एक आदर्श विद्यार्थी हमेशा अपने माता पिता का नाम रोशन करता है। अभी हाल ही में हमारे गांव के एक लड़के ने एमबीबीएस की परीक्षा को बहुत अव्वल अंको से पास किया। परंतु खास बात यह नहीं है कि उसने वह परीक्षा पास किया बल्कि खास बात तो यह है की उसके पिताजी  बाज़ार-बाज़ार जाकर कपड़े बेचा करते हैं और उसने अपने पिताजी के कष्टों को समझते हुए एक आदर्श विद्यार्थी का छाप छोड़ा।

आज हमारे स्वतंत्र भारत के विद्यार्थियों को अपने कर्तव्यों को समझना चाहिए तथा महान नेताओं और माता पिता द्वारा दिए गए सकारात्मक विचारों का पालन करना चाहिए। एक आदर्श विद्यार्थी अपने माता पिता, राज्य,  देश तथा विश्व हर क्षेत्र को सफलता की ऊँचाइयों तक पहुँचाता है इसीलिए एक आदर्श विद्यार्थी बने।

1 thought on “आदर्श विद्यार्थी पर निबंध Essay on An Ideal Student in Hindi”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.