mi किस देश की कंपनी है? Xiaomi के सीईओ, इतिहास, सफलता

इस लेख मे आप redmi या mi किस देश की कंपनी है? इसके Xiaomi के सीईओ, इतिहास, सफलता के विषय में पूरी जानकारी दी है।

अगर आप इलेक्ट्रॉनिक कंपनी एमआई के Redmi मोबाईल खरीदने के बारे में सोच रहें है या आप स्वयं Redmi या Xiaomi के उपभोक्ता हैं तो आपको यह लेख जरुर पढ़ना चाहिए।

आज भारत चीन देश विवाद से कौन अनभिज्ञ है, हर भारतीय आज चीनी वस्तुओं का बहिष्कार कर रहा है इसलिए इस लेख में आप मोबाइल व अन्य गेजेट्स की निर्माता कंपनी mi के बारे में विस्तार से जानेंगे साथ मोबाइल कंपनी MI को कौन सी अन्य कम्पनियाँ भविष्य में टक्कर दे सकती हैं इसके बारे में भी जानेगे।  

mi किस देश की कंपनी है? Which country is Mi company?

Mi कंपनी को हम की नाम से जानते हैं जैसे Xiaomi, Redmi. यह एक चीनी कंपनी है। इस कंपनी की शुरुवात 6 अप्रैल 2010, को यिंगू हवेली ने बीजिंग, चीन देश में किया था। क्या आपको पता है की Xiaomi कंपनी कुछ ही सालों में दुनियाँ की हर मोबाइल कंपनियों को पछाड़ कर मोबाइल विक्रय के मामले में प्रथम स्थान पर पहुँच गयी है।

विश्व में मोबाइल निर्माण से सम्बंधित कई कम्पनियाँ है तथा हर दिन कोई ना कोई कंपनी अपना नया प्रोडक्ट लॉन्च करती रहती है जहाँ किसी में कम तो किसी में ज्यादा बेहतर फीचर्स होते है। लेकिन ग्राहक अपनी पसंद और एडवांस फीचर्स वाला ब्रांड ही खरीदता है, और ऐसा बेहतर एडवांस टेक्नोलॉजी का उत्पाद ग्राहकों को Redmi कंपनी उपलब्ध कराती है।

अतः MI कंपनी रियायती कीमत तथा एडवांस फीचर्स के साथ ग्राहक को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोंनो तरीकों से नए ब्रांड उपलब्ध कराने वाली टॉप 10 मोबाइल कंपनियों में से एक है।

और पढ़ें -  Apple iPhone और MacBook इतने महंगे क्यों होते हैं?

MI एक ब्रांड है, जो एक चीनी कंपनी Xiaomi के अंतर्गत आता है। इस कंपनी ने अपने नए बेहतर फीचर्स और सस्ते दामों के मोबाइल फोन उपलब्ध कराकर विश्वभर के बाजारों में धूम मचा रखी है।

mi कंपनी के सीईओ कौन हैं? CEO of MI Company

CEO किसी भी कंपनी का प्रमुख अधिकारी होता है CEO का फुल फॉर्म Cheif Executive Officer होता है। जिसे हिंदी में मुख्य कार्यकारी अधिकारी कहते है। यह ही एक ऐसा व्यक्ति होता है जो किसी कंपनी को पूरी तरह संभालता है और सभी मुख्य निर्णय लेता है, कहा जा सकता है की CEO ही किसी कंपनी का कर्ता धर्ता होता है।

MI या Xiaomi (शाओमी) कंपनी के सीईओ एक बहुत ही मेहनती व्यक्ति है जिनका नाम ली जुन है। इनका जन्म 16 दिसंबर 1969 में चीन देश के एक शहर जियांतो में हुआ था ली जुन एक बहुत बड़ी स्मार्टफोन कंपनी के सह संस्थापक और CEO भी हैं।

ली जुन ने वुहान यूनिवर्सिटी से अपनी पढ़ाई पूरी की तथा कई मुकामों को हासिंल करने के बाद 2010 में सात लोगों के साथ मिलकर शाओमी (Xiaomi) कम्पनी को स्थापित किया जो शुरू में एक सॉफ्टवेयर कम्पनी थी  तथा 2011 में हार्डवेयर में कदम रखते ही अपना पहला मोबाइल बनाया और लगातार सफलता की सीढ़ियाँ चढ़ते गए।

mi कंपनी का इतिहास History of MI Company in Hindi

सामान्यतः MI का फुल फॉर्म Mobile internet है, लेकिन MI जैसी बड़ी कंपनी को लोग एक और नाम से जानते हैं, जिसे Mission impossible भी कहते है। यही MI आज एक ऐसा ब्रांड बन गया है जिसे चीन में तो लोकप्रियत मिली है इसके साथ विश्वभर में भी इसके ब्रांडों को खूब सराहा गया है।

