Loading...

डेंगू बुखार का इलाज Dengue Fever Causes Symptoms Treatment in Hindi

0
डेंगू बुखार का इलाज Dengue Fever Causes Symptoms Treatment in Hindi

डेंगू बुखार का इलाज Dengue Fever Causes Symptoms Treatment in Hindi

डेंगू बुखार (Dengue Fever) एक मच्छर से फ़ैलने वाला बीमारी है जो विश्व के उष्णकटिबंधीय और उपोष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में सबसे ज्यादा होता है। यह एक वायरल बीमारी है जो वायरस के कारण होता है। इसमें बहुत तेज़ बुखार होता है तथा मांशपेशियों और जोड़ों में अत्यधिक दर्द होता है।

डेंगू बुखार बहुत ज्यादा बढ़ जाने पर Blood Pressure कम हो जाता हैर Bleeding भी हो सकता है जिसे Dengue hemorrhagic Fever कहा जाता है। अभी तक इस बीमारी के लिए कोई पक्का दवाई नहीं है परन्तु सही समय में इलाज ही इससे बचाव है।

डेंगू बुखार का इलाज Dengue Fever Causes Symptoms Treatment in Hindi

निवारण Prevention

डेंगू बुकर के निवारण –

  • बारिश के महीने में घर के पीछे पानी भरे हुए गमले, प्लास्टिक के कंटेनर, बोतलें या कूलर में पुराना पानी ना रहने दें।
  • अपने घर के आस-पास साफ़ सफाई रखें।
  • सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करें।
  • जब झाड़ी वाले क्षेत्रों में जाएँ तो फुल हाँथ वाले शर्ट और फुल पेंट पहनें।
  • अपने घर के आस-पास के झाड़ियों और घर में इंसेक्टिसाइड का छिडकाव करें।

लक्षण Symptoms

डेंगू बुखार के लक्षण –

  • डेंगू बुखार के लक्षण मच्छर के काटने के 4-7 दिन बाद दिखने लगते हैं।
  • डेंगू में 104 F बुखार यानि की बहुत ज्यादा बुखार होता है
  • सर में बहुत दर्द होना।
  • मांशपेशियों, हड्डी और जोड़ों में बहुत ज्यादा दर्द होना।
  • उलटी आना।
  • मतली आना।
  • आँखों के निचले भाग में दर्द होना।
  • अंगों में सुजन आना।
  • त्वचा पर दाने या लाल होना।
  • लिम्फ नोड में सुजन।

Dengue hemorrhagic Fever के लक्षण –

  • पेट में जोरो का दर्द होना।
  • उलटी का बंद ना होना।
  • दांतों के मसूड़ों और नाक के खून निकलना।
  • पेशाब, मल या उलटी में खून जाना।
  • त्वचा से खून निकलना।
  • थकान।
  • बैचैनी और कमजोरी।
Also Read  गर्भावस्था में देखभाल कैसे करें? Pregnancy Care Week by Week Tips Hindi

नोट –

अगर आप ऊपर दिए हुए किसी भी प्रकार के लक्षण को देखते हैं तो तुरंत अपने नजदीकी चिकित्सा केंद्र को जाएँ या Emergecy पर 108 पर कॉल करें।

कारण Causes

डेंगू बुखार के फैलने का कारण –

  • डेंगू का बुखार कई प्रकार के वायरस के कारण होता है जो मच्छरों के कारण एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति को फैलता है। फ़ैलाने वाले मच्छर का नाम है Aedes aegypti.
  • डेंगू के कुल 5 प्रकार के serotypes होते हैं इसलिए जीवन में बार-बार डेंगू हो सकता है पर जीस serotype से एक बार व्यक्ति infected हो जाता है शरीर उस serotype के लिए immunity जीवन भर के लिए बना लेता है।
  • डेंगू का मच्छर बारिश के महीने में सबसे ज्यादा पाया है। डेंगू का मच्छर का दिन के समय कटता है खासकर सूर्योदय के 2 घंटे के बाद।
  • WHO(World Health Organization) के अनुसार प्रतिवर्ष विश्व भर में 20 हज़ार से ज्यादा लोगों की मौत डेंगू की वज़ह से होती है जिसमें ज्यादातर बच्चे होते हैं।
  • लगभग 40% से ज्यादा विश्व की आबादी डेंगू फैलने वाले क्षेत्रों में रहते हैं।
  • डेंगू एक व्यक्ति से सीधे दुसरे व्यक्ति को नहीं फैलता है। जब डेंगू संक्रमण हुए व्यक्ति को Aedes albopictus प्रजाति का मच्छर काटता है और वही मच्छर दोबारा किसी दुसरे व्यक्ति को कटता है तो डेंगू फैलता है।

निदान Diagnosis

ऊपर दिए हुए लक्षण के दिखने पर डॉक्टर्स डेंगू के लिए DENV Detect IgM Capture (ELISA) टेस्ट करने की सलाह देते हैं। यह टेस्ट खासकर डेंगू के निदान के लिए किया जाता है।

Loading...

उपचार / इलाज Treatment

डेंगू के लिए कोई विशिष्ट उपचार नहीं है क्योंकि यह वायरस के कारण फैलता है। रहत के लिए कुछ उपचार के उपाय –

  • सबसे पहले तो ज्यादा से ज्यादा पानी पियें। इससे डिहाइड्रेशन होने से आप बच सकते हैं।
  • ज्यादा बुखार होने पर मात्र पेरासिटामोल की गोली लें।
  • जितना जल्दी हो सके अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पहुंचें।
  • किसी भी प्रकार के दर्द की गोली लेने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करें।
Print Friendly, PDF & Email
Loading...
Load More Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

गिलोय के स्वास्थ्य लाभ और नुक्सान Giloy health benefits and side effects in hindi

गिलोय के स्वास्थ्य लाभ और नुक्सान Giloy health benefits and side effects in hindi गिलोय Gi…