मेरे शहर पर निबंध Essay on My City in Hindi – Delhi

मेरे शहर पर निबंध Essay on My City in Hindi – Delhi

मैं पिछले 15 वर्षों से दिल्ली में रह रहा हूँ। ये मेरा शहर है। मेरा जन्म भी यही हुआ और अब मैं यहाँ पर शिक्षा भी प्राप्त कर रहा हूँ। मुझे दिल्ली से बहुत प्यार है। मेरे पिताजी पिछले 30 सालो से यहाँ नौकरी कर रहे हैं। इस शहर ने मुझे और मेरे परिवार को बहुत कुछ दिया है।

मेरे पिताजी को सरकारी नौकरी यही पर मिली। जीविका कमाने का साधन यही मिला जिसके बाद हमारा घर बन सका। मैं दावे से कह सकता हूँ की यह शहर फलने, फूलने और विकास करने के लिए बहुत उपयुक्त है। अब मैं आपको यहाँ की कुछ विशेषताओ के बारे में बताऊंगा।

मेरे शहर पर निबंध Essay on My City in Hindi – Delhi

विभिन्न संस्कृतियों वाला शहर

दिल्ली में आपको भारत के हर हिस्से से लोग मिल जायेंगे। यहाँ पर आपको बंगाल, कश्मीर, पंजाब, बिहार, गुजरात, केरल, तमिलनाडु, ओड़िसा आदि सभी जगहों से लोग मिल जायेंगे। सभी जाति, धर्म के लोग यहाँ पर प्रेम भावना और आपसी मेलजोल से रहते हैं।

इस तरह यहाँ रहने पर विभिन्न सांस्कृतिक पृष्ठभूमि और धर्मों वाले लोगो से मिलने का मौका मिलता है। हमे अनेक तरह की भाषाओं का ज्ञान होता है। अनेक त्योहारों, रीति रिवाजो, खान-पान, परम्पराओं आदि के बारे में पता चलता है।

विभिन्न तरह के पकवानों वाला शहर

विभिन्न प्रदेश के लोग यहाँ पर रहते है इसलिए दिल्ली में आप पूरे देश के लजीज व्यंजनों का लुत्फ़ उठा सकते है। आप दक्षिण भारत, पश्चिम बंगाल, गुजरात, केरल, पंजाब, राजस्थान जैसे राज्यों के लजीज पकवान आप रेस्त्रां और होटलों से ले सकते है। अगर आप खाने-पीने के शौक़ीन है तो आपको दिल्ली जरुर आना चाहिये।

बेहतर परिवहन व्यवस्था

मुझे ये कहते हुए गर्व है कि मेरे दिल्ली शहर की परिवहन व्यवस्था देश में सर्वोत्तम है। यहाँ पर आप ऑटो, कार टैक्सी, बस, मेट्रो ट्रेन से यात्रा कर सकते है। यहाँ की “दिल्ली मेट्रो” ट्रेन आधुनिक सुविधाओं से सजी वातानुकूलित ट्रेन है जिसमे हर यात्री यात्रा करना पसंद करता है। इसमें टिकट बहुत कम होता है और सुविधा अंतर्राष्ट्रीय स्तर की होती है। आज “दिल्ली मेट्रो” दिल्ली का गौरव बन चुकी है।

यहाँ पर “इंदिरा गांधी अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डा” है जो दिल्ली का गौरव है। इस हवाई अड्डे से आप दुनिया के किसी भी शहर के लिए फ्लाईट पकड़ सकते है। यह हवाई अड्डा भारत का सबसे व्यस्त हवाई अड्डा है। दिल्ली से भारत के किसी भी शहर के लिए आप ट्रेन से जा सकते हैं। यहाँ की सड़के बहुत ही अच्छी और साफ सुथरी है। यहाँ रहने वाले लोगो को कोई परेशानी नही होती है।