शाओमी MI टॉप 10 मोबाइल कंपनियों में से एक है इसलिए इसके फीचर्स और एडवांस नेटवर्क के कारण यह तुंरत ही out of stock हो जाते है। क्योंकि इसे बहुत से लोग खरीदते है और यह कम्पनी भी अपने यूजर्स को सस्ते दामों में एक अच्छा फीचर्स वाला स्मार्टफोन उपलब्ध कराती है जो अन्य कंपनियों द्वारा उपलब्ध कराना टेढ़ी खीर साबित हुई है।

और पढ़ें -  विज्ञान के चमत्कार पर निबंध Essay on Vigyan ke Chamatkar

अपनी लोकप्रियता के कारण ही शाओमी MI कंपनी चीन देश की सबसे बड़ी मोबाइल निर्माता कंपनी बन गयी है। इस कंपनी के मोबाइल तथा अन्य गैजेट्स चीन, भारत तथा अन्य देशों में भी बड़ी मात्रा में यूज़र्स द्वारा उपयोग किये जा रहे है। इसलिए इस कंपनी को चीन देश का एप्पल भी कहा जाता है। यह मोबाइल के साथ-साथ अन्य हजारों प्रकार उपकरण भी बनाती है।

शाओमी MI कंपनी का मुख्यालय चीन देश के बीजिंग शहर में स्थापित है इस कंपनी की शुरुवात 6 अप्रैल 2010 में की गयी थी जो आज अपने बेहतर ब्रांड के कारण सफलता की ऊंचाइयों को छू रही है।

इसकी कुछ सहायक कम्पनियाँ भी है जो शाओमी MI के साथ मिलकर अपने नए फीचर्स वाले ब्रांड्स को बाजार में उतारती है। शाओमी (Xiaomi) की सबसे अच्छी सहायक कंपनीयां RedMI, VioMI,  Blackshark आदि है। ये सभी कम्पनियाँ आपस में मिलकर tablet, computer, laptop,  smartphone के साथ विभिन्न प्रकार के Home appliances भी उपलब्ध करातीं है।

mi कंपनी की प्रसिद्धि Popularity of MI company

आज विश्व में कई मोबाइल कंपनी है जिनमें से बहुत कंपनी अपने बेहतरीन गुणवत्ता वाले मोबाइल के कारण आज लोकप्रियता की ऊंचाईंयों को छू रही है तो वहीं कुछ कंपनी अपनी शर्मनाक सर्विस के कारण फ्लॉप भी हो गयीं है।

इसीलिए किसी भी कंपनी मोबाइल के लोकप्रियता का मूल-मन्त्र उसके उप्रोडक्ट की गुणवत्ता तथा कीमत पर निर्भर करता है। आज विश्व में कई ऐसी कंपनी है जो अपने ग्राहकों को सर्वश्रेठ सुविधा उपलब्ध करा रही है। चीनी कंपनी शाओमी के ब्रांड MI ने आज अपनी बेहतर सर्विस एडवांस फीचर्स तथा कम कीमत के कारण स्मार्टफोन बाजारों पर कब्ज़ा कर रखा है।

शाओमी के MI ब्रांड की लोकप्रियता का एक कारण यह भी रहा है की इसने अपने स्टोर्स को भारत तथा अन्य देशों में ज्यादा मात्रा में स्थापित नहीं किये जिससे इनके निवेश की बचत हुई तथा अपने मोबाइल फोन को ऑनलाइन बेचा परिणामस्वरूप उनकी कीमत कम हो गयी और यूज़र्स भी आसानी से खरीद पाए।

और पढ़ें -  जानिए मोबाइल फोन एसएआर वैल्यू क्या है? Mobile Phone SAR Value in Hindi

आज डिजिटल इंडिया और मेक इन इंडिया मूवमेंट बहुत ही उफान पर है आज हर भारतीय चीनी कंपनी के विकल्प के रूप में किसी भारतीय कंपनी की तलाश कर रहा है और भारत के बड़े व्यवसायी जैसे रतन टाटा तथा मुकेश अम्बानी भारत में निर्मित बेहतरीन व सस्ते मोबाइल फ़ोन लॉन्च करने का दावा कर रहे हैं। अब यह भविष्य के गर्त में है की भारत को चीनी कंपनियों का विकल्प कितना जल्दी मिल सकेगा। 

निष्कर्ष Conclusion

इस लेख में आपने जाना MI (Xiaomi) किस देश की कंपनी है? और इसके विषय में पूरी जानकारी। आशा है दी गयी जानकारी आपको सरल और सहायक लगी हो अगर यह लेख आपको पसंद आया हो तो इसे शेयर जरुर करें।

1 thought on “mi किस देश की कंपनी है? Xiaomi के सीईओ, इतिहास, सफलता”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.