महाराष्ट्र हड्गा त्यौहार पर निबंध Essay on Hadaga Festival in Hindi Maharashtra

महाराष्ट्र हड्गा त्यौहार पर निबंध Essay on Hadaga Festival in Hindi Maharashtra

Tilgul kha god god bola

Image Source Flickr – saloni desai

महाराष्ट्र हड्गा त्यौहार पर निबंध Essay on Hadaga Festival in Hindi Maharashtra

हड्गा त्यौहार मकर संक्रांति का एक दूसरा रूप है जो महाराष्ट्र में बहुत ही उल्लास के साथ मनाया जाता है। यह भी मकर संक्रांति की तरह किसानो और उनके फसल से जुड़ा हुआ त्यौहार है।

खेती किसान लोग इस त्यौहार में भगवान् से अच्छे मानसून की प्रार्थना करते हैं ताकि उनकी फसल अच्छी हो। जैसे हम जानते हैं इंद्र, वर्षा के भगवान् हैं इसिलए लोग इंद्र भगवान् को प्रसन्न करने और उनसे अच्छी वर्षा पाने के लिए गीतों के माध्यम से प्रार्थना करते हैं।

 इंद्र भगवान् के वहां हाथी का चित्र लोग अपने घरों में जगह-जगह बनाते हैं ताकि इंद्रदेव खुश हो कर उनके घर पधारें और उनके खेतों में बारिश ही बारिश हो। भारत के अन्य राजों के त्यौहार की तरह Hadaga Festival पर महाराष्ट्र में भी मकर संक्रांति इसी दिन मनाया जाता है और खूब सारे लोग पतंग लोग उड़ाते हैं।

हड्गा त्यौहार के दिन लोग अपने घर में नए कपडे पहनते हैं और अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को भी घर में आमंत्रित करते हैं। उनका कुमकुम लगा कर स्वागत किया जाता है और खीर खिला कर शुरुवात किया जाता है। पतंगों के कारण पूरा आकाश रंगीन हो जाता है और बहुत सुन्दर दीखता है। लोग एक दुसरे को तिल और गुड से बनायीं हुई मिठाइयाँ देते हैं और लेते हैं।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.