गर्मी के महीने या ग्रीष्म ऋतू पर निबंध Essay on Summer season in Hindi

गर्मी के महीने या ग्रीष्म ऋतू पर निबंध Essay on Summer season in Hindi

क्या आप गर्मी के माह के महत्व को समझना चाहते हैं?
क्या दिन ब दिन गर्मी के महीने के बड़ते समय का कारण जानते हैं?

गर्मी के महीने या ग्रीष्म ऋतू पर निबंध Essay on Summer season in Hindi

वर्ष के चार सत्रों में गर्मियों का समय ग्रीष्म ऋतू सबसे गर्म मौसम है। यह ग्रीष्मकालीन संक्रांति के दिन से शुरू होता है, और शरद काल विषुव के दिन समाप्त होता है। दक्षिणी और उत्तरी गोलार्द्ध दोनों विपरीत दिशाओं में स्थित हैं; इसलिए, जब दक्षिणी गोलार्द्ध में गर्मी होती है, तो उत्तरी गोलार्द्ध में सर्दियाँ होती है

इस मौसम में अत्यधिक तापमान और शुष्क मौसम रहता है, जिसमें हिंसक मानसून जो कि मृत्यु दर बढ़ने का कारण बनता है। इस मौसम के समय ऊष्मीय तापमान की वजह से मौसम गर्म रहता है जिससे कुछ क्षेत्रों में कम पानी की आपूर्ति,  कमी या पूरी तरह से पानी की कमी हो जाती है। तापमान में गर्मी की ऊँची और बढ़ती तरंगें इस मौसम को काफी गर्म बनाते हैं, जो दोनों लोगों, वन्यजीवों और व्यक्तियों के लिए  समस्याओं को पैदा करती है।

गर्मी में कई मौते (लोग या जानवर) गर्मी तरंगों के कारण निर्जलीकरण के कारण होती हैं। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र के अनुसार, गर्मी  उच्च गर्मी सूर्य तरंगों का सबसे घातक और चरम मौसम है।

इसलिए, इस मौसम के समय अच्छी तरह से हाइड्रेटेड(जलीय चीजें पीते) रहना चाहिए। नेशनल एकेडमी ऑफ साइंस के फूड एंड न्यूट्रिशन बोर्ड के मुताबिक, महिलाओं को सामान्य रूप से 2.7 लीटर पानी और 3.7 लीटर गर्मियों में दैनिक आधार पर लेना चाहिए। हालांकि, ज्यादा मेहनत करने वाले लोगों को सामान्य से अधिक पानी पीना चाहिए।

यह एन ओ ए ए के नेशनल क्लाइमेटिक डाटा सेंटर द्वारा दर्ज किया गया है कि वर्ष 2014 गर्मियों में सबसे गर्म था। नासा(NASA) के अनुसार, वातावरण की गर्मी साल दर साल बड़ती जा रही है। यह मानव निर्मित ग्लोबल वार्मिंग है अर्थात् ये मानव द्वारा ही किया जा रहा है। और, मानो ऐसा लगता है कि  यह बढ़ता तापमान जल्द ही एक गर्मी की दुनिया बना लेगा जो कि पुरे साल रहेगी ।

जैसा कि हम एक इंसान हैं, जो कि  ईश्वर की सबसे बुद्धिमान संरचना है,  हमें इस बढ़ते तापमान पर सकारात्मक सोच और सकारात्मक कार्य करना चाहिए। हमें सभी आरामदायक संसाधनों का उपयोग करके गर्मियों के मौसम का आनंद लेना चाहिए, हालांकि हमें सीमा पार नहीं करनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें -  गधे और व्यापारी की कहानी Donkey and Merchant Story in Hindi

हमें सीमा के भीतर रहकर आनंद लेना चाहिए और हमेशा पानी और बिजली की बचत करना चाहिए। हमें पानी और बिजली बर्बाद नहीं करनी चाहिए क्योंकि इस पृथ्वी पर साफ पानी का बहुत कम प्रतिशत है और बिजली का अनावश्यक उपयोग ग्लोबल वार्मिंग का एक बहुत बड़ा कारण है। आओ हमसब मिलकर आज कुछ ऐसा प्रयास करें जिससे इस गर्मी के मौसम को कम कर सकें।

राम नवमी, शिवरात्रि और होली जो कि रंगों का त्यौहार है गर्मी में मनाया जाता है। स्कूल के बच्चों की परीक्षाएं होती हैं और फिर गर्मी की छुट्टी होती है। यह बच्चों के लिए मजेदार और आनंद लेने का समय होता है।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.