व्यापर का प्रमुख केंद्र

दिल्ली में अनेक तरह के उद्योग-धंधे फल फूल रहे है। वर्तमान में यहाँ पर चमड़ा, प्लास्टिक से बनने वाले उत्पाद, लोहे से बनने वाली वस्तुएँ, रबर, कागज आदि के कारखाने बने हुए है। इसके अलावा सेवा सेक्टर की बात करे तो दिल्ली में हजारो की संख्या में सरकारी और प्राइवेट कम्पनियां है जो लाखो लोगो को रोजगार देती है।

इस तरह यहाँ पर नौकरी की कोई कमी नही है। पूरे देश से बेरोजगार युवक-युवतियाँ यहाँ पर नौकरी करने आते है। हजारो लाखो मजदूर यहाँ कारखानो में काम करते है। इस तरह दिल्ली सभी को जीविकापार्जन का साधन देती है।

दिल्ली के दर्शनीय स्थल

यहाँ पर कनाट प्लेस, चिड़िया घर, जंतर- मन्तर, लोटस टेम्पल, लाल किला, हुमाऊं का मकबरा, कुतुबमीनार, इंडिया गेट, अक्षर धाम मन्दिर, संसद भवन, राष्ट्रपति भवन, लोदी गार्डन, पुराना किला, चाँदनी चौक, लक्ष्मीनारायण मन्दिर, कैथेड्रल चर्च आफ रिडेम्पशन, इस्कॉन मन्दिर, जामा मस्जिद, नेशनल म्यूजियम, राज घाट, शांति भवन, नेशनल रेल म्यूजियम जैसी जगह है जो देखने के लिए बहुत उपयुक्त है।

Loading...

इन स्थानों को देखकर आपको बहुत मजा आएगा। आपको बहुत तरह की जानकारी प्राप्त होगी। इसके अलावा दिल्ली में अनेक तरह के धार्मिक स्थल जैसे- निजामुद्दीन औलिया की दरगाह, दिगम्बर जैन लाल मन्दिर जैसी जगह है।

राजनीति का केंद्र 

मेरा शहर दिल्ली भारत देश की राजधानी है। यह पूरे देश की राजनीति का केंद्र है। यहाँ पर केंद्र सरकार है जो पूरे देश को चलाती है। संसद भवन में देश भर से सांसद आते है जो देश के विकास और तरक्की, सुविधाओं, समस्याओं, आने वाली सरकारी योजनाओं के बारे में चर्चा करते है।

विभिन्न तरह के कानून बनाये जाते है। केंद्र सरकार के द्वारा विभिन्न राज्यों को खर्च के लिए बजट दिया जाता है इसलिए दिल्ली का महत्व कभी भी कम नही हो सकता है।

मनोरंजन के पर्याप्त साधन

मेरे शहर “दिल्ली” में मनोरंजन के पर्याप्त साधन मौजूद है। यहाँ देश के सर्वश्रेष्ठ तकनीक वाले सिनेमघर है जहाँ पर आप कोई भी फिल्म देख सकते है। पीवीआर, बिग सिनेमास, कार्निवाल सिनेमा, सिनेपोलिस, आईनोक्स, डीटी, वेव, जैसे सिनेमास है जहाँ पर आप हिंदी, इंग्लिश कोई भी फिल्म देख सकते है।

इसके अलावा घूमने, टहलने और वक्त बिताने के लिए यहाँ पर 100 से भी अधिक माल्स है जहाँ पर आप देशी से लेकर विदेशी ब्रांड तक की चीजे, कपड़े, जूते, गहने, खाने-पीने की चीजे, खिलौने, किताबे, सब कुछ खरीद सकते है। अगर आप प्रकृति के पास जाना चाहते है तो दिल्ली के चिड़िया घर में जाकर आप विभिन्न तरह के पशु- पक्षी और जानवर देख सकते है।

स्वास्थ्य सुविधायें

मेरे शहर में हर तरह की स्वास्थ्य सुविधा है। आल इंडिया इंस्टिटयूट ऑव मेडिकल साइंसेज़ (ऐम्स), सफदरजंग अस्पताल, सर गंगाराम, राममनोहर लोहिया, लेडी हार्डिंग, होली फैमिली, फोर्टिस एस्कॉर्ट हार्ट इंस्टीट्यूट, माता चन्नन देवी, लोक नायक अस्पताल, मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज, अपोलो, जी बी पंत, गुरु तेग बहादुर, रेड क्रास सोसाइटी, दीनदयाल उपाध्याय जैसे अच्छे अस्पताल है जहाँ पर आप किसी भी रोग का उपचार करवा सकते हैं।

दिल्ली में देश भर से असाध्य रोगी इलाज करवाने के लिए आते है। यहाँ पर सबसे अच्छी दवायें, मशीने, दवायें और अन्य संसाधन मौजूद है। इसके अलावा चिकित्सा क्षेत्र में नई नई रिसर्च भी यहाँ के अस्पतालों में होती रहती है। देश भर से छात्र छात्राएं यहाँ डॉक्टरी की पढ़ाई करने आते हैं।

अंतराष्ट्रीय राजनीति का केंद्र

मेरे शहर “दिल्ली”में रूस, अमेरिका, जर्मनी, फ्रांस, इटली, कनाडा, जापान, चीन जैसे सभी प्रमुख देशो के दूतावास बने हुए है। विदेशो से राजनयिक यहाँ आते है और इस तरह भारत का विदेशी देशो से सम्बन्ध और मजबूत होता है।

इस तरह कह सकते है की दिल्ली अंतराष्ट्रीय राजनीति का केंद्र है। विदेश व्यापार, नीतियों आदि के बारे में चर्चा की जाती है। पासपोर्ट ऑफिस में जाकर लोग पासपोर्ट बनवा सकते है। इसके अलावा किसी भी देश के दूतावास पर जाकर वीसा प्राप्त कर सकते हैं।

शिक्षा का प्रमुख केंद्र

दिल्ली में अनेक अच्छे कॉलेज है जहाँ पर बेहतर शिक्षा पाने के लिए विद्दार्थी देश भर से आते हैं। यहाँ का सेंट स्टीफेंस कॉलेज, लेडी श्री राम कॉलेज ओंफ कॉमर्स, हिंदू कॉलेज, हसंराज कॉलेज, मिरांडा हाउस कॉलेज, शहीद सुखदेव कॉलेज, रामजस कॉलेज, इन्द्रप्रस्थ कालेज, किरोड़ीमल कॉलेज, दौलतराम कॉलेज जैसे प्रसिद्द कालेज है जहाँ पर हर तरह का कोर्ष और पाठ्यक्रम पढ़ा जा सकते है। यहाँ पर विदेशी भाषाये भी सिखाई जाती है।

फैशन का केंद्र

दिल्ली में राष्ट्रीय फैशन टेक्नोलोजी संस्थान है। इतना ही नही सभी नये तरह के वस्त्र, परिधान, साजो सामानो, लक्सरी वस्तुऐ सबसे पहले यही पर लांच किये जाते है। दिल्ली के फैशन को पूरे देश में फालो किया जाता है। सभी लड़के- लड़कियाँ यहाँ के कपड़ों को पहनना पसंद करते है।

निष्कर्ष

आज के लेख में मैंने आपको अपने शहर “दिल्ली” के बारे में विस्तार से बताया है। मेरा शहर दिल्ली न सिर्फ मेरी बल्कि पूरे देश की शान है। मुझे अपने शहर से बहुत प्यार है। अगर आप भी यहाँ घूमने का मन बना रहे है तो आप जहाँ जरुर आयें। आपको यहाँ आकर बहुत अच्छा लगेगा। ये निबंध आपको कैसा लगा जरुर बताये।

Loading...

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